News Nation Logo

बल्लभगढ़ कांड पर भड़के बाबा रामदेव, बोले- हत्यारों को चौराहे पर दी जाए फांसी

Nikita Murder Case: निकिता तोमर हत्याकांड को लेकर योग गुरु स्वामी रामदेव (Swami Ramdev) ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. उन्‍होंने कहा कि लव जिहाद (Love Jihad) के दोषियों को जब तक चौराहों पर फांसी नहीं दी जाती तब तक अपराध नहीं रुकेंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 30 Oct 2020, 02:20:47 PM
Swami Ramdev

स्वामी रामदेव (Photo Credit: फाइल फोटो)

हरिद्वार:

बल्लभगढ़ के निकिता तोमर हत्याकांड को लेकर लोगों को विरोध बढ़ता जा रहा है. इस मामले में अब योग गुरु स्वामी रामदेव (Swami Ramdev) की तीखी प्रतिक्रिया सामने आई है. उन्होंने इस मामले में शर्मनाक बताते हुए कहा कि निकिता तोमर हत्याकांड (Nikita Murder Case) के आरोपियों के लिए सार्वजनिक रूप से फांसी की सजा मिलनी चाहिए जिससे ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति को रोका जा सके. रामदेव ने कहा कि ऐसे जघन्य अपराधों से भारत व भारत माता कलंकित हो रही है.

यह भी पढ़ेंः गुर्जर आंदोलनः करौली और भरतपुर में इंटरनेट सेवा बंद, हर गतिविधि पर नजर

बीच चौराहे पर दी जाए फांसी 
पंतजलि योगपीठ में आयोजित एक कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से बातचीत में रामदेव ने कहा कि जब तक दोषियों को चौराहों पर फांसी जैसी सजा नही दी जाएगी,तब तक सरे बाजार होने वाले ऐसे अपराध नहीं रुक पाएंगे. उन्होंने केंद्र सरकार और राज्य सरकारों से लव जिहाद को लेकर कडे़ कानून बनाने के साथ अपराधियों से सख्ती से निपटने की भी मांग की है. इसके साथ उन्होंने इस संबंध में इस्लामिक गुरुओं और मौलवियों से भी लव जिहाद का खिलाफत करने को कहा, ताकि समाज मे हो रहे जघन्य अपराधों को रोका जा सके.

यह भी पढ़ेंः भोपाल में फ्रांसीसी राष्ट्रपति के खिलाफ प्रदर्शन, CM शिवराज के तेवर सख्त

क्या था मामला 
फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में मंगलवार को बीकॉम की छात्रा निकिता तोमर की दिनदहाड़े हत्‍या कर दी गई. पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई. जांच में आरोपी के कांग्रेस विधायक के रिश्‍तेदार होने की बात सामने आई थी. पुलिस ने मुख्य आरोपी तौसीफ को गिरफ्तार कर लिया. 21 साल की आरोपी तौफीक फिजियोथैरेपी का कोर्स कर रहा है.यही नहीं, तौसीफ और निकिता दोनों फरीदाबाद के एक स्‍कूल में साथ पड़े थे. निकिता 12वीं की बोर्ड टॉपर्स में थी और सिविल सविर्सिज एग्‍जाम की तैयारी कर रही थी. 2018 में स्‍कूल खत्‍म होने के बाद दोनों अलग-अलग कॉलेज में पढ़ने लगे.

जांच में सामने आया कि तौफीस निकिता के अपरहण का प्रयास कर रहा था. जब निकिता ने उसके साथ कार में बैठने से इनकार कर दिया को तौफीस ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी.  निकिता के पिता ने बताया कि तौसीफ कई सालों से उनकी बेटी पर धर्म परिवर्तन कर उससे शादी करने का दबाव बना रहा था.  

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 30 Oct 2020, 02:20:47 PM

For all the Latest States News, Uttarakhand News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.