News Nation Logo
Banner

कोरोना वैक्सीन पर बदल गए अखिलेश के सुर, चौतरफा घिरने के बाद डैमेज कंट्रोल की कोशिश

चौतरफा घिरने के बाद अखिलेश यादव अब डैमेज कंट्रोल करने में लग गए हैं. सपा मुखिया ने अपने बयान पर सफाई देते हुए गरीबों का राग अलापने लग गए हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 03 Jan 2021, 11:47:50 AM
Akhilesh Yadav

अखिलेश यादव (Photo Credit: फाइल फोटो)

लखनऊ:

कोरोना वायरस की वैक्सीन को बीजेपी वैक्सीन बताते हुए लगवाने से इनकार करने के बाद समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव सत्तारूढ़ पार्टी के साथ साथ अन्य लोगों के निशाने आ गए. इस बयान पर अखिलेश जमकर ट्रोल हो और लोगों ने उन्हें जमकर खरीखोटी सुना डाली. चौतरफा घिरने के बाद अखिलेश यादव अब डैमेज कंट्रोल करने में लग गए हैं. सपा मुखिया ने अपने बयान पर सफाई देते हुए गरीबों का राग अलापने लग गए हैं.

यह भी पढ़ें: कोरोना वैक्सीन पर DCGI ने कहा- दो वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी

पूर्व मुख्यमंत्री और सपा मुखिया अखिलेश यादव ने ट्वीट किया, 'कोरोना का टीकाकरण एक संवेदनशील प्रक्रिया है इसीलिए बीजेपी सरकार इसे कोई सजावटी-दिखावटी इवेंट न समझे और अग्रिम पुख्ता इंतजामों के बाद ही शुरू करे. ये लोगों के जीवन का विषय है अत: इसमें बाद में सुधार का खतरा नहीं उठाया जा सकता है.' इसके साथ ही अखिलेश ने कहा कि गरीबों के टीकाकरण की निश्चित तारीख घोषित हो.

शनिवार को दिए बयान को लेकर लोगों के निशाने पर आने के बाद अखिलेश यादव ने आज सुबह ही यह ट्वीट किया, जिसे डैमेज कंट्रोल करने की कोशिश की तौर पर देखा गया है. इससे पहले शनिवार को अखिलेश ने कहा था, ' मैं अभी कोरोना वायरस की वैक्सीन नहीं लगवाऊंगा, क्योंकि उन्हें बीजेपी पर भरोसा नहीं है.' सपा मुखिया ने तंज कसते हुए कहा था कि जो सरकार ताली और थाली बजवा रही थी, वो वैक्सीनेशन के लिए इतनी बड़ी चेन क्यों बनवा रही है, ताली और थाली बजवाकर ही कोरोना भगवा दे.

यह भी पढ़ें: कोरोना का टीका लगवाने के लिए इस ऐप पर करना होगा रजिस्टर, यह है पूरा प्रोसेस 

जिसके बाद अखिलेश यादव के खिलाफ बीजेपी हमलावर हो गई. यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने कहा कि अखिलेश विश्व के वैज्ञानिकों के साथ-साथ चिकित्सकों के प्रयास पर सवाल उठा रहे हैं. इसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए. केशव प्रसाद ने अपने बयान में कहा कि कोरोना वैक्सीन को लेकर अखिलेश ने बेहद ही बचकाना बयान दिया है. उनको ऐसे बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए.

वहीं केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी सपा मुखिया पर निशाना साधा. गिरिराज सिंह ने लिखा, 'अत्यंत दुःखद, अखिलेश जी तो कोरोना वैक्सीन गुप्त रूप से लगवा लेंगे, लेकिन अपने प्रशंसकों को गुमराह कर उनके जीवन के साथ खेल रहे हैं. खुद की राजनीति चमकाने के लिए ये लाखों समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं की जान लेंगे.' सत्तापक्ष के अलावा भी विपक्षी नेताओं ने अखिलेश यादव के इस बयान पर प्रतिक्रिया दी.

यह भी पढ़ें: बीते 24 घंटों में कोरोना वायरस के 18,177 नए मामले आए सामने, 217 लोगों ने गंवाई जान

अखिलेश के इस बयान को जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने खारिज किया और कहा कि वो कोरोना वैक्सीन लगवाने को तैयार हैं. उन्होंने कहा कि जितने लोग वैक्सीनेशन करवाएंगे, देश और अर्थव्यवस्था के लिए उतना अच्छा है. वैक्सीन किसी राजनीतिक पार्टी की नहीं है. ये मानवता के लिए है और जितनी जल्दी ये अतिसंवेदनशील लोगों तक पहुंचेगी, उतना अच्छा है.

First Published : 03 Jan 2021, 11:47:50 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.