News Nation Logo

BREAKING

Banner

हिंदू परिवार ने नहीं किया धर्म परिवर्तन तो बंद कर दिया हुक्का-पानी

गांव में रहने वाले एकमात्र हिंदू परिवार ने जब धर्म परिवर्तन से इनकार किया तो उसके खिलाफ कथित तौर पर फतवा जारी कर दिया गया. परिवार का हुक्का पानी भी बंद कर दिया गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 05 Feb 2021, 07:59:25 AM
social boycott

हिंदू परिवार ने नहीं किया धर्म परिवर्तन तो बंद कर दिया हुक्का-पानी (Photo Credit: न्यूज नेशन)

बरेली:

उत्तर प्रदेश के बरेली में एक हिंदू परिवार का जबरन धर्म परिवर्तन कराने के लिए दबाव डालने का मामला सामने आया है. गांव में रहने वाले एकमात्र हिंदू परिवार ने जब धर्म परिवर्तन से इनकार किया तो उसके खिलाफ कथित तौर पर फतवा जारी कर दिया गया. परिवार का हुक्का पानी भी बंद कर दिया गया है. पीड़ित का आरोप है कि उसे धर्म परिवर्तन करने के लिए धमकी दी जा रही है. परेशान होकर उन्होंने गांव से पलायन का फैसला लिया है. 

यह भी पढ़ेंः चक्का जाम को लेकर किसान संगठनों की बैठक आज, तैयार होगी रणनीति

पीड़ित परिवार का हुक्का पानी भी बंद
दरअसल, एक विशेष समुदाय के लोगों ने पीड़ित परिवार का हुक्का पानी भी बंद कर दिया है. ऐसी जानकारी मिली है कि आखिर में हारकर उन्होंने गांव से पलायन करने का निर्णय तक ले लिया था, लेकिन जैसे ही ये खबर आस-पास के गावों में फैली तो यहां मौजूद हिंदू संगठन सक्रिय हो गए और तुरंत पुलिस को इस संबंध में सूचना दी. फिलहाल, पुलिस ने इस पूरे मामले में तीन मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

यह भी पढ़ेंः पहाड़ों में बर्फबारी, दिल्ली-NCR में शुक्रवार को भी बारिश के आसार

बरेली के बिथरी चैनपुर थाना क्षेत्र है मामला
मीडिया रिपोर्ट्स से मिली जानकारी के जिले में बिथरी के परसोना गांव में इकराम सिंह के घर किराने की दुकान थी. उनके पड़ोस के रहने वाले दूसरे समुदाय के लोगों से उनका विवाद हो गया. जिस पर उन्होंने गांव से पलायन करने की बात कही थी. मामला सामने आने के बाद हिंदू संगठन सक्रिय हो गये. उन्होंने धर्म पंचायत का ऐलान कर दिया. इसकी सूचना पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को लगी. जिस पर एसएसपी रोहित सिंह सजवाण के निर्देश पर सीओ तृतीय श्वेता यादव, इंस्पेक्टर बिथरी अशोक कुमार के साथ गांव में पहुंचीं। उन्होंने गांव में दोनों पक्षों के लोगों को बुलाया. सीओ ने बताया कि गांव में पीड़ित पक्ष के 150 से ज्यादा लोग हैं. किसी को कोई आपत्ति नहीं है. पीड़ित पक्ष की गांव में किराने की दुकान थी. उस पर पड़ोस के रहने वाले लोग कोल्ड ड्रिंक लेने गये थे. कोल्ड ड्रिंक में कुछ गड़बड़ी होने पर उन्होंने उसे वापस कर दिया. इसको लेकर कहासुनी हो गई थी.

First Published : 05 Feb 2021, 07:59:25 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.