News Nation Logo
Banner
Banner

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सिद्धू और कांग्रेस हाईकमान पर किया बड़ा हमला

अगर नवजोत सिंह सिद्धू सीएम फेस बनते हैं तो पंजाब कांग्रेस दहाई का आंकड़ा भी छू ले, यह बड़ी होगा.

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 22 Sep 2021, 08:42:10 PM
Cap amrinder singh

कैप्टन अमरिंदर सिंह, पूर्व मुख्यमंत्री,पंजाब (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सिद्धू और कांग्रेस हाईकमान के खिलाफ जमकर गुस्सा फोड़ा
  • सिद्धू को पंजाब का बनने से रोकने के लिए कोई भी कुर्बानी देने को तैयार हूं
  • मैं जीत के बाद राजनीति छोड़ने के लिए तैयार था लेकिन हार के बाद कभी नहीं

चंडीगढ़:

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिंह सिद्धू और कांग्रेस हाईकमान के खिलाफ जमकर गुस्सा फोड़ा है. सिंह ने कहा कि सिद्धू मुख्यमंत्री न बने इसके लिए वह कोई भी कुर्बानी देने को तैयार हैं. कैप्टन ने राहुल और प्रियंका गांधी को अनुभवहीन बताते हुए कहा कि उनके सलाहकार उन्हें बरगला रहे हैं. दरअसल पंजाब में फेरबदल के बाद पहली बार कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिंह के साथ पार्टी हाईकमान पर सीधा हमला बोला है. पंजाब में चरणजीत सिंह चन्नी के सीएम बनने के बाद ही कैप्टन के अगले दांव पर सबकी नजर थी.कैप्टन ने चन्नी के शपथग्रहण समारोह में शामिल न होकर साफ तौर पर जाहिर करा दिया था कि वह हाईकमान के फैसले से अभी भी नाराज हैं.

यह भी पढ़ें:चीन पर मोदी सरकार की नकेल, LIC IPO में चीनी निवेशकों की नो-एंट्री!

अब कैप्टन अमरिंदर सिंह की ओर से एक उनके मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने एक के बाद एक सिलसिलेवार ट्वीट किए हैं.पहले ट्वीट में ही सिद्धू के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए अमरिंदर सिंह के हवाले से लिखा गया, 'सिद्धू को पंजाब का बनने से रोकने के लिए कोई भी कुर्बानी देने को तैयार हूं. 2022 विधानसभा चुनाव में उसकी हार सुनिश्चित करने के लिए मजबूत शख्स को उनके खिलाफ खड़ा करूंगा.अगर नवजोत सिंह सिद्धू सीएम फेस बनते हैं तो पंजाब कांग्रेस दहाई का आंकड़ा भी छू ले, यह बड़ी होगा.'

यह भी पढ़ें:एयर इंडिया के सीएमडी राजीव बंसल बने नागरिक उड्डयन मंत्रालय में सचिव

दूसरे ट्वीट में लिखा, 'मैं जीत के बाद राजनीति छोड़ने के लिए तैयार था लेकिन हार के बाद कभी नहीं.मैंने 3 हफ्ते पहले ही सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा सौंप दिया था लेकिन उन्होंने मुझे पद पर बने रहने के लिए कहा.अगर उन्होंने मुझे फोन किया होता और पद छोड़ने के लिए कहा होता, तो मैं ऐसा भी कर लेता।' इसके बाद ठुकराल ने कैप्टन का अगला बयान ट्वीट किया, 'प्रियंका और राहुल मेरे बच्चों की तरह हैं... इसे इस तरह नहीं खत्म होना चाहिए था.मैं दुखी हूं. तथ्य यह है कि गांधी भाई-बहन अनुभवहीन हैं और उनके एडवाइजर उन्हें स्पष्ट रूप से गुमराह कर रहे हैं.'

First Published : 22 Sep 2021, 08:42:10 PM

For all the Latest States News, Punjab News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.