News Nation Logo
ओमिक्रॉन पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी 66 और 46 साल के दो मरीज आइसोलेशन में रखे गए भारत में ओमीक्रॉन वायरस की पुष्टि कर्नाटक में मिले ओमीक्रॉन के 2 मरीज सीएम योगी आदित्यनाथ ने प. यूपी को गुंडे-माफियाओं से मुक्त कराकर उसका सम्मान लौटाया है: अमित शाह जहां जातिवाद, वंशवाद और परिवारवाद हावी होगा, वहां विकास के लिए जगह नहीं होगी: योगी आदित्यनाथ पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में देश में चक्रवात से संबंधित स्थिति पर हुई समीक्षा बैठक प्रभावित देशों से आने वाले यात्रियों का एयरपोर्ट पर RT-PCR टेस्ट किया जा रहा है: सत्येंद्र जैन दिल्ली में पिछले कुछ महीनों से कोविड मामले और पॉजिटिविटी रेट काफी कम है: सत्येंद्र जैन आंदोलनकारी किसानों की मौत और बढ़ती महंगाई के मुद्दे पर विपक्षी सांसदों ने राज्यसभा में नारेबाजी की दिल्ली में आज भी प्रदूषण का स्तर काफी खराब, AQI 342 पर पहुंचा बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बैठकर गाया राष्ट्रगान, मुंबई BJP के एक नेता ने दर्ज कराई FIR यूपी सरकार ने भी ओमीक्रॉन को लेकर कसी कमर, बस स्टेशन- रेलवे स्टेशन पर होगी RT-PCR जांच

डॉक्टरों और स्टाफ को नहीं मिला 4 महीने से वेतन, ग्रामीण डिस्पेंसरियों में स्वास्थ्य सेवाएं ठप

आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब रूलिंग पार्टी पर गंभीर आरोप लगाए हैं. आप का कहना है कि राज्य में ग्रामीण डिस्पेंसरियों मे तैनात स्टाफ को कई माह से वेतन नहीं मिला है. गांवों में स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह ठप हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 15 Oct 2021, 08:40:31 PM
aman arora

file photo (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • पंचायत और स्वास्थ्य विभाग के बीच पिस रही ग्रामीण स्वास्थ्य सेवाएं
  • स्वास्थ्य सेवाओं के मुद्दे पर `आप' ने दी मुख्यमंत्री को चुनौती
  • कहा राज्य में नहीं हो रहा कुछ भी काम, चुनाव में जनता देगी जवाब 

नई दिल्ली :

आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब रूलिंग पार्टी पर गंभीर आरोप लगाए हैं. आप का कहना है कि राज्य में ग्रामीण डिस्पेंसरियों मे तैनात स्टाफ को कई माह से वेतन नहीं मिला है. गांवों में स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह ठप्प हैं. लेकिन सबकुछ जानने के बाद भी कांग्रेस की सरकार मामले से अनजान बनी है. शुक्रवार को आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं विधायक अमन अरोड़ा ने चन्नी सरकार को हर मोर्चे पर विफल बताया है.. उन्होने कहा है कि लोगों में रहने का ड्रामा करने वाले मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब की ग्रामीण डिस्पेंसरियों और शहरों के सरकारी अस्पताल नजर क्यों नहीं आ रहे?

यह भी पढें :Chhattisgarh:फिर लखीमपुर जैसी घटना दोहराई, गांजे से लदी जीप चढ़ाई

अमन अरोड़ा ने कहा कि सरकारी डिस्पेंसरियां और अस्पताल स्वयं वेंटिलेटर पर हैं, तो वहां आम मरीजों के ईलाज की क्या उम्मीद की जा सकती है. जिन डॉक्टरों और स्टाफ को चार महीने से वेतन नहीं मिला, वे ऐसी मानसिक परेशानी के हालात में मरीजों का ईलाज कैसे करेंगे? विधायक अरोड़ा ने आरोप लगाया कि अपने निजी फायदे और प्राइवेट अस्पताल माफिया के साथ मिलकर कांग्रेस और अकाली-भाजपा सरकारों ने पंजाब की सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं को पूरी तरह बर्बाद कर दिया है. जबकि 1980 तक पंजाब की स्वास्थ्य सेवाएं देश में सबसे अच्छी थी.


आप' नेता ने प्रदेश सरकार की स्वास्थ्य नीति पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि जब ग्रामीण विकास एवं पंचायत विभाग ग्रामीण डिस्पेंसरियों के सुचारू संचालन में बुरी तरह विफल है, फिर सभी ग्रामीण डिस्पेंसरियां एकसाथ वापस लेकर स्वास्थ्य विभाग को क्यों नहीं सौंपी जा रही? अमन अरोड़ा ने कहा कि ग्रामीण डिस्पेंसरियां पंचायत और स्वास्थ्य विभाग की खींचतान में पीस रही हैं.. पंचायत विभाग सभी 23 जिलों की कुल 1186 डिस्पेंसरियों को टुकड़ों में स्वास्थ्य विभाग को सौंप रहा है. इस कारण शेष करीब 600 डिस्पेंसरियां भी बिना देरी एकसाथ स्वास्थ्य विभाग को सौंपी जाएं तो स्वास्थ्य विभाग ग्रामीण क्षेत्र में बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं देने की अपनी जिम्मेदारी से पल्ला न झाड़ सके..

First Published : 15 Oct 2021, 08:40:31 PM

For all the Latest States News, Punjab News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो