News Nation Logo
CM Channi के गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी पहुंचने पर अध्यापकों का ज़ोरदार प्रदर्शन अध्यापकों की मांग - 7वें पे कमीशन की सिफारिशें पंजाब हों लागू ओमिक्रोन के अलर्ट के बीच पटना में 100 विदेशियों की तलाश भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से हराकर टेस्ट मैच श्रृंखला 1-0 से जीती टीम इंडिया ने घर में लगातार 14वीं टेस्ट सीरीज जीती न्यूजीलैंड पर 372 रनों से जीत रनों के लिहाज से भारत की टेस्ट मैचों में सबसे बड़ी जीत है उत्तराखंड के चमोली में देवल ब्लॉक के ब्रह्मताल ट्रेक मार्ग पर बर्फबारी हुई रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के साथ नई दिल्ली में बैठक की बाबा साहब आंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस आज. बसपा कर रही बड़ा कार्यक्रम नीट काउंसिलिंग में हो रही देरी के खिलाफ रेजिडेंट डॉक्टर्स आज ठप रखेंगे सेवा रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन आज आ रहे भारत. कई समझौतों को देंगे अंतिम रूप पंजाब के पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह आज करेंगे अमित शाह-जेपी नड्डा से मुलाकात.

शौर्य चक्र से सम्मानित संधू हत्याकांड मामले में NIA ने KLF के 2 सदस्यों को किया गिरफ्तार

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने मंगलवार को शौर्य चक्र से सम्मानित कामरेड बलविंदर सिंह संधू की हत्या के मामले में एक बड़ी सफलता हासिल की है. एजेंसी ने कहा कि उसने खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) के दो फरार एक्टिविस्ट को गिरफ्तार किया है.

IANS/News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 23 Jun 2021, 02:00:00 AM
NIA

एनआईए (Photo Credit: फाइल)

नयी दिल्ली:

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने मंगलवार को शौर्य चक्र से सम्मानित कामरेड बलविंदर सिंह संधू की हत्या के मामले में एक बड़ी सफलता हासिल की है. एजेंसी ने कहा कि उसने खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) के दो फरार एक्टिविस्ट को गिरफ्तार किया है, जिन्होंने संधू की हत्या में अहम भूमिका निभाई थी. एनआईए के एक प्रवक्ता ने यहां बताया कि आतंकवाद निरोधी जांच एजेंसी ने सोमवार को पंजाब के तरनतारन जिले के रहने वाले हरभिंदर सिंह उर्फ पिंडर और नवप्रीत सिंह उर्फ नव को गिरफ्तार किया. उन्हें मोहाली में एक विशेष एनआईए अदालत के समक्ष पेश किया गया, जिसने उन्हें चार दिन की एनआईए हिरासत में भेज दिया है.

अधिकारी ने कहा कि जांच के दौरान यह पता चला कि नवप्रीत और हरभिंदर चार्जशीटेड आरोपी इंद्रजीत सिंह उर्फ इंदर के करीबी सहयोगी हैं, जिन्होंने संधू की टोह ली थी और उनकी हत्या की साजिश में सक्रिय रूप से शामिल थे. संधू की पिछले साल 16 अक्टूबर को उनके आवास-सह-विद्यालय के बाहर हत्या कर दी गई थी. पंजाब पुलिस ने मामला दर्ज किया था. एनआईए ने इस साल एक जनवरी को मामला दर्ज किया था. एनआईए ने पहले मामले में आठ आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है.

यह भी पढ़ेंःचीन ने फिर रखी नई शर्त, भारत बोला- पैंगोंग से एक साथ हटें दोनों सेनाएं

आपको बता दें कि पिछले साल अक्टूबर के महीने में पंजाब में आतंकियों से लोहा लेने वाले शौर्य चक्र विजेता बलविंदर सिंह की घर में गोली मारकर हत्या कर दी गई. जिसके बाद परिवार वाले समेत स्थानीय लोगों में रोष का माहौल था. हत्या के बाद संधू के परिवारवालों ने अंतिम संस्कार करने के लिए मना कर दिया था.  बलविंदर सिंह की पत्नी जगदीश कौर ने कहा था कि बलविंदर सिंह ने देश के लिए शहादत दी है. इसलिए उन्हें शहीद का दर्जा दिया जाए और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए. इसके साथ ही उन्होंने प्रशासन और सरकार पर भी सवालिया निशान लगाए थे. उन्होंने कहा था कि हमारे परिवार पर हमलों के 42 एफआईआर दर्ज है. इसके अलावा कई और हमले हमारे उपर हुए, जो रिकॉर्ड में नहीं है. सुरक्षा वापस लेना गलत था.

इसे भी पढ़ें:बलिया कांड: मुख्य आरोपी ने वीडियो जारी कर दी सफाई, खुद को बताया बेकसूर

उन्होंने यह भी कहा था कि इसके लिए सरकार, प्रशासन और खुफिया एजेंसियां जिम्मेदार हैं. हमने फिर से सुरक्षा की मांग की, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. सुरक्षा कवच को स्टेटस सिंबल मानने वालों को दिया गया है. जिसे वाकई में जरूरत थी उसे नहीं दिया गया. वहीं मृतक बलविंदर सिंह की बेटी प्रणप्रीत कौर भी कहती है कि अगर हमारे पास सुरक्षा होती तो ऐसा नहीं होता, क्योंकि हत्यारों को प्रतिशोध की आशंका थी. हमने कई ईमेल, लिखित आवेदन भेजे और अधिकारियों से भी मुलाकात की, लेकिन हमें कोई सुरक्षा नहीं मिली.

First Published : 23 Jun 2021, 02:00:00 AM

For all the Latest States News, Punjab News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो