News Nation Logo
Banner

कूचबिहार हिंसा के पीड़ित परिवारों से मिलीं ममता बनर्जी, बोलीं- किसी को नहीं छोड़ेंगे

कूचबिहार (Cooch Behar) जिले की सीमाओं में प्रवेश करने से रोक के चुनाव आयोग (Election Commission) द्वारा निर्धारित समय सीमा समाप्त होने के बाद ममता बनर्जी ने पीड़ितों के परिवारों से मुलाकात की.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 14 Apr 2021, 05:02:00 PM
Mamata Banerjee

कूचबिहार में पीड़ित परिवारों से मिलीं ममता बनर्जी, कही जांच की बात (Photo Credit: ANI)

highlights

  • ममता बनर्जी आज कूचबिहार पहुंचीं
  • हिंसा के पीड़ित परिवारों से की मिलीं
  • ममता बनर्जी ने दिया जांच का भरोसा

कूचबिहार:

पश्चिम बंगाल (West Bengal) में विधानसभा चुनाव को लेकर मचे सियासी घमासान के बीच मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) बुधवार को कूचबिहार पहुंचीं. कूचबिहार (Cooch Behar) जिले की सीमाओं में प्रवेश करने से रोक के चुनाव आयोग (Election Commission) द्वारा निर्धारित समय सीमा समाप्त होने के बाद ममता बनर्जी ने सीतलकुची में मारे गए पीड़ितों के परिवारों से मुलाकात की. पीड़ित परिजनों को इस दौरान ममता ने जांच का भरोसा दिया. टीएमसी की मुखिया ममता बनर्जी ने कहा कि बंगाल में सरकार के गठन के बाद हम इस घटना की जांच करेंगे.

यह भी पढ़ें: ...ये हुआ तो बंगाल में ऐसी आग लगेगी, जिसे कोई रोक नहीं सकता, रैली में बोले राहुल गांधी

पीड़ित परिवारों से मुलाकात के बाद टीएमसी की मुखिया ने कहा कि परिवार के साथ संवेदना रखती है. हम बुलेट के बदले बैलेत से जवाब देंगे. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, 'मैं सीतलकुची में मारे गए पांच लोगों के परिवार के सदस्यों से मिली हूं. वे इतनी कोमल उम्र में मारे गए हैं. मुझे लगता है कि घटना की जांच होनी चाहिए. जो दोषी हैं उन्हें दंडित किया जाना चाहिए. चुनाव खत्म हो जाने दीजिए. राज्य सरकार घटना की जांच करेगी. मृतक के परिवार को न्याय मिलेगा. हम किसी को भी नहीं बख्शेंगे.'

आपको बता दें कि 10 अप्रैल को बंगाल में चौथे चरण के मतदान के दौरान बंगाल के सीतलकुची में केंद्रीय बलों द्वारा की गई गोलीबारी में चार लोग मारे गए थे. पिछले शनिवार को गोलीबारी में मारे गए चार लोगों की पहचान अमजद हुसैन (28), चालमू मियां (23), जोबेद अली (20) और नामिद मिया (20) के रूप में हुई है. ममता ने कूचबिहार की घटना के लिए प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री को जिम्मेदार बताया था. साथ ही सीआरपीएफ पर भी आरोप लगाए थे.

यह भी पढ़ें: किसानों को ज्यादा से ज्यादा फायदा दिलाने के लिए मोदी सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम

ममता बनर्जी इस हिंसा के अगले दिन ही कूचबिहार जाना चाहती थीं. हालांकि चुनाव आयोग ने उनके दौरे पर रोक लगा दी थी. जिसके बाद ममता बनर्जी चुनाव आयोग पर भी बिफर पड़ी थीं. हालांकि उधर, बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने ममता बनर्जी की आलोचना करते हुए कहा कि वह सीतलकुची में धार्मिक तर्ज पर राजनीति कर रहे हैं.

First Published : 14 Apr 2021, 05:02:00 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो