News Nation Logo

कोरोनाः कालाबाजारियों पर चला यूपी पुलिस का चाबुक, अब तक 160 लोगों को धरा

यूपी पुलिस ने बताया कि कोरोना काल में कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है. पुलिस ने बताया कि अब तक 160 आरोपी अरेस्ट किए गए हैं. पुलिस ने बताया कि आरोपियों के पास से 62.70 लाख कैश बरामद हुआ है.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 15 May 2021, 08:42:57 PM
Black marketing of Remdesivir

Black marketing of Remdesivir (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • कालाबाजारियों पर खुफिया एजेंसियों की नजर
  • अब तक 160 आरोपियों को पुलिस ने धरा
  • आरोपियों के पास से 62.70 लाख कैश बरामद

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते संक्रमण के बीच कोविड (COVID-19) के इलाज में उपयोगी दवाएं, रेमडेसिविर (Remdesivir) और ऑक्सीजन की कालाबाजारी भी धड़ल्ले से हो रही है. उत्तर प्रदेश में कई गिरोह सक्रिय हैं, जिन पर पुलिस का शिकंजा भी लगातार कस रहा है. पुलिस (UP Police) लगातार सक्रिय है. और ऐसे लोगों को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाया जा रहा है. योगी सरकार ने ऐसे लोगों पर रासुका (NSA) लगाने का आदेश दिया है. यूपी पुलिस के मुताबिक अब तक कोरोना दवाओं की कालाबाजारी में 160 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. 

ये भी पढ़ें- J&K: आतंकी हमले के नापाक इरादे नाकाम, पुलवामा से 10 किलो IED बरामद

आरोपियों के पास से 62.70 लाख कैश बरामद

यूपी पुलिस ने बताया कि कोरोना काल में कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है. पुलिस ने बताया कि अब तक 160 आरोपी अरेस्ट किए गए हैं. पुलिस ने बताया कि आरोपियों के पास से 62.70 लाख कैश बरामद हुआ है. पुलिस के अनुसार इन आरोपियों के पास से 1256 रेमडेसिविर इंजेक्शन, 1350 ऑक्सीजन सिलेंडर, 18 ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर और 844 ऑक्सीमीटर बरामद हुए हैं. पुलिस ने कहा कि सभी आरोपियों पर रासुका लगाकर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही है. 

STF के अलावा खुफिया एजेंसियां भी सक्रिय हैं

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर कोरोना महामारी में अवैध वसूली व कालाबाजारी पर शिकंजा कसने के लिए पुलिस हर स्तर पर मुस्तैदी बरत रही है. एसटीएफ के अलावा खुफिया एजेंसियों को भी सक्रिय किया गया है. लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, गौतमबुद्धनगर, मेरठ समेत कई जिलों में कालाबाजारी कर रहे आरोपितों के कुछ साथियों की भी तलाश की जा रही है. इसके अलावा बाराबंकी में एक अस्पताल संचालक पर ऑक्सीजन की कमी की अफवाह फैलाने के मामले में मुकदमा दर्ज किया गया है.

ये भी पढ़ें- सुशील कुमार के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी, कई दिनों से चल रहे हैं फरार

जब्त की गई दवाओं से हो रहा मरीजों का इलाज 

उत्तर प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक, कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार (ADG Law and Order, Prashant Kumar) ने सभी जिला कप्तानों को निर्देश दिए हैं कि कोरोना काल में कालाबाजारी के दौरान पुलिस कार्यवाही में बरामद किए गए रेमडेसिविर इंजेक्शन (Remedisivir Injection), पल्स ऑक्सीमीटर व अन्य जीवन रक्षक दवाइयों और ऑक्सीजन गैस सिलेंडर (Oxygen Gas Cylinder) को जरूरतमंदों तक पहुंचाया जाए. वहीं एडीजी एलओ प्रशांत कुमार के मुताबिक सभी जिला कप्तानों को निर्देश दिए हैं कि कोरोना में इस्तेमाल होने वाली दवाइयों और उपकरणों की कालाबाजारी करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाए और इस कार्रवाई में बरामद माल को कोर्ट से आदेश लेकर इस्तेमाल में लाया जाए.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 15 May 2021, 07:16:12 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो