News Nation Logo

लखनऊ में लगातार दूसरे साल नहीं होगा 'बड़ा मंगल' समारोह

बड़ा मंगल हिंदू महीने 'ज्येष्ठ' में सभी मंगलवार को आयोजित एक त्योहार है और लखनऊ के लिए विशिष्ट है. 400 साल पुराना माना जाने वाला यह त्योहार मुख्य रूप से लखनऊ में मनाया जाता है। इसके पीछे 'बड़ा मंगल' की एक दिलचस्प कहानी है.

IANS | Updated on: 31 May 2021, 01:20:04 PM
bada mangal

लखनऊ में लगातार दूसरे साल नहीं होगा 'बड़ा मंगल' समारोह (Photo Credit: IANS)

लखनऊ:

31 मई शहर में लगातार दूसरे वर्ष 'बड़ा मंगल' का वार्षिक उत्सव सामान्य पैमाने पर नहीं होगा. राज्य की राजधानी में हनुमान मंदिरों ने कोविड महामारी और सुरक्षा प्रोटोकॉल की दूसरी लहर को देखते हुए बड़ा मंगल पर उत्सव का आयोजन नहीं करने का फैसला किया है. पिछले साल की तरह, भक्त विभिन्न मंदिरों द्वारा आयोजित पूजा की लाइव स्ट्रीमिंग देख सकेंगे. बड़ा मंगल हिंदू महीने 'ज्येष्ठ' में सभी मंगलवार को आयोजित एक त्योहार है और लखनऊ के लिए विशिष्ट है. 400 साल पुराना माना जाने वाला यह त्योहार मुख्य रूप से लखनऊ में मनाया जाता है. इसके पीछे 'बड़ा मंगल' की एक दिलचस्प कहानी है.

यह भी पढ़ेंः लखनऊ में सामने आया लव जिहाद का केस, आदित्य बनकर करता था हिंदू लड़कियों से शादी

इतिहासकारों के अनुसार, अलीगंज में हनुमान मंदिर का निर्माण नवाब सआदत अली खान ने 1798 में किया था, जब उनकी मां आलिया बेगम की प्रार्थना का जवाब दिया गया था और नवाब को एक पुत्र का आशीर्वाद मिला था. आलिया बेगम ने मंदिर बनाने पर जोर दिया और नवाब ने आदेश का पालन किया. अवध के अंतिम नवाब, नवाब वाजिद अली शाह ने हनुमान भक्तों के लिए सामुदायिक भोज आयोजित करके परंपरा को जारी रखा. अलीगंज मंदिर के गुंबद पर एक तारा और अर्धचंद्र है और बड़ा मंगल त्योहार हिंदू मुस्लिम एकता का एक आदर्श उदाहरण है. लखनऊ में 9,000 से अधिक बड़े और छोटे हनुमान मंदिर हैं जो आधी रात को अपने दरवाजे खोलते हैं और भक्त पूरे दिन प्रार्थना करते रहते हैं. 

यह भी पढ़ेंः यूपी में कोरोना कर्फ्यू को लेकर नई गाइडलाइन जारी, जानें क्या मिली छूट

भक्तों ने भोजन और पानी वितरित करने के लिए शहर भर में बड़े भंडार (सामुदायिक रसोई) स्थापित किए. हलवा पूरी, आलू कचौरी, छोला चवाल, कढ़ी चावल, चाउमीन, बर्गर, सैंडविच से लेकर जूस तक भंडारों में कई तरह के व्यंजन होते हैं. इस वर्ष चार शुभ मंगलवार हैं 1 जून, 8 जून, 15 जून और 22 जून. जिस दिन बड़ा मंगल मनाया जाएगा. 1 जून को पहले बड़ा मंगल पर भक्तों के लिए मंदिर बंद रहेंगे. बाकी मंगलवार के बारे में मंदिर प्रशासन बाद में फैसला करेगा. संकट मोचन हनुमान जी ट्रस्ट के सेकेट्री दिवाकर त्रिपाठी ने कहा कि अगर हम मंदिर के अंदर एक बार में पांच लोगों को अनुमति देने के जिला प्रशासन के नियमों के अनुसार चलते हैं, तो कोविड प्रोटोकॉल का रखरखाव भी आसान नहीं होगा. इसलिए, आरती की लाइवस्ट्रीमिंग की जाएगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 31 May 2021, 01:20:04 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Bada Mangal Lucknow News