logo-image
लोकसभा चुनाव

कृष्णानंद राय की पत्नी और बीजेपी विधायक अलका राय का प्रियंका गांधी पर हमला, बोलीं- हत्यारे मुख्तार अंसारी को बनाया राज्य अतिथि

अलका राय के पति कृष्णानंद राय गाजीपुर जिले के मुहम्मदाबाद के बीजेपी विधायक थे. कृष्णानंद राय की साल 2005 में गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी. अलका राय ने मुख्तार अंसारी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया था.

Updated on: 02 Feb 2021, 01:09 PM

गाजीपुर:

कृष्णानंद राय की पत्नी और मुहम्मदाबाद की बीजेपी विधायक अलका राय ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को एक और चिट्ठी लिखी है. अलका राय ने अपनी चिट्ठी में कहा कि प्रियंका गांधी और उनकी कांग्रेस पार्टी ने मुख्तार अंसारी को राज्य अतिथि बना रखा है. बीजेपी विधायक ने कहा कि कांग्रेस पार्टी मुख्तार अंसारी जैसे अपराधियों को बचाने के भरपूर प्रयास कर रही है.

बता दें कि उत्तर प्रदेश के मऊ का विधायक मुख्तार अंसारी अभी पंजाब की जेल में बंद है. मुख्तार के बेटे अब्बास की अभी हाल ही में राजस्थान में शादी हुई थी. अलका राय ने प्रियंका गांधी को लिखी चिट्ठी में कहा, ''महोदया, आपसे मुझे शोक के साथ कहना पड़ रहा है कि आपके नेतृत्व में पंजाब और राजस्थान की सरकार ने मेरे पति के हत्यारे कुख्यात अपराधी मुख्तार अंसारी और उसके इनामिया बेटे अब्बास अंसारी को राज्य अतिथि का दर्जा दे रखा है. इसका प्रमाण है अखबार में छपी तस्वीरें, जिससे स्पष्ट है कि सरकारी संरक्षण में राजस्थान सरकार ने मुख्तार के इनामिया बेटे अब्बास की धूमधाम से शादी कराई.''

ये भी पड़ें- मिड डे मील में शामिल होकर बच्चों को सेहतमंद बनाएगी सुनहरी शकरकंद

अलका ने पत्र में आगे लिखा, ''प्रियंका जी, ये तस्वीरें देखकर मुझे और मेरे परिवार को कष्ट हुआ. इससे पूर्व उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी ने उत्तर प्रदेश की अदालतों में वांछित अपराधी मुख्तार अंसारी को लाने के लिए 32 बार अपने वाहन भेज चुके हैं लेकिन आप और आपकी पंजाब सरकार मुख्तार को बचाने में लगी है.''

''एक महिला होने के नाते मुझे एक उम्मीद थी कि आप मेरे दर्द को समझेंगी. आप आए दिन अपराध और अपराधियों के खिलाफ दावे करती रहती हैं परंतु इंसाफ मांग रही मुझ जैसी अनेकों पीड़िताओं का एक भी पत्र का न तो आपने जवाब देना उचित समझा और न ही हमें इंसान दिलाने की कोशिश की. उल्टे यह बात स्पष्ट है कि आप और आपकी सरकार पूरी तरह मुख्तार और उसके अपराध के पीछे खड़ी है. आपके जवाब का इंतजार रहेगा.''

ये भी पढ़ें- प्रेमी संग मिलकर पत्नी ने पति को जिंदा जलाया, वजह जानकर दहल जाएगा दिल

बताते चलें कि अलका राय के पति कृष्णानंद राय गाजीपुर जिले के मुहम्मदाबाद के बीजेपी विधायक थे. कृष्णानंद राय की साल 2005 में गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी. अलका राय ने मुख्तार अंसारी के खिलाफ कृष्णानंद की हत्या का मामला दर्ज कराया था. कई सालों तक चले इस मामले में दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने मुख्तार अंसारी को निर्दोष करार दिया था.