News Nation Logo
Banner

हाथरस पर बोले CM योगी, 'साजिश रचने वालों के खिलाफ की जाएगी कानूनी कार्रवाई '

हाथरस मामले पर एक बार फिर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का बयान सामने आया हैं. उन्होंने कहा कि हाथरस में एक बड़ी साजिश रची जा रही थी. हम किसी भी तरह की साजिश को सफल नहीं होने देंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 07 Oct 2020, 02:50:15 PM
yogi

cm yogi adityanath (Photo Credit: (फाइल फोटो))

लखनऊ:

हाथरस मामले पर एक बार फिर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का बयान सामने आया हैं. उन्होंने कहा कि हाथरस में एक बड़ी साजिश रची जा रही थी. हम किसी भी तरह की साजिश को सफल नहीं होने देंगे.  सीएम योगी ने बुधवार को उन्नाव के बांगरमऊ सेक्टर और बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं के साथ वर्चुअल संवाद के दौरान ये बातें कहीं. इस दौरान उन्होंने विपक्षी पार्टियों पर हमला बोलते हुए कहा कि विपक्ष हाथरस के मुद्दे पर राजनीति कर रहा है. एक तरफ सरकार विकास के काम में लगी है, वहीं ये लोग षड्यंत्र रच रहे हैं.

सीएम योगी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए आगे कहा कि झूठे नारों पर जाति, क्षेत्र, मत और मजहब के आधार पर समाज को बांटने वाले लोग आज भी अपनी विभाजनकारी मानसिकता से बाज नहीं आ रहे हैं. विकास उन्हें अच्छा नहीं लग रहा है. लोक कल्याण उन्हें अच्छा नहीं लग रहा है. शासन की योजनाएं अच्छी नहीं लग रही हैं, यही कारण है षडयंत्र पर षड्यंत्र रच रहे हैं. रोज नए षड्यंत्र को जन्म देते हैं.

उन्होंने कहा कि इन सभी नमूनों की साजिश और कृत्य जनता के सामने आ रहे हैं. कोई कहता है कि हम दंगा कराएंगे, जाति के आधार पर, कुछ और उधर से मरेंगे, कुछ लोग इधर से मरेंगे.  हमारे नेता आएंगे, उसके बाद जाकर राजनीति करेंगे.

और पढ़ें: कॉल रिकॉर्ड पर परिजनों की सफाई- अनपढ़ थी बहन, फोन चलाना ही नहीं जानती थी

सीएम योगी ने कहा कि एक गरीब की लाश पर राजनीति करने वाले इन चेहरे को पहचाना होगा. देश के लिए और समाज के लिए कितनी विकृत सोच के साथ ये काम कर रहे हैं. कितनी बड़ी साजिश कर रहे हैं. कोरोना से जंग के दौरान इनमें से एक भी चेहरा जनता के बीच नहीं था. ये सब चेहरे लॉकडाउन के दौरान अपनी जान बचाने के लिए अपने घरों में मुंह छिपाए बैठे थे.  जैसे ही अनलॉक लागू हुआ, इन लोगों ने साजिश रचनी शुरू कर दी.

सीएम ने कहा कि हम किसी भी साजिश को सफल नहीं होने देंगे. सभी साजिशकर्ता बेनकाब होंगे. उन्होंने कहा कि सजिश करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी करेंगे. जो लोग समाज के माहौल को खराब करके समाज में जातिय द्वेष पैदा करके, अराजकता पैदा करके विकास कार्य अवरुद्ध करना चाहते हैं लेकिन विकास अवरुद्ध नहीं होगा. उत्तर प्रदेश तेजी के साथ आगे बढ़ रहा है.

ये भी पढ़ें: हाथरस केस: आरोपियों के वकील एपी सिंह का आरोप, कहा- पीड़िता को उसके भाई ने ही मारा

गौरतलब है कि हाथरस के बुलगड़ी गांव में दलित किशोरी के साथ 14 सितंबर को कथित तौर पर ऊंची जाति के लोगों ने गैंगरेप किया था. युवती की 29 सितंबर को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मौत हो गई थी. मौत के बाद परिजनों की रजामंदी के बिना लड़की का अंतिम संस्कार पुलिस ने जबरन रात में करा दिया था, जिसके बाद मामले ने और तूल पकड़ लिया था. प्रधानमंत्री मोदी ने भी सीएम योगी से फोन पर बात कर मामले में सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए थे.

हाथरस कांड में 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर गया है. मामले में कई बड़े पुलिस अधिकारियों पर गाज गिर चुकी है. सरकार ने 2 अक्टूबर को हाथरस के पुलिस अधीक्षक (एसपी), पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी), स्टेशन इंस्पेक्टर और कुछ अन्य अधिकारियों को निलंबित कर दिया था.

First Published : 07 Oct 2020, 02:50:15 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो