News Nation Logo
Banner

जिस रिपोर्ट पर कानून बनने जा रहा है, उसमें लव जिहाद का जिक्र नहीं, बोले आदित्यनाथ मित्तल

उत्तर प्रदेश लॉ कमीशन के प्रमुख न्यायमूर्ति (रिटायर्ड) आदित्यनाथ मित्तल ने कहा कि मेरी रिपोर्ट में लव जिहाद शब्द का जिक्र नहीं है. धर्मांतरण को रोकने के लिए मैंने प्रभावी कानून बनाने को लेकर रिपोर्ट तैयार की थी.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 25 Nov 2020, 06:39:25 AM
aditya Nath Mittal

'जिस रिपोर्ट पर कानून बनने जा रहा है, उसमें लव जिहाद का जिक्र नहीं' (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली :

लव जिहाद को लेकर योगी सरकार कानून लाने की तैयारी शुरू कर दी है. यूपी सरकार मंगलवार को अपनी कैबिनेट बैठक में इस कानून पर अंतिम मुहर लगा सकती है. वहीं जिस रिपोर्ट के आधार पर योगी सरकार कानून बनाने जा रही है उस रिपोर्ट में लव जिहाद शब्द का जिक्र नहीं है. 

विधि आयोगी की रिपोर्ट जिसपर कानून बनने जा रहा है, उसके अध्यक्ष आदित्यनाथ मित्तल ने न्यूज नेशन से बातचीत की. 
उत्तर प्रदेश लॉ कमीशन के प्रमुख न्यायमूर्ति (रिटायर्ड) आदित्यनाथ मित्तल ने कहा कि मेरी रिपोर्ट में लव जिहाद शब्द का जिक्र नहीं है. धर्मांतरण को रोकने के लिए मैंने प्रभावी कानून बनाने को लेकर रिपोर्ट तैयार की थी.

इसे भी पढ़ें:नगरोटा पर पाकिस्तान को फिर बेनकाब करेगा भारत, राजदूतों को दी जानकारी

उन्होंने बताया कि अगर कोई व्यक्ति प्रलोभन देकर देकर डर दिखाकर या किसी और तरीके से धर्म परिवर्तन कराता है तो उसे सजा मिलनी चाहिए. जिसमे सज़ा का प्रावधान भी है.

आदित्य मित्तल का कहना है कि मेरी रिपोर्ट के आधार पर ये कानून बनने जा रहा है,जो विधि विरुद्ध धर्मांतरण को लेकर है. हालांकि इस कानून में जो व्यक्ति अपना धर्म छुपाकर शादी करता है और अपने पार्टनर का जबरन धर्म परिवर्तन कराता है,तो उसके खिलाफ भी सज़ा का प्रावधान है. 

और पढ़ें:पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव में नामांकन पत्र रद्द करने की मांग खारिज

उन्होंने आगे बताया कि  इस कानून के तहत राजनीतिक संगठन,सामाजिक संगठन को शिकायत दर्ज कराने का अधिकार नहीं होगा. इसमे सज़ा का भी प्रवधान किया गया है.

First Published : 24 Nov 2020, 05:18:00 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.