News Nation Logo

PFI से जुड़े BJYM के नेता प्रवीण की हत्या के दोनों आरोपियों के तार 

Yasir Mushtaq | Edited By : Iftekhar Ahmed | Updated on: 28 Jul 2022, 05:39:21 PM
BJYM praveen

PFI से जुड़े BJYM के नेता प्रवीण की हत्या के दोनों आरोपियों के तार  (Photo Credit: File Photo)

बेंगलुरु:  

दक्षिण कनाडा के बेल्लारे गांव के रहने वाले बीजेपी युवा मोर्चा के नेता प्रवीण की मंगलवार को शाम करीब साढ़े आठ बजे तीन अज्ञात लोगों ने तेजधार वाले हथियारों से हत्या कर दी. हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद हत्यारे मौके से फरार हो गए.  मामला सामने आने के बाद प्रवीण के हत्यारों को पकड़ने के लिए पुलिस ने एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर आलोक कुमार की अध्यक्षता में 6 टीमों का गठन कर दिया. इसके बाद केरल से कर्नाटक तक कई जगह पर दबिश दी गई. पुलिस ने गुरुवार को इस हत्या के मामले में दो आरोपियों जाकिर और शफीक को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस के मुताबिक जाकिर के तार पीएफआई से जुड़े हैं.

प्रवीण की दुकान पर काम करते थे आरोपी
दरअसल, शफीक की पत्नी अंशिफा ने खुद कबूल किया कि उनके पति शफीक पीएफआई और एसडीपीआई से जुड़े हुए हैं.  जाकिर और शफीक दोनों बेल्लारे के ही रहने वाले हैं. बताया जा रहा है कि शफीक के पिता इब्राहीम, प्रवीण की दुकान पर कुछ महीनों तक काम भी करते थे. शफीक और प्रवीण एक दूसरे को अच्छी तरह से जानते थे.

सीसीटीवी खंगाल रही है पुलिस
कर्नाटक के एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर आलोक कुमार ने बताया कि अभी तक इस मामले में कुल 21 लोगों को हिरासत में लिया गया है, जिनसे पूछताछ जारी है. शफीक और जाकिर को सबूतों के आधार पर गिरफ्तार कर लिया गया है. दोनों आरोपियों के तार पीएफआई से जुड़े मिले हैं. हालंकि,  पुलिस ने अभी तक यह नहीं बताया है कि प्रवीण की हत्या क्यों की गई और शफीक और जाकिर का इस हत्या में क्या रोल था. वहीं, पुलिस हत्या की जगह से करीब 70 मीटर दूर लगे एक सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाल रही है, जिसमें आरोपी की तस्वीरें कैद होने की बात सामने आ रही है. 

ये भी पढ़ेंः 'राष्ट्रपत्नी' विवाद पर अधीर चौधरी की सफाईः बोले-मैं बंगाली हूं, हिंदी अच्छी नहीं होने से गलती हो गई

हिंदूवादी संगठनों ने मुस्लिमों की दुकानों में की तोड़फोड़
इस बीच गुरुवार को कई हिंदूवादी संगठनों ने प्रवीण की हत्या और बीजेपी सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. इन लोगों ने पीएफआई और एसडीपीआई जैसे संगठनों पर बैन लगाने की मांग की. प्रदर्शनकारियों ने प्रदेश की बीजेपी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और हिंदुओं की रक्षा करने में विफल रहने का आरोप लगाया. इसी दौरान आज दक्षिण कन्नड़ जिले के सुल्लीया में कुछ कट्टरपंथी हिंदू कार्यकर्ताओं ने मुस्लिम दुकानों में जाकर तोड़फोड़ भी की .

First Published : 28 Jul 2022, 05:39:21 PM

For all the Latest States News, South India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.