News Nation Logo
Banner

राहुल गांधी के मंच से सचिन पायलट को उतारा गया, आचार्य प्रमोद ने कांग्रेस के 'भविष्य पर' उठाया सवाल

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आचार्य प्रमोद ने कांग्रेस पर सवाल उठाए हैं. दरअसल, शनिवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी राजस्थान दौरे पर थे. यहां पहुंचने पर राहुल गांधी ने अजमेर में पंचायत को संबोधित किया.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 14 Feb 2021, 04:59:45 PM
acharya pramod

Congress Leader Acharya Pramod (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता आचार्य प्रमोद (Acharya Pramod) ने कांग्रेस पर सवाल उठाए हैं. दरअसल, शनिवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) राजस्थान दौरे पर थे. यहां पहुंचने पर राहुल गांधी ने अजमेर में पंचायत (Ajmer Panchayat) को संबोधित किया. लेकिन इसी दौरान सचिन पायलट को राहुल गांधी के मंच से उतार दिया गया था. सचिन पायलट (Sachin Pilot)  के साथ इस तरह के व्यवहार पर आचार्य प्रमोद ने कांग्रेस पर सवाल खड़े किए हैं. उन्होंने ट्विट करते हुए लिखा, 'किसानों की 'पंचायत' में किसान नेता को मंच से उतार कर किसानों का भला कैसे हो पायेगा, सवाल सचिन पायलट की तौहीन और इज्जत का नहीं है, सवाल कांग्रेस के 'भविष्य' का है.

बता दें कि आचार्य प्रमोद प्रियंका गांधी के काफी करीबी माने जाते हैं,. वे 2014 और 2019 का लोकसभा चुनाव कांग्रेस के टिकट पर लड़ चुके हैं. दोनों ही बार उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. 

मालूम हो कि राजस्थान के पूर्व उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन के मद्देनजर राज्य के किसानों को इकट्ठा करने के लिए किसान सम्मेलन कर रहे हैं. यह सम्मेलन 2 महीने से विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए किए जा रहे हैं.

और पढ़ें: राजस्थान: राहुल गांधी के रैली के दौरान लगे नरेंद्र मोदी जिंदाबाद के नारे

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि 2020 में हुए वाकये के बाद से पायलट साइडलाइन हैं और वे इस मुद्दे के जरिए राजनीतिक फायदा लेने की कोशिश कर रहे हैं. साथ ही किसान सम्मेलन के जरिए वे अपने राजनीतिक समर्थन को लेकर पार्टी नेतृत्व को संदेश भी भेजना चाह रहे हैं.

गौरतलब है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को अपनी यात्रा के दूसरे दिन, रूपनगढ़ में एक ट्रैक्टर रैली के दौरान ट्रैक्टर चलाया. इस दौरान सैकड़ों किसान इस रैली में शामिल हुए. गांधी ने एक ट्रैक्टर ट्रॉली के रूप में तैयार किए गए मंच से किसानों को संबोधित किया. राजस्थानी साफा (पगड़ी) पहनकर गांधी ट्रैक्टर से रैली स्थल पर पहुंचे, जिसमें राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा सवार थे.

एआईसीसी के महासचिव अजय माकन और पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट भी इस रैली में उपस्थित थे. बाद में, वह अजमेर में मकराना गए और अपने 19 मिनट के भाषण में, तीन कृषि कानूनों और किसानों पर इसके कथित प्रभाव पर चर्चा की.

ये भी पढ़ें: राजस्थान में फिर गरमाई सियासत, प्रियंका के करीबी ने सचिन पायलट को दिया CM बनने का आशीर्वाद

राहुल ने कहा, 'कोविड-19 महामारी के समय में लोगों ने मोदी से रेल और बस का टिकट मांगा. हालांकि, मोदी ने एक रुपया भी नहीं दिया. लेकिन इसी समय , उन्होंने अपने उद्योगपति मित्रों का 1,50,000 करोड़ रुपये का कर्ज माफ कर दिया.'

इससे पहले, शनिवार को, गांधी ने किशनगढ़ में स्थित तेजाजी मंदिर में प्रार्थना की और उसके बाद रूपगढ़ गए और एक ट्रैक्टर रैली को संबोधित किया. उनका दौरा मकराना में रैली को संबोधित करने के बाद संपन्न हुआ, जहां से वह किशनगढ़ हवाईअड्डे पर गए और दिल्ली पहुंचे.

First Published : 14 Feb 2021, 04:59:45 PM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.