News Nation Logo

कोरोना काल में योगी सरकार ने शिक्षा के क्षेत्र में किया बेहतर काम - मनोज गैरोला

न्यूज नेशन नेटवर्क के एडिटर इन चीफ मनोज गैरोला ने अपने स्वागत संबोधन में कहा कि पिछले चार साल में प्रदेश में चहुंमुखी विकास हुआ है. उत्तर प्रदेश का काम कई राज्यों के लिए रोल मॉडल बन गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 07 Mar 2021, 08:02:21 AM
manoj gairola

न्यूज नेशन कांक्लेव को संबोधित करते एडिटर इन चीफ मनोज गैरोला (Photo Credit: न्यूज नेशन)

लखनऊ:

न्यूज नेशन के सहयोगी चैनल न्यूज स्टेट उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड पर शनिवार को योगी सरकार के चार साल पूरा होने पर 'चार साल चहुंमुखी विकास' कार्यक्रम का आयोजन किया गया. कार्यक्रम की शुरुआत न्यूज नेशन नेटवर्क के एडिटर इन चीफ मनोज गैरोला ने अपने स्वागत संबोधन से की. उन्होंने कहा कि पिछले चार साल में प्रदेश में चहुंमुखी विकास हुआ है. उत्तर प्रदेश का काम कई राज्यों के लिए रोल मॉडल बन गया है. इस दौरान शिक्षा के क्षेत्र में भी काफी काम हुआ है. कोरोना काल में शिक्षा को लेकर सबसे बड़ा चैलेंज सामने आया था. डिजिटल माध्यम से गरीबों तक शिक्षा पहुंचाने का काम योगी सरकार ने पूरा किया. सरकार पिछले दिनों गरीब छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग की स्कीम लेकर आई, जो एक अच्छा प्रयास है.

उत्तर प्रदेश सरकार के चार साल पूरा होने पर आज प्रदेश कैबिनेट के कई मंत्रियों का जमावड़ा लगा. सम्मेलन में यूपी के विकास पर चर्चा की गई. इस सम्मेलन में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, महिला और बाल विकास मंत्री स्वाती सिंह, जल शक्ति मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह, यूपी फिल्म विकास परिषद के अध्यक्ष राजू श्रीवास्तव, लोक गायिका मालिनी अवस्थी और गीतकार मनोज मुंतशिर सहित कई वीआईपी शामिल होंगे. 

यह भी पढ़ेंः 'यूपी के मदरसों के छात्रों के हाथ में कुरान-कंप्यूटर हो, सबके साथ वे भी बढ़ें'

कार्यक्रम में उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने दो-टूक कहा कि भारतीय इतिहास में आक्रांताओं का महिमामंडन किया गया. योगी सरकार इस दोहरी नीति को सही करने का काम कर रही है. भारत का इतिहास गुलामी का नहीं रहा है, बल्कि संघर्षों का रहा है. गलत इतिहास के लिए वामपंथी इतिहासकारों को कठघरे में खड़ा करते हुए दिनेश शर्मा साफ-साफ कहते हैं कि भारतीय इतिहास और संस्कृति को तथ्यों के साथ सामने लाने को इतिहास के साथ छेड़छाड़ नहीं कहते, बल्कि दोहरी नीति को सही करना कहते हैं. 

यह भी पढे़ंः बिजली चोरी रुके तो सभी को जल्द मिलेगी 24 घंटे बिजली - श्रीकांत शर्मा

मदरसों की डिग्री की वैल्यू बढ़ा रही योगी सरकार
योगी सरकार मदरसों पर नकेल कस रही है और इतिहास को बदलने की चेष्टा कर रही है... विपक्ष के इस आरोप पर डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि योगी सरकार की शिक्षा नीति के तहत मु्स्लिम छात्रों को लाभ मिल रहा है. हमने मदरसों के कैरिकुलम से कतई कोई छेड़छाड़ नहीं की है. अभी तक मदरसों की डिग्री आधुनिक नहीं मानी जाती थी. यहां तक कि पासपोर्ट से लेकर नौकरी हासिल करने तक में मदरसों की डिग्री काम नहीं आती थी. ऐसे में मदरसों की डिग्री की व्यवस्था की. उसकी वैल्यू बढ़ाते हुए आधुनिकीकरण का लक्ष्य लेकर चल रही है योगी सरकार. योगी सरकार को कतई कोई आपत्ति नहीं है कि मदरसों के छात्रों के हाथों में पवित्र कुरान हो और मुंह में अल्लाह का नाम. हम मदरसों के छात्रों की राष्ट्रीय सहभागिता बढ़ाने, भागीदारी सुनिश्चित करने की दिशा में काम कर रहे हैं. हम मदरसों के छात्रों पर नकेल नहीं कस रहे, बल्कि उन्हें योग्य बना रहे हैं.  

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 06 Mar 2021, 02:29:03 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.