News Nation Logo
Breaking
पहले बड़े मंगल के मौके पर लखनऊ में बजरंगबली के मंदिरों पर दर्शनार्थियों की भीड़ मैरिटल रेप का मामला SC पहुंचा, याचिकाकर्ता खुशबू सैफी ने दिल्ली HC के फैसले को SC में चुनौती दी मुंबई : कार्तिक चिदंबरम और उनसे जुडे ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी दिल्ली : कुतुबमीनार के कुव्वुतुल इस्लाम मस्जिद मामले की याचिका पर साकेत कोर्ट में सुनवाई टली मथुरा जिला अदालत में एक और याचिका, शाही ईदगाह मस्जिद को सील करने की मांग दाऊद के करीबी और 1993 मुंबई धमाकों के वॉन्टेड आरोपियों को गुजरात ATS ने पकड़ा हरिद्वार हेट स्पीच मामला : जितेंद्र नारायण सिंह त्यागी उर्फ़ वसिम रिज़वी को 3 महीने की अंतरिम जमानत जम्मू : म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन में गैर कानूनी लाउडस्पीकर बैन के प्रस्ताव के पारित होने पर हंगामा चिंतन शिविर के बाद हरियाणा कांग्रेस की कोर टीम आज शाम राहुल गांधी से करेगी मुलाकात वाराणसी कोर्ट में आज ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश नही होगी, तीन दिन का और समय मांगा जाएगा राजस्थान : पुलिस कांस्टेबल भर्ती में 14 मई की द्वितीय पारी की परीक्षा दोबारा ली जाएगी जम्मू कश्मीर : राजौरी इलाके के कई वन क्षेत्रों में भीषण आग, बुझाने में जुटे फायर टेंडर्स
Banner

जम्मूः रघुनाथ मंदिर समेत कई अन्य धार्मिक स्थलों को उड़ाना चाहता थे आतंकी

जम्मू  मेंIED रिकवरी मामले में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. पहले पकड़े गए आतंकी नदीम से पूछताछ के बाद 2 और लोगों को गिरफ्तार किया गया है. पकड़े गए लोगों के नाम नदीम अयूब राथर और तालिब उर रहमान जो शोपियां और बनिहाल के रहने वाले हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 03 Jul 2021, 09:22:19 AM
jammu

जम्मू IED रिकवरी मामले में मिली बड़ी कामयाबी, दो लोग गिरफ्तार (Photo Credit: न्यूज नेशन)

जम्मू:  

जम्मू  में IED रिकवरी मामले में पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है. पहले पकड़े गए आतंकी नदीम से पूछताछ के बाद 2 और लोगों को गिरफ्तार किया गया है. पकड़े गए लोगों के नाम नदीम अयूब राथर और तालिब उर रहमान जो शोपियां और बनिहाल के रहने वाले हैं. पुलिस की जांच में इन लोगों ने खुलासा किया है कि इन्होंने अपने हैंडलर के कहना पर बनिहाल में IED ब्लास्ट करने की योजना बनाई थी. इनके टारगेट पर जम्मू के धार्मिक स्थल थे. नदीम को पुलिस ने जम्मू के नरवाल इलाके से उसी दिन गिरफ्तार किया था जिस दिन एयरफोर्स स्टेशन पर ड्रोन हमला हुए था. 

यह भी पढ़ेंः 'लद्दाख में चीन वचन से मुकरा तो भारत बढ़ाएगा सेना और संसाधन'

जांच में खुलासा हुआ है कि टीआरएफ का आतंकी नदीम-उल-हक जम्मू के रघुनाथ मंदिर समेत कई अन्य प्रमुख धार्मिक स्थलों को उड़ाना चाहता था. बनिहाल से जम्मू पहुंचे नदीम को शोपियां और पीओके में बैठे टीआरएफ के हैंडलरों ने यह टास्क दिया था. उसे बताया गया था कि जम्मू पहुंचकर उसको आईईडी मिल जाएगी और इसके बाद वह इसे धार्मिक स्थलों पर लगाकर धमाके करेगा. नदीम से हो रही पूछताछ में इस बात का खुलासा हुआ है. हालांकि, इसकी कोई पुष्टि नहीं की गई है. बता दें पुलिस ने खुद कहा था कि नदीम शहर में कई प्रमुख स्थानों पर आईईडी से धमाके करने की फिराक में था. लेकिन समय रहते ही उसे दबोच लिया गया. वहीं पुलिस यह भी पता लगा रही है कि आखिर वो कौन शख्स था, जिसने नदीम को आईईडी से भरा बैग दिया है. इसका सुराग हाथ नहीं लग पा रहा है. पुलिस ने कई जगहों की सीसीटीवी फुटेज ली है.

यह भी पढ़ेंः कैप्टन अमरिंदर सिंह ने क्यों चला पंजाब में हिंदू कार्ड ?

आतंकी संगठनों द्वारा रची जा रही साजिश के मद्देनजर जम्मू प्रांत में सभी प्रमुख धर्मस्थलों की सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ाया गया है. उल्लेखनीय है कि जम्मू के विश्वविख्यात रघुनाथ मंदिर पर पहले भी दो बार आतंकी हमला कर चुके हैं. नदीम को पाकिस्तान में बैठे टीआरएफ कमांडर उमर खालिद और रिहान ने जम्मू में बम धमाकों का जिम्मा सौंपा था. अगर वह निर्धारित जगह पर आइईडी धमाके में कामयाब रहता तो उसे न सिर्फ टीआरएफ में कमांडर का दर्जा दिया जाता, बल्कि दो लाख रुपये का नकद इनाम भी मिलता. वह वॉट्सऐप और इंटरनेट मीडिया के जरिए कश्मीर में और गुलाम कश्मीर बैठे आतंकी कमांडरों के साथ लगातार संपर्क में था.

First Published : 03 Jul 2021, 09:05:37 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Terrorist IED Jammu