logo-image
लोकसभा चुनाव

Rajya Sabha Elections Result: भाजपा ने आठवें उम्मीदवार पर मारी बाजी, क्रॉस वोटिंग के सहारे सपा के प्रत्याशी को हराया

Rajya Sabha Elections Result: राज्यसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश के नतीजे सामने आ गए हैं. यहां पर भाजपा ने आठ सीटों पर जीत दर्ज की है. सपा विधायकों की क्रॉस वोटिंग के सहारे भाजपा के आठवें उम्मीदवार को जीत का रास्ता मिला. 

Updated on: 28 Feb 2024, 05:59 AM

नई दिल्ली:

राज्यसभा चुनाव में भाजपा ने यूपी में बड़ी जीत हासिल की है. पार्टी ने आठ प्रत्याशियों को मैदान में उतारा था और सभी ने जीत हासिल की है. समाजवादी पार्टी के तीन उम्मीदवार थे, मगर एक हार गया. पार्टी विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की और सत्ता पक्ष के उम्मीदवार को मतदान किया. क्रॉस वोटिंग से भाजपा के आठवें उम्मीदवार संजय सेठ को जीत हासिल हुई. इसे भाजपा ने विपक्षी विधायकों की "अंतरात्मा की आवाज" बताया है. राज्यसभा चुनाव में भाजपा के प्रत्याशी अमरपाली मौर्य को 36 वोट प्राप्त हुए हैं. RPN सिंह को 34, साधना सिंह को 34, संजय सेठ को 29, संगीता बलवंत बिंद को 36, सुधांशु त्रिवेदी को 38, तेजवीर सिंह को 38 और नवीन जैन को 34 वोट प्राप्त हुए.

ये भी पढ़ें: Rajya Sabha Elections 2024: राज्यसभा चुनाव में भाजपा को 10, कांग्रेस को 3 और सपा को दो सीटें हासिल, जानें कहां हुई क्रॉस वोटिंग

वहीं सपा उम्मीदवार जया बच्चन को 41 और रामजी लाल सुमन को 37 वोट प्राप्त हुए. पार्टी के आलोक रंजन को हार का सामना करना पड़ा. इन्हें सिर्फ 16 वोट मिले. चुनाव में सबसे अधिक वोट सपा उम्मीदवार जया बच्चन को प्राप्त हुआ. 

आशुतोष मौर्य ने एनडीए का साथ दिया

सपा विधायकों की क्रॉस वोटिंग से संजय सेठ जीते यूपी में समाजवादी पार्टी के 7 विधायकों में राकेश पांडेय, राकेश प्रताप सिंह, अभय सिंह, विनोद चतुर्वेदी, मनोज पांडेय, पूजा पाल और आशुतोष मौर्य ने एनडीए का साथ दिया. इनके वोट भाजपा के संजय सेठ को प्राप्त हुआ. इस कारण वह जीत सके. संजय सेठ ने 2019 में सपा छोड़ भाजपा को चुना. वहीं ओपी राजभर की पार्टी SP के एक विधायक जगदीश राय ने क्रॉस वोटिंग में जया बच्चन के पक्ष में वोटिंग किया है. 

भाजपा ने सात के बजाय आठ उम्मीदवार उतारे  

उत्तर प्रदेश की दस राज्यसभा सीटों पर भाजपा के आठ और समाजवादी पार्टी के तीन उम्मीदवार उतारने के बाद कड़ा मुकाबला देखने को मिला. सत्तारूढ़ भाजपा और यूपी में प्रमुख विपक्षी दल सपा के पास सात और तीन सदस्यों को निर्विरोध राज्यसभा भेजने की संख्या थी. मगर भाजपा ने आठवां उम्मीदवार उतारा दिया. इससे  मुकाबला कड़ा हो गया. 

विधायकों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा

क्रॉस वोटिंग और मतदान के समय सपा के चीफ व्हिप मनोज पांडे के पद से इस्तीफा देने से पार्टी की मुश्किलें और बढ़ गई. अखिलेश यादव ने ऐसे विधायकों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा है. इसके बाद मनोज पांडे ने भाजपा उम्मीदवार संजय सेठ के पक्ष में वोटिंग की. उत्तर प्रदेश से राज्यसभा के लिए निर्वाचित होने के लिए लिए एक उम्मीदवार को करीब 37 वोटों की आवश्यकता थी.