News Nation Logo
Banner

योगी सरकार माफियाओं पर सख्त, मुख्तार-अतीक समेत इन अपराधियों पर कसा शिकंजा

यूपी सरकार की माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई लगातार जारी है एक तरफ जहां बाहुबली मुख्तार और अतीक की अवैध संपत्तियां या तो जब्त कर ली जा रही है जमीदोज की जा रही हैं.

Written By : Nikhil sharma | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 11 Oct 2020, 04:49:32 PM
Yogi Adityanath

योगी सरकार माफियाओं पर सख्त, मुख्तार-अतीक समेत इन अपराधियों पर शिकंजा (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली :

यूपी सरकार की माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई लगातार जारी है एक तरफ जहां बाहुबली मुख्तार और अतीक की अवैध संपत्तियां या तो जब्त कर ली जा रही है जमीदोज की जा रही हैं. वहीं, राम सिंह यादव और खान मुबारक जैसे अपराधी भी सरकार के राडार पर हैं.

उत्तर प्रदेश में माफियाओं के खिलाफ जो अभियान चलाया है, उसने उनकी कमर तोड़कर रख दी है.  बाकायदा सरकार ने माफियाओं की एक लिस्ट बनाई है. योगी सरकार इस लिस्ट में सबसे ऊपर बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी का नाम है. 

अपराधियों की 266 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्तियां जब्त की

एक अनुमान के मुताबिक अब तक अपराधियों की 266 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्तियां जब्त की हैं, जिनमें मुख्तार अंसारी की करीब 66 करोड़ रुपये की संपत्ति शामिल है. इसके अलावा माफिया पूर्व सांसद अतीक अहमद की भी करीब 60 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई है.

इसे भी पढ़ें:'योगी राज' में उत्तर प्रदेश में 20 साधुओं की हुई हत्या, कांग्रेस ने एक-एक घटना गिनाई

उत्तर प्रदेश पुलिस ने माफिया मुख्तार अंसारी और उसके गुर्गों के अवैध स्लाटर हाउस पर भी कार्रवाई की है. अब तक उनके कब्जे से करीब 50 बीघा सरकारी जमीन मुक्त करायी गई है. मुख्तार के कुनबे के 21 शस्त्र लाइसेंस निरस्त कराए गए हैं. 

अतीक की अब तक छह संपत्तियों की कुर्की कराई गई है

अतीक अहमद के 39 गुर्गों की हिस्ट्रीशीट खोलने के साथ अतीक की अब तक छह संपत्तियों की कुर्की कराई गई है. कुख्यात अपराधी खान मुबारक के पांच शस्त्र लाइसेंस निरस्त कराने के अलावा गैंगेस्टर एक्ट के तहत उसकी करीब तीन करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की गई है. तो वही माफिया राम सिंह यादव शिकंजा कसता जा रहा इनाम बढ़ा कर 25 से 50 हजार कर दिया गया है  83 करोड़ से अधिक सम्पत्त सीज की गई है.

कांग्रेस ने कार्रवाई पर उठाया सवाल 

हालांकि विपक्ष सरकार की इस कार्रवाई पर सवाल खड़ा किया. कांग्रेस का कहना है कि जो बीजेपी का विरोध कर रहा है सरकार बस उसी के खिलाफ कार्रवाई कर रही है. बहुत सारे माफिया ऐसे हैं जो भारतीय जनता पार्टी में है लेकिन सरकार उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है.

उत्तर प्रदेश में अपराध काफी कम हो जाएगा

माफियाओं के खिलाफ चल रहे सरकार के इस अभियान को पूर्व पुलिस अधिकारी एक सराहनीय कदम बता रहे हैं. उत्तर प्रदेश के डीजीपी रहे एके जैन का कहना है कि सब यहां से एक तरफ जहां मौजूदा अपराधियों की कमर टूटेगी तो वही इन लोगों से प्रेरित होकर युवा जो अपराध की जगत में कदम रख रहे थे उनके मन में भी भय होगा. अगर इसी तरह अभियान चलता रहा तो उत्तर प्रदेश में अपराध काफी कम हो जाएगा. 

और पढ़ें: करौली पुजारी हत्या मामले में रजनी पाटिल ने राहुल-प्रियंका का किया बचाव, कही ये बात

सरकार की इस कार्रवाई से एक बात तो साफ है कि बीते कुछ दिनों में सरकार के बुलडोजर से लोगों को डर लगने लगा है. चाहे माफिया हो या फिर भू-माफिया.  सरकार की मंशा भी यही है कि अपराध करने वालों या अपराधिक इतिहास वालों के खिलाफ इतनी सख्त कार्रवाई कर दी जाए कि दोबारा यह अपना सर ना उठा सके.

First Published : 11 Oct 2020, 04:49:32 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो