News Nation Logo

भारतीय जनता पार्टी धार्मिक आधार पर भेदभाव नहीं करती है : दिलीप घोष

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 08 Nov 2020, 11:06:25 PM
Dilip Ghosh

दिलीप घोष (Photo Credit: फाइल )

नई दिल्ली:  

भारतीय जनता पार्टी की बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने रविवार को जोर देकर कहा कि भगवा पार्टी धार्मिक आधार पर भेदभाव नहीं करती है और मुस्लिम समुदाय के लोगों को आश्वस्त किया कि मोदी की अगुवाई वाली केंद्र की राजग सरकार के अधीन उन्हें भी समान अधिकार प्राप्त हैं . प्रदेश के पूर्वी मेदिनीपुर जिले के हल्दिया में आयोजित एक रैली में कहा कि यह केवल भाजपा ही है, जो इस विचारधारा को मानती है . अगले साल राज्य में अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनावों के आलोक में (घोष का यह बयान) महत्वपूर्ण है. घोष ने कहा, 'योजनाओं का लाभ देने के लिये हम व्यक्ति की हैसियत, उसके राजनैतिक जुड़ाव आदि को देख कर अलग-अलग नीतियों का पालन नहीं करते हैं .'

उन्होंने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विभिन्न योजनाओं से बंगाल के मुस्लिम लाभान्वित हुये हैं. इसमें कोई भेदभाव नहीं है, जैसा कि तृणमूल कांग्रेस सरकार करती है.' भाजपा नेता ने कहा, 'आप (मुस्लिम) सम्मानित नागरिक हैं और आपको वे सब अधिकार प्राप्त हैं जो दिलीप घोष के पास है और केवल भारतीय जनता पार्टी इस विचारधारा को मानती है .' घोष प्रदेश के परिवहन मंत्री सुवेंदु अधिकारी के गढ़ में बोल रहे थे, जो काफी समय से सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के नेताओं के साथ दूरी बनाए हुए हैं और पार्टी की कई महत्वपूर्ण बैठकों में शामिल नहीं हुए हैं. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अतीत में अल्पसंख्यक समुदाय के खिलाफ अत्यंत मुखर रहे हैं, खास तौर से बांग्लादेश के क​थित मुस्लिम घुसपैठियों के बारे में.

यह भी पढ़ें-दिलीप घोष बोले- NRC के लिए BJP प्रतिबद्ध, बंगाल से एक करोड़ अवैध बांग्लादेशियों को भेजेंगे वापस

उन्होंने आरोप लगाया कि बंगाल में शासन करने वाले राजनैतिक दलों ने चाहे यह माकपा की अगुवाई वाला वाम मोर्चा हो या कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस, सबने मुसलमानों को अशिक्षित, बेरोजगार और गरीब बना कर उनका इस्तेमाल वोट बैंक के रूप में किया . राज्य की ममता बनर्जी नीत सरकार पर लोगों के साथ भेदभाव करने का जिक्र करते हुये घोष ने कहा, प्रदेश की तृणमूल कांग्रेस सरकार ने राज्य में इमामों को दो हजार रुपये वजीफा के तौर पर देने की घोषणा की थी. हिंदुओं के नाराज होने की बात महसूस करने के बाद उन्होंने पुजारियों को 1,000-1000 रुपये की घोषणा की. यह भेदभाव क्यों.

यह भी पढ़ें-वीडियो से साबित होता है कि पुलिस ने भाजपा की रैली पर बम फेंका: दिलीप घोष

घोष ने भरोसा जताया कि 2021 में होने वाले विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी प्रदेश की 294 सीटों में से 200 सीटों पर जीत हासिल करेगी . राज्य के दौरे पर हाल ही में आये केंद्रीय गृह मंत्री एवं भाजपा के शीर्ष नेता अमित शाह ने बृहस्पतिवार को राज्य में 200 सीटें जीतने का लक्ष्य तय किया है. शाह ने भाजपा कार्यकर्ताओं से कहा था कि इस लक्ष्य को हासिल करने के लिये वह कठिन मेहनत करने का संकल्प लें . तृणमूल कांग्रेस नेता एवं लोकसभा सदस्य सौगत रॉय ने कहा कि प्रदेश में सत्ता में आने का घोष का सपना कभी साकार नहीं होगा और वह हमेशा निराधार टिप्पणी करने के लिये प्रसिद्ध हैं . 

First Published : 08 Nov 2020, 11:05:40 PM

For all the Latest States News, West Bengal News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.