News Nation Logo
Banner

अलर्ट: ऑनलाइन ठगी का शिकार हो रहे एयरटेल और वोडाफोन के कस्टमर, जानिए कैसे रहें सुरक्षित?

नोटबंदी के बाद से डिजिटल पेमेंट का चल जिस तरह से बढ़ता जा रहा है, वैसे वैसे ही ऑनलाइन फ्रॉड की घटनाएं भी तेज होती जा रही हैं।

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 10 Jun 2021, 02:43:48 PM
airtel vodaphone

Airtel and Vodafone (Photo Credit: NN)

highlights

  • डिजिटल पेमेंट का चलन बढ़ने के साथ ही ऑनलाइन फ्रॉड की घटनाएं भी तेज 
  •  एयरटेल सीईओ गोपाल विट्टल ने टेलिकॉम ऑपरेटर्स से साइबर ठगी से बचने को कहा
  • टेलिकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने यूजर्स को मैसेज भी भेजने शुरू कर दिए

नई दिल्ली:

नई दिल्ली। नोटबंदी के बाद से डिजिटल पेमेंट का चल जिस तरह से बढ़ता जा रहा है, वैसे वैसे ही ऑनलाइन फ्रॉड की घटनाएं भी तेज होती जा रही हैं। इसकी का तनीजा है कि एयरटेल के सीईओ गोपाल विट्टल को हाल ही आगे आकर सभी टेलिकॉम ऑपरेटर्स से साइबर ठगी से बचने की चेतावनी देनी पड़ी। विट्टल ने स्पष्ट कहा कि इन दिनों ऑनलाइन हैकिंग के मामले जोर पकड़ते जा रहे हैं, बहुत से लोग इस साइबर क्राइम का शिकार हो रहे हैं। इसलिए ओटीपी स्कैम से हर हालत में बचना होगा। यही नहीं सिक्योरिटी रिसर्चर्स ने भी साफ कह दिया है कि ऐप्स के जरिए यूजर्स का महत्वपूर्ण डेटा लीक हो रहा है।  

यह भी पढ़ें : Good News: OnePlus 8T की कीमत में गिरावट, जानिए भारत में क्या होगा फोन का नया रेट?

मैसेज के माध्यम से कस्टमर केयर को कॉल करने की बात

दरअसल, टेलिकॉम ऑपरेटर्स को फोन पर तरह-तरह के मैसेज मिल रहे हैं। इन मैसेज का मकसद ऑपरेटर्स को किसी तरह अपने जाल में फंसाना होता है। जानकारों की मानें तो ऑपरेटर्स पर अब केवाईसी वेरिफिकेशन जैसे कई मैसेज आ रहे हैं। इन मैसेजेस में लिखा रहता है कि अगर कोई कस्टर केवाईसी को कंप्लीट नहीं करता तो 24 घंटे के भीतर उसका नंबर बंद कर दिया जाएगा। इस तरह के मैसेज जियो, वोडाफोन और एयरटेल के यूजर्स को अधिक मिल रहे हैं। इन मैसेज के माध्यम से कस्टमर केयर को कॉल करने की बात कही जाती है और कई भोले-भाले यूजर्स ऐसा कर बैठते हैं। यहां तक कि कई यूजर्स ने तो माइक्रो नेटवर्किंग साइट ट्विटर तक पर इस साइबर ठगी के बारे में मैसेज डालकर अन्य यूजर्स को सचेत किया है। 

आपको बता दें कि अगर टेलिकॉम कंपनियों के नाम पर आपसे केवाईसी जैसे कोई पूछताछ की जाती है तो ये अधिकारिक चैनल के माध्यम से किया जाता है, ना कि किसी अजनबी नंबर के जरिए। ऐसे में यूजर्स को ध्यान रखना चाहिए कि किसी अननॉन नंबर से भेजा गया कोई लिंक या नंबर पर क्लिक न करें और न ही उन पर किसी तरह का ध्यान दें। 

यह भी पढ़ें : सावधान: बच्चों में ये लक्षण हो सकते हैं कोरोना के संकेत, जानिए घर पर कैसे करें बचाव

जानिए कैसे रहे सुरक्षित

गौरतलब है कि टेलिकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने यूजर्स को जागरुक करने के लिए मैसेज भी भेजने शुरू कर दिए है। इस मैसेज में कहा जा रहा है कि अगर आपको पास कोई अननॉन लिंक आता है तो उस पर क्लिक न करें। क्योंकि  यह आपको अपने जाल में फंसाने की महज एक साजिश होती है। अगर आप उनके जाल में फंस गए तो आपको भारी नुकसान का सामना करना पड़ सकता है। 

First Published : 10 Jun 2021, 02:39:10 PM

For all the Latest Utilities News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.