News Nation Logo
Banner

उत्तराखंडः राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी पहुंच रहे हैं देहरादून

जानकारी के मुताबिक अनिल बलूनी (Anil Baluni) का ये दौरा अचानक तय किया गया है. कल देर रात तक ऐसा कोई प्लान नहीं था. लेकिन आज उनके देहरादून पहुंचने की खबर सामने आ रही है. देहरादून में बलूनी विधान मंडल दल की बैठक में भी शामिल हो सकते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 03 Jul 2021, 09:25:45 AM
Anil Baluni

Anil Baluni (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • उत्तराखंड में एक बार फिर गरमाई राजनीति
  • महज 115 दिन बाद तीरथ सिंह रावत ने दिया CM पद से इस्तीफा
  • आज चुना जा सकता है नया मुख्यमंत्री

नई दिल्ली:  

उत्तराखंड में अगले साल होने जा रहे विधानसभा चुनावों से पहले उत्तराखंड वासियों को एक बार फिर नया मुख्‍यमंत्री मिलने जा रहा है. महज 115 दिन उत्तराखंड (Uttarakhand) के मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालने वाले तीरथ सिंह रावत (Tirath Singh Rawat) ने शुक्रवार को नाटकीय घटनाक्रम के तहत संवैधानिक बाध्यताओं के चलते इस्तीफा दे दिया. इसके बाद आज (शनिवार) दोपहर 3 बजे होने वाली विधायक दल की बैठक में अगले मुख्यमंत्री (Chief Minister) का चयन होने की संभावना है. इस बीच खबर आ रही है कि राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी (Rajya Sabha MP Anil Baluni) आज देहरादून पहुंच रहे हैं.

ये भी पढ़ें- जम्मूः रघुनाथ मंदिर समेत कई अन्य धार्मिक स्थलों को उड़ाना चाहता थे आतंकी

जानकारी के मुताबिक अनिल बलूनी का ये दौरा अचानक तय किया गया है. कल देर रात तक ऐसा कोई प्लान नहीं था. लेकिन आज उनके देहरादून पहुंचने की खबर सामने आ रही है. देहरादून में बलूनी विधान मंडल दल की बैठक में भी शामिल हो सकते हैं. तीरथ सिंह रावत इसी साल मार्च में मुख्यमंत्री बनाए गए थे. तीरथ सिंह रावत ने अपने इस्तीफे पर कहा कि राज्यपाल के यहां अपना इस्तीफा देकर आ रहा हूं. राज्य में संवैधानिक संकट खड़ा हो गया था, जिसकी वजह से मुझे इस्तीफा देना ही उचित लगा. 

ये भी पढ़ें- Rafale सौदे की फ्रांस करा रहा न्यायिक जांच, जज भी नियुक्त

तीरथ सिंह रावत ने कहा कि मैं केंद्र का आभारी हूं कि मुझे समय-समय पर विभिन्न जिम्मेदारियां दी गईं. मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और सभी सीनियर लीडर्स का धन्यवाद करना चाहूंगा. तीरथ सिंह रावत के बाद अब बीजेपी आलाकमान को राज्य में विधायक दल के नए नेता के नाम का एलान करना है. राजनीतिक जानकारों की मानें तो इस बार किसी राजपूत जाति से नए नेता का चुनाव किया जा सकता है. इसके साथ ही आलाकमान को पिछली गलती से सबक लेते हुए यह भी देखना होगा कि नया नेता विधानसभा का सदस्य भी जरूर हो. फिलहाल राज्य में नए सीएम को लेकर सियासी पारा चढ़ा हुआ है.

First Published : 03 Jul 2021, 09:13:08 AM

For all the Latest States News, Uttarakhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.