News Nation Logo

बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने FB पोस्ट के जरीए मनीष सिसोदिया को दिया करारा जवाब

उत्तर प्रदेश और दिल्ली सरकार के मंत्री स्कूलों को लेकर सोशल मीडिया पर आमने सामने आ गए हैं.  यूपी के  बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को  अपने फेसबुक पोस्ट के माध्यम से करारा जवाब दिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 23 Dec 2020, 05:27:33 PM
up schools

यूपी स्कूल (Photo Credit: सतीश द्विवेदी फेसबुक)

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश और दिल्ली सरकार के मंत्री स्कूलों को लेकर सोशल मीडिया पर आमने सामने आ गए हैं.  यूपी के बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को  अपने फेसबुक पोस्ट के माध्यम से करारा जवाब दिया है. उन्होंने इस पोस्ट में राज्य के सराकरी स्कूलों की तस्वीरें पोस्ट की है और लिखा है, 'जिसे देखना हो आंखे फाड़ के देख लें.'बता दें कि मंगवार को दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया यूपी के सरकारी स्कूलों को देखने के लिए लखनऊ पहुंचे हुए थे. हालांकि पुलिस ने उन्हें रास्ते में रोक दिया. 

सतीश द्विवेदी ने यूपी के लखीपुरी जनपद के स्कूल की कुछ तस्वीरें अपने ट्विटर अकाउंट पर भी शेयर किया है.   उन्होंने लिखा, 'योगी सरकार का संकल्प, हो रहा है कायाकल्प. 

बता दें कि दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया मंगलवार को एक दिवसीय दौरे पर राजधानी लखनऊ पहुंचे. इस दौरान यूपी की शिक्षा व्यवस्था के साथ अन्य कार्य पर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री के बहस करने दिन में पहुंचे मनीष सिसोदिया को गांधी भवन में इंतजार करना पड़ा. कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ के बहस में शामिल न होने के बाद सिसोदिया वहां से लखनऊ में प्राइमरी स्कूल का निरीक्षण करने के लिए निकले. यहां इनके कफिले को रोका गया. संजय गांधी पीजीआई से पहले पुलिस ने जब उनका काफिला रोका तो मनीष सिसोदिया ने लखनऊ के पुलिस कमिश्नर से इस बाबत वार्ता भी की. पुलिस कमिश्नर ने लखनऊ में उनके एक कार्यक्रम की अनुमति लेने का हवाला दिया.

ये भी पढ़ें: जानिए इस बार कहां मनाया जाएगा यूपी दिवस, ये है सरकार की तैयारी

 गौरतलब है कि सिद्धार्थनाथ सिंह ने चार दिन पहले ट्वीट किया था, ‘‘डिबेट का निमंत्रण देने से पहले आप अपने स्‍कूलों की हालत तो ठीक कर लें मनीष सिसोदिया जी और यह तो अरविंद केजरीवाल का दूसरा टर्म (कार्यकाल) चल रहा है.’’ तीन दिन पहले मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर आयोजित एक कार्यक्रम में कहा था कि दिल्‍ली की आबादी जितने बच्‍चे हमारे बेसिक (प्राथमिक) स्‍कूलों में पढ़ते हैं.

उनके कथन का संदर्भ लेते हुए दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया था, ‘‘बच्‍चों को अच्‍छी शिक्षा और उज्‍ज्‍वल भविष्‍य देना हर सरकार की जिम्‍मेदारी है, फिर चाहे वह 5 लाख हों या 5 करोड़. अच्‍छी सरकारें बहाने नहीं बनातीं.’’ सिसोदिया ने ट्विटर पर ही प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त की ‘‘अब ये बहाना नहीं चलेगा योगी जी, अगर बड़ी आबादी वाले उत्‍तर प्रदेश के बच्‍चों को अच्‍छी शिक्षा नहीं दे सकते तो यह आपकी अक्षमता है.’’

उल्‍लेखनीय है कि अरविंद केजरीवाल ने 15 दिसंबर को ट्विटर पर अपना एक वीडियो पोस्‍ट किया था जिसमें उन्‍होंने 2022 में उत्‍तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी के लड़ने का एलान किया था और इसी के बाद से उत्‍तर प्रदेश की भाजपा सरकार और दिल्‍ली की आप सरकार के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है. 

 

(एजेंसी इनपुट के साथ)

First Published : 23 Dec 2020, 05:17:25 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.