News Nation Logo

विदेशी वैक्सीन को लेकर ओडिशा सरकार ने केंद्र को लिखी चिट्ठी, कहा- राज्यों को मंजूरी दें

नबा किशोर दास ने अपनी चिट्ठी में केंद्र सरकार से कहा कि वो राज्यों को अधिकार दे कि वो भी विदेशी वैक्सीन को खरीद सकें. उन्होंने लिखा कि जिन राज्यों ने वैश्विक निविदाएं जारी की हैं, उन्हें वैक्सीन निर्माताओं की गैर-प्रतिक्रिया का सामना करना पड़ रहा है.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 01 Jun 2021, 04:29:25 PM
Naba Kishore Das

Naba Kishore Das (Photo Credit: ANI)

highlights

  • नबा किशोर दास ने वैक्सीन कमी को लेकर जताई चिंता
  • विदेशी वैक्सीन खरीदने में राज्यों को दिक्कत हो रही- दास

नई दिल्ली:

देश के ज्यादातर राज्यों में कोरोना वैक्सीन की कमी देखने को मिल रही है, जिसके कारण वैक्सीनेशन का काम भी धीमा हो चुका है. ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नबा किशोर दास (Naba Kishore Das) ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Dr. Harsh Vardhan) को पत्र लिखकर वैक्सीन की आपूर्ति करने की अपील की. नबा किशोर दास ने अपनी चिट्ठी में केंद्र सरकार से कहा कि वो राज्यों को अधिकार दे कि वो भी विदेशी वैक्सीन को खरीद सकें. उन्होंने लिखा कि जिन राज्यों ने वैश्विक निविदाएं जारी की हैं, उन्हें वैक्सीन निर्माताओं की गैर-प्रतिक्रिया का सामना करना पड़ रहा है. इसके अलावा उन्होंने अपनी चिट्ठी में केंद्र से अपील की अलग-अलग राज्यों के बजाय केंद्र सरकार देश-स्तर पर वैश्विक टीकों को खरीदे. 

ये भी पढ़ें- पीएम मोदी 12वीं की परीक्षाओं को लेकर करेंगे बैठक, संभावित विकल्प पर होगी चर्चा

चिट्ठी में उन्होंने आगे लिखा कि फाइजर और मॉडर्न जैसे वैक्सीन निर्माता क्षतिपूर्ति से संबंधित मुद्दों के बारे में चिंतित हैं और केवल इस स्तर पर संघीय स्तर की केंद्रीय खरीद से निपटने के इच्छुक हैं, यह कहते हुए कि उन्हें राज्यों को आपूर्ति करने के लिए केंद्र स्तर की वैधानिक मंजूरी की आवश्यकता होगी. नबा किशोर दास इससे पहले भी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखकर वैक्सीन से संबंधित समस्या केंद्र को बता चुके हैं.

इससे पहले जब उन्होंने डॉ हर्षवर्धन को पत्र लिखा था तो उसमें उन्होंने कहा था कि राज्य के पास जून में केंद्रीय कोटे से 3,45,550 अतिरिक्‍त खुराक का स्टॉक होगा, जिसे 18 से अधिक के टीकाकरण के लिए डायवर्ट किया जा सकता है. राज्य सरकार शहर में आयु-उपयुक्त लाभार्थियों को कोवैक्सिन का प्रबंध कर रही है. जबकि राज्य को अब तक केंद्रीय आपूर्ति के तहत 9,86,780 खुराक प्राप्त हुई है, उसे 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी 3.96 लाख लाभार्थियों के टीकाकरण के लिए 7,92,730 खुराक की आवश्यकता है.

उन्होंने केंद्र से 3.96 लाख लोगों को कोवैक्‍सीन लगाने की अनुमति मांगी थी. राज्‍य सरकार ने 45 और उससे अधिक आयु वर्ग के स्टॉक में बची हुई कोवैक्सिन वैक्सीन को शहर में 18-44 वर्ष के समूह को लगाने की अनुमति देने का आग्रह किया था. वहीं नबा किशोर दास ने सोमवार को बुर्ला के वीर सुरेंद्र साई आयुर्विज्ञान संस्थान के कोविड-19 अस्पतालों में मरीजों की देखभाल और अन्य सुविधाओं की समीक्षा की. इस दौरान उन्होंने अश्विनी कोविड -19 अस्पताल और संबलपुर जिला मुख्यालय अस्पताल (डीएचएच) के परिसर का भी निरीक्षण करके हालातों का जायजा लिया.

ये भी पढ़ें- मेहुल चोकसी को भारत लाने की तैयारी, CBI और ED की टीम जाएगी डोमिनिका

इस दौरान उन्होंने संबलपुर डीएचएच में आयोजित समीक्षा बैठक के दौरान कोविड अस्पतालों में अन्य उपभोग्य सामग्रियों के अलावा रेमेडिसविर इंजेक्शन के स्टॉक के बारे में भी जानकारी ली. उन्होंने अधिकारियों और डॉक्टरों से अस्पताल में मरीजों को सर्वोत्तम देखभाल प्रदान करने के लिए सभी पड़ावों को हटाने का निर्देश दिया. मीडियाकर्मियों से बात करते हुए दास ने कहा कि '20 जून तक संबलपुर में एक नया कोविड अस्पताल बन जाएगा. मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने पहले ही प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है और जिला प्रशासन के अधिकारियों को काम में तेजी लाने का निर्देश दिया है.'

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 01 Jun 2021, 04:08:38 PM

For all the Latest States News, Other State News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.