News Nation Logo

Deoband: दारुल उलूम भी गैर मान्यता प्राप्त मदरसा, बजरंग दल ने की कार्रवाई की मांग

News Nation Bureau | Edited By : Shravan Shukla | Updated on: 22 Oct 2022, 03:29:45 PM
Darul Uloom Deoband

Darul Uloom Deoband (Photo Credit: File)

highlights

  • दारुल उलूम देवबंद के पास मान्यता नहीं
  • बगैर मान्यता के चल रहे 306 मदरसे
  • सहारनपुर में मदरसा सर्वे का काम पूरा

सहारनपुर:  

Darul Uloom Deoband: उत्तर प्रदेश सरकार के आदेश के बाद पूरे राज्य में मदरसों का सर्वे हो चुका है. सहारनपुर में भी ये सर्वे पूरा हो चुका है. सहारनपुर जिले में 1060 मदरसे मिले हैं, जिसमें से 306 मदसरे बगैर मान्यता के ही चल रहे हैं. ये मदरसे ऐसे हैं, जो जकात यानि चंदे के पैसों से चलते हैं. वहीं, सहारनपुर में 754 मदरसे ऐसे हैं, जिन्हें मान्यता प्राप्त है. ऐसे मदरसे सरकारी सहायता से चलाए जा रहे हैं. लेकिन जो 306 मदरसे बिना मान्यता के चल रहे हैं, उनमें सबसे बड़ा और चौंकाने वाला नाम सामने आया है दारूल-उलूम का. जी हां, विश्व विख्यात इस्लामिक शिक्षा का सबसे बड़ा केंद्र दारुल उलूम देवबंद भी गैर मान्यता प्राप्त मदरसों की सूची में शामिल है.

156 साल पहले हुई थी स्थापना

दारुल उलूम देवबंद करीब 156 साल पहले स्थापित हुआ था और इसका सिर्फ 1866 के सोसाइटी एक्ट में रजिस्ट्रेशन है. यूपी मदरसा बोर्ड के अंदर दारुल उलूम रजिस्टर्ड नहीं है और ये मदरसा किसी भी प्रकार की सरकारी सहायता से भी नही चल रहा है. सहारनपुर के जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी का कहना है कि सहारनपुर के अंदर अब तक 306 मदरसे गैर मान्यता प्राप्त मिले हैं. उन्होंने बताया कि गैर मान्यता प्राप्त और मान्यता प्राप्त मदरसों में अंतर सिर्फ यही है कि वह बिना किसी सरकारी सहायता के चल रहे हैं. इस मामले में 12 बिंदु शासन द्वारा निर्धारित किए गए थे. उन्हीं बिंदुओं पर जांच की गई है. उन्होंने बताया कि मदरसों की जांच रिपोर्ट शासन को भेजी जा रही है. इन मदरसों पर जो भी कार्रवाई करनी होगी, उसका निर्णय शासन अपने स्तर पर करेगा.

ये भी पढ़ें: Rozgar Mela: PM Modi ने की रोजगार मेले की शुरुआत, 10 लाख युवाओं को मिलेंगी नौकरियां; 75 हजार को मिले नियुक्ति पत्र

बजरंग दल ने बुलडोजर चलवाने की मांग

दारुल उलूम समेत कई मदरसों के गैर मान्यता प्राप्त होने की जानकारी मिलने के बाद बजरंग दल के पश्चिमी प्रान्त प्रमुख विकास त्यागी ने दारुल देवबंद को लेकर फिर से विवादित बयान दिया है. विकास त्यागी का आरोप है कि दारुल उलूम के साथ-साथ जो अन्य मदरसे हैं और जो गैर मान्यता प्राप्त हैं .उन सब को विदेशों से और संदिग्धों से सारी फंडिंग होती है. जिसकी जांच होनी चाहिए. विकास त्यागी ने यह भी कहा दारुल उलूम पर बुलडोजर की कार्रवाई सरकार को करनी चाहिए.
(रिपोर्ट-मतीन खान)

First Published : 22 Oct 2022, 03:19:28 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.