News Nation Logo
Banner

प्रयागराज हत्याकांड : बेटा निकला मां, पिता, बहन और पत्नी का कातिल, 8 लाख में कराया था मर्डर

संगम नगरी प्रयागराज (Prayagraj) में गुरुवार को दिन दहाड़े एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या कर दी गई थी. प्रयागराज पुलिस ने देर शाम तक इस हत्याकांड की गुत्थी को सुलझा लिया.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 15 May 2020, 10:27:51 AM
Prayagraj murder case

बेटा निकला मां, पिता, बहन और पत्नी का कातिल, 8 लाख में कराया था मर्डर (Photo Credit: फाइल फोटो)

प्रयागराज:  

संगम नगरी प्रयागराज (Prayagraj) में गुरुवार को दिन दहाड़े एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या कर दी गई थी. प्रयागराज पुलिस ने देर शाम तक इस हत्याकांड की गुत्थी को सुलझा लिया. पुलिस ने खुलासा किया है कि मृतक तुलसीदास केसरवानी के बेटे ने ही पूरा षड्यंत्र रचा और मां, पिता, बहन तथा पत्नी की हत्या (Murder) के लिए तीन लोगों को 8 लाख रुपये की सुपारी दी थी. पुलिस ने बेटे समेत दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि दो अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है.

यह भी पढ़ें: यूपी में कोरोना रोगियों की संख्या 3900 पार, अब तक 88 मौतें, सभी 75 जिले चपेट में

प्रयागराज के धूमनगंज थाना इलाके के प्रीतम नगर में एक ही परिवार को 4 लोगों के शव घर में पड़े मिले थे, इन चारों की गला रेतकर हत्या की गई थी. प्रीतमनगर में 55 वर्षीय तुलसी राम केसरवानी अपनी पत्नी किरण, बेटी गुडिया, बेटा आतिश और बहू प्रियंका के साथ रहते थे. मरने वालों में पति, पत्नी, बहू और एक बेटी शामिल थे, जबकि बैंक के काम से बाहर गया हुआ था. इस हत्याकांड के बाद पूरे इलाके में दहशत का माहौल बन गया.

प्रयागराज के एडीजी प्रेम प्रकाश के मुताबिक, मृतक तुलसीदास केसरवानी के पुत्र आतिश केसरवानी ने बताया था कि वह दोपहर डेढ़ बजे बैंक गया था और जब वह वापस लौटकर आया तो घर का दरवाजा नहीं खुला. धक्का मारकर दरवाजा खोला और जब घर के भीतर गया तो उसने मकान के भूतल पर दो शव देखे और फिर पहली मंजिल पर गया जहां उसने तीसरा शव देखा. बकौल आतिश जब वह नीचे आया तो उसने कूलर की घास से ढका अपने पिता का शव देखा.

यह भी पढ़ें: किराये पर रहने वाले विद्यार्थियों से मांगा भाड़ा तो दर्ज हुई एफआईआर

उसने पुलिस थाने में जाकर हत्या का मामला दर्ज कराया. इस घटना की जांच के लिए पांच टीम लगाई गई थीं. मोबाइल की लोकेशन, बताए गए घटनाक्रम की जांच की गई और आसपास के हिस्ट्रीशीटरों के बारे में पता लगाया गया. इस घटना में तेज धारदार हथियार का इस्तेमाल किया गया है. शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. पुलिस टीमों ने मामले की तफ्तीश शुरू तो उनका पहला शक बेटे पर ही गया था.

पुलिस ने हर पहलू से जांच पड़ताल की और आखिरकार पुलिस को गुनहगार मिल गया. इस हत्याकांड का खुलासा करने में पुलिस ने ज्यादा वक्त नहीं लगाया. पुलिस ने जब खुलासा किया तो उसे सुनकर हर कोई हैरान रह गया, क्योंकि साजिश का मास्टरमाइंड बेटा आतिश था, जिसने मां, पिता, बहन और पत्नी की हत्या के लिए तीन अन्य लोगों को 8 लाख रुपये की सुपारी दी थी. पुलिस ने तुलसीदास के बेटे आतिश और हत्यारोपी अनुज श्रीवास्तव को गिरफ्तार कर लिया है तथा बच्चा श्रीवास्तव और एक अन्य की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है.

यह वीडियो देखें: 

First Published : 15 May 2020, 10:27:51 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.