logo-image
लोकसभा चुनाव

सेक्स स्कैंडल में फंसे प्रज्वल रेवन्ना के भाई सूरज पर भी यौन उत्पीड़न का आरोप, हुआ गिरफ्तार

Karnatak Sex Scandal: कर्नाटक सेक्स स्कैंडल में फंसे प्रज्वल रेवन्ना के बाद उनके छोटे भाई सूरज रेवन्ना पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगा है. जिसके बाद कार्रवाई करते हुए हासन पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है. सूरज पर 27 वर्षीय पार्टी कार्यकर्ता के साथ यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगा है

Updated on: 23 Jun 2024, 10:15 AM

highlights

  • सेक्स स्कैंडल में फंसे प्रज्वल रेवन्ना के भाई पर यौन उत्पीड़न का आरोप
  • सूरज रेवन्ना पर लगा पार्टी कार्यकर्ता के साथ यौन उत्पीड़न का आरोप
  • एफआईआर दर्ज करने क बाद हासन पुलिस ने किया गिरफ्तार

New Delhi:

कर्नाटक सेक्स स्कैंडल में फंसे प्रज्वल रेवन्ना के भाई व जनता दल सेक्युलर के नेता सूरज रेवन्ना को भी हासन पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बता दें कि सूरज को एक कथित तौर पर पार्टी के 27 वर्षीय कार्यकर्ता के साथ यौन उत्पीड़न के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. आरोप में कहा गया है कि 16 जून को रेवन्ना के फार्महाउस में युवक के साथ यौन उत्पीड़न किया गया था. शिकायत में कहा गया है कि सूरज ने पार्टी कार्यकर्ता को जबरदस्ती अपने फार्महाउस पर बुलाया और फिर उसे चूमा और उसके गालों व होंठ को काट लिया. जब वह इसका विरोध कर रहा था तो सूरज ने उसे जान से मारने की भी धमकी दी. पीड़ित ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. 

यह भी पढ़ें- Weather Update: देशभर में मौसम ने ली करवट, यूपी तक पहुंचेगा मॉनसून, दिल्ली-NCR में छाए रहेंगे बादल

पुलिस ने यौन उत्पीड़न मामले में सूरज को किया गिरफ्तार

अपने शिकायत में सूरज रेवन्ना के साथ ही पीड़ित ने शिवकुमार पर भी आरोप लगाया है कि शिवकुमार को घटना के बारे में बताया गया और कहा गया कि मैं न्याय के लिए लड़ूंगा. इस पर शिवकुमार ने उसे अपना मुंह बंद रखने के लिए 2 करोड़ रुपये की पेशकश की थी. 

27 वर्षीय पार्टी कार्यकर्ता के साथ यौन उत्पीड़न का मामला

आपको बता दें कि पुलिस थाने में केस दर्ज कराने से पहले पीड़ित ने पुलिस महानिदेशक और राज्य के गृह मंत्री को शिकायत की थी. पुलिस ने सूरज के खिलाफ शनिवार को आईपीसी की धारा 342 (बंधक बनाकर), 377 (अप्राकृतिक शारीरिक संबंध बनाना), 506 और 34 के तहत यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज किया है. वहीं, पहले पीड़ित ने मेडिकल जांच कराने से इनकार कर दिया था लेकिन देर रात पुलिस ने बेंगलुरु के एक अस्पताल में उसका मेडिकल जांच कराया. रविवार को पीड़ित का पोटेंसी टेस्ट किया जाएगा. 

5 करोड़ के लिए लगाए झूठे आरोप

वहीं, मामले पर सूरज ने सफाई देते हुए कहा है कि उस पर झूठा आरोप लगाया गया है. यह आरोप 5 करोड़ रुपये के लिए लगाया गया है. शिवकुमार ने चेतन पर आरोप लगाया है कि उसने 5 करोड़ रुपये वसूलने के लिए यौन उत्पीड़न का झूठा आरोप लगाया है.