News Nation Logo

राजस्थान: विधायकों की टेपिंग की झूंठी अफवाह फैलाने वालों की जांच के निर्देश

महानिदेशक पुलिस भूपेंद्र सिंह ने जैसलमेर के सूर्यगढ पैलेस में ठहरे आधा दर्जन विधायकों के फोन टेपिंग की आधारहीन व मिथ्या अफवाह फैलाने के संबंध में साइबर थाने में दर्ज मामले की जांच नियमानुसार कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं.

By : Vineeta Mandal | Updated on: 08 Aug 2020, 05:00:00 PM
Phone Taping Case

Phone Taping Case (Photo Credit: (सांकेतिक चित्र))

नई दिल्ली:

महानिदेशक पुलिस भूपेंद्र सिंह ने जैसलमेर के सूर्यगढ पैलेस में ठहरे आधा दर्जन विधायकों के फोन टेपिंग की आधारहीन व मिथ्या अफवाह फैलाने के संबंध में साइबर थाने में दर्ज मामले की जांच नियमानुसार कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं. महानिदेशक पुलिस सिंह ने जयपुर पुलिस कमीशनर आनंद श्रीवास्तव को इस संबंध में तत्काल जांच की कार्यवाही पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं.

महानिदेशक पुलिस ने यह स्पष्ट किया है कि राजस्थान पुलिस की किसी भी युनिट द्वारा किसी भी विधायक या सांसद की टेपिंग न तो पूर्व में की गई और न ही वर्तमान में की जा रही है.
इन्टरकाॅम से हुई बातचीत को रिकार्ड करने का आरोप भी मिथ्या व काल्पनिक है. राजस्थान पुुलिस हमेशा आपराधिक कृत्य को रोकने का कार्य करती है और अवैधानिक टेपिंग एक आपराधिक कृत्य है.

और पढ़ें: राजस्थानः MLA खरीद फरोख्त मामले में ACB की संजय जैन के ठिकानों पर छापेमारी

उल्लेखनीय है कि सोशल मीडिया पर सर्वथा आधारहीन, मिथ्या और भ्रम फैलाने की दृष्टि से एक तथाकथित सूचना प्रसारित की जा रही है कि जैसलमेर के सूर्यगढ पैलेस में ठहरे आधा दर्जन विधायकों के फोन अवैधानिक तरीके से टेप किये जा रहे है. राजस्थान पुलिस ने आम जन से कतिपय शरारती तत्वों द्वारा दुर्भावनावश एवं निहित स्वार्थवश सोशल मीडिया के जरिये फैलाई जा रही अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की है.

सिंह ने स्पष्ट किया है कि मिथ्या सूचनाओं का प्रसारण अवैधानिक है अतः आमजन को मिथ्या सूचनाओं के प्रसारण से बचने की सलाह दी गई है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 08 Aug 2020, 05:00:00 PM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.