News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

मथुरा: छह दिसंबर से पहले कड़ी निगरानी, हर प्रवेश मार्ग पर तैनात होंगे सुरक्षाकर्मी

सुरक्षा की दृष्टि से प्रशासन ने मथुरा को तीन जोन में बांटा है। इस इलाके में कटरा केशव देव मंदिर और शाही इदगाह आता है.

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 05 Dec 2021, 02:47:00 PM
mathura1

मथुरा में छह दिसंबर से पहले कड़ी निगरानी (Photo Credit: file photo)

नई दिल्ली:

मथुरा में 6 दिसंबर से पहले सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है. छह दिसंबर को बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी के मौके पर यहां हिन्दूवादी संगठनों ने जलाभिषेक कार्यक्रम की घोषणा की है. अधिकारियों के अनुसार, प्रशासन मुस्तैद है और हर गतिविधि पर निगरानी रख रहा है.  चार हिन्दूवादी संगठनों- अखिल भारतीय हिन्दू महासभा, श्री कृष्ण जन्मभूमि निर्माण न्यास, नारायणी सेना और श्रीकृष्ण मुक्ति दल ने छह दिसंबर को मथुरा में गैर पारंपरिक कार्यक्रम की अनुमति प्रशासन से मांगी है. अखिल भारतीय हिन्दू महासभा ने प्रशासन परिसर में भगवान श्रीकृष्ण की प्रतिमा को स्थापित करने की इजाजत नहीं दी जा सकती है, जिसके इलाके की शांति व्यवस्था भंग करा जा सकता है.

ये भी पढ़ें: उदयपुर की बहादुर बेटी ने ट्रैफिक रुकवाकर बचाई अजगर की जान 
 
सुरक्षा की दृष्टि से प्रशासन ने मथुरा को तीन जोन बांटा है. इस इलाके में कटरा केशव देव मंदिर और शाही इदगाह आता है. उसे रेड जोन घोषित किया गया है. जहां पर सबसे ज्यादा सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई है. एसएसपी गौरव ग्रोवर के अनुसार मथुरा में प्रवेश के हर मार्ग पर भारी संख्या में सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है.  इसके अलावा जिले के सभी प्रवेश द्वार पर कड़ी जांच की व्यवस्था की गई है. 

जिले में धारा-144 पहले से ही लागू हो गया है. इसके तहत एक स्थान पर चार से अधिक लोगों के जमा होने पर पाबंदी लगाई गई है. गौरतलब है कि शाही ईदगाह में हिंदूवादी संगठनों ने कार्यक्रम की घोषणा तक की है, जबकि ​इस मामले को लेकर अदालत में सुनवाई जारी है.  

First Published : 05 Dec 2021, 01:37:15 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो