News Nation Logo

घर में चल रही थी नोट छापने की फैक्ट्री, 2.74 करोड़ की फेक करेंसी जब्त व 6 गिरफ्तार

Lal Singh Fauzdar | Edited By : Iftekhar Ahmed | Updated on: 24 Jul 2022, 11:22:48 PM
Fake Currency

घर में नोट छापने की फैक्ट्री से 2.74 करोड़ की फेक करेंसी जब्त (Photo Credit: File Photo)

highlights

  • फेक करेंसी मामले में पुलिस का बड़ा खुलासा
  • घर चल रही थी में नोट छापने की पूरी फैक्ट्री 
  • मुख्य आरोपी दीपक हरियाणा से गिरफ्तार

जयपुर:  

फेक करेंसी का अब तक का सबसे बड़ा मामला बीकानेर में पकड़ में आया है. बीकानेर आईजी ओमप्रकाश और एसपी योगेश यादव के निर्देशन पर जेएनवीसी थाना इलाक़े में रेड करते हुए 2.74 करोड़ की फेक करेंसी बरामद की गई. इसके साथ ही पुलिस ने छह आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इस मामले में वृंदावन एंक्लेव के एक घर में दबिश दी तो पाया कि घर में नोट छापने की पूरी फैक्ट्री चलाई जा रही थी. वही प्रिंटिंग मशीन से नोट छापे जा रहे थे. पुलिस पिछले एक महीने से इस मामले पर नज़र बनाए हुए थी, जिसके बाद कल इस मामले को लेकर रेड की तो पुलिस को करोड़ों फेक करेंसी हाथ लगी.

इस पूरे मामले का खुलासा बीकानेर रेंज के आईजी ओमप्रकाश ने रविवार को प्रेस वार्ता कर किया. आईजी ने बताया कि छ लोग को गिरफ्तार किए गया है, जिसमें मुख्य आरोपी दीपक को भी हरियाणा से गिरफ्तार कर लिया गया है. जहां इस करेंसी का इस्तेमाल हवाला के जरिए नकली करेंसी चलाने के लिए किया जा रहा था. वहीं, दिल्ली , कोलकाता, मणिपुर, हरियाणा सहित कई राज्यों में ये आरोपी धोखाधड़ी करते थे. IG ने बताया कि नोखा के दो कांस्टेबल की सूचना पर ये कार्रवाई की गई. उन्होंने कहा कि इस सूचना के बाद पिछले एक माह से 43 लोगों पर नजर रखी जा रही थी. इसके साथ ही आरोपियों के सोशल मीडिया पर भी नजर रखी जा रही थी. इसके अलावा ड्रोन से भी इनके इलाकों पर नजर रखी रखी गई. एसपी योगेश यादव और एएसपी अमित कुमार की सक्रियता की वजह से यह पूरा मामला सामने आया.  

यह भी पढ़ें- SSC घोटाला: अर्पिता मुखर्जी को कोर्ट में किया गया पेश, सुनवाई के बाद अदालत ने फैसला रखा सुरक्षित

पुलिस ने जो नोट बरामद किए हैं, उनमें 2 हज़ार और 500 के नोटो के पूरी सीरीज है. इसको लेकर सीबीआई और ईडी के अधिकारियों से भी सम्पर्क किया गया है. जाली नोटों पर लगाम को लेकर भी बड़ी बैठक बुलाई गई है. पुलिस के मुताबिक, ये आरोपी हाई क्वालिटी के प्रिंटर की मदद से घर में ये नोट प्रिंट करते थे. इसके पास से 2.74 करोड़ रुपए की करेंसी बरामद की गई है. गौरतलब है कि इन आरोपियों को दबोचने से पहले पुलिस का एक अटेम्प्ट फेल हुआ था, लेकिन पुख्ता जानकारी के बाद हमने अंजाम दिया.  पुलिस के मुताबिक मामले का मुख्य आरोपी दीपक लग्जरी लाइफ जीता है. अभी पूछताछ में और भी खुलासे होने की उम्मीद है. 

First Published : 24 Jul 2022, 11:17:50 PM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.