News Nation Logo

हैदराबाद की नई मेयर का अजीबोगरीब बयान, शहर बचाने के लिए भगवान से कर रहीं ऐसी प्रार्थना

हैदराबाद (Hyderabad) की नवनिर्वाचित मेयर गढ़वाल विजयलक्ष्मी का अजीबोगरीब बयान सामने आया है. वह भगवान से प्रार्थना कर रही हैं कि पूरे पांच साल तक बारिश ही न हो.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 17 Feb 2021, 11:16:12 AM
Hyderabad Mayor Gadwal Vijayalakshmi

भगवान भरोसे हैदराबाद की नई मेयर, शहर बचाने को कर रहीं ऐसी प्रार्थना (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • हैदराबाद की नई मेयर का अजीबोगरीब बयान
  • शहर बचाने के लिए कर रहीं भगवान से प्रार्थना
  • अगले पांच साल तक शहर में बारिश हो- मेयर

हैदराबाद:

बारिश (Rain) न हो तो हर कोई विचलित हो जाता है. किसानों का तो अधिकतर काम बारिश पर ही निर्भर रहता है. उनकी फसल के लिए बारिश काफी मायने रखती है. बारिश न होने पर लोग भगवान से प्रार्थना भी करने लगते हैं कि बारिश हो जाए. लेकिन इस बीच हैदराबाद की नवनिर्वाचित मेयर गढ़वाल विजयलक्ष्मी (Mayor Gadwal Vijayalakshmi) का अजीबोगरीब बयान सामने आया है. वह भगवान से प्रार्थना कर रही हैं कि पूरे पांच साल तक बारिश ही न हो. आपको बता दें कि हैदराबाद (Hyderabad) की मेयर विजया लक्ष्मी पद संभालने के बाद ही विवादों में रही हैं.

यह भी पढ़ें : निकाय चुनाव के 2,252 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला आज, मतगणना जारी 

हैदराबाद की नई महापौर गढ़वाल विजयलक्ष्मी ने एक बार फिर अपने बयान के साथ एक सियासी तूफान खड़ा कर दिया, जिसमें वह भगवान से प्रार्थना कर रही हैं कि अगले पांच वर्षों तक हैदराबाद में बारिश न हो. दरअसल, हैदराबाद शहर को बचाने के लिए मेयर गढ़वाल विजयलक्ष्मी 'भगवान भरोसे' हैं. वह चाह रही हैं कि जब तक वह मेयर रहें, तब तक शहर में बारिश ही न हो. एक टीवी इंटरव्यू में हैदराबाद की मेयर ने कहा कि मैं भगवान से प्रार्थना करती हूं कि अब से पांच साल तक कोई बारिश नहीं होनी चाहिए.

इंटरव्यू में जब पत्रकार ने हैदराबाद की मेयर से पूछा कि पिछले दिनों में बाढ़ से प्रभावित लोगों को वह किस तरह का आश्वासन देंगी, जो शहर में भारी बारिश के कारण प्रभावित हुए थे. इस पर मेयर ने जवाब दिया, 'मैं भगवान से प्रार्थना करती हूं कि अब से पांच साल तक कोई बारिश नहीं होनी चाहिए.' हालांकि मेयर गढ़वाल विजयलक्ष्मी अपने इस बयान के बाद लोगों के निशाने पर आ गई हैं.

यह भी पढ़ें : आम आदमी को लग सकता है बड़ा झटका, टैरिफ बढ़ा सकती हैं टेलिकॉम कंपनियां

उल्लेखनीय है कि पिछले साल अक्टूबर में हैदराबाद में मूसलाधार बारिश से स्थिति बेहद बिगड़ गई थी. हैदराबाद में भारी बारिश और बाढ़ की वजह से करीब 50 लोगों ने जान गवां दी थी. हजारों करोड़ की संपत्ति को भी नुकसान पहुंचा था. कई इलाकों में ट्रैफिक व्यवस्था ध्वस्त हो गई थी. हालात ऐसे थे कि लोगों के घर पानी में डूब गए थे. सड़कों पर जेसीबी के सहारे कारों को निकाला गया था. 2 फीट से अधिक पानी देखा गया था.

हालांकि इससे पहले विजया लक्ष्मी (Vijaya Lakshmi) हैदराबाद की मेयर का पद संभालने के 72 घंटे बाद ही विवादों में आ गई थीं. दरअसल, उन्होंने शेखपेट के तहसीलदार श्रीनिवास रेड्डी का ट्रांसफर कर दिया था. तहसीलदार श्रीनिवास को उनका ट्रांसफर ऑर्डर उस वक्त मिला, जब वह विशाखापत्तनम में हुई दुर्घटना के बाद वहां बचाव कार्य में जुटे थे. जिसके बाद मुख्य सचिव ने हैदराबाद कलेक्टर को तुरंत कार्रवाई करने और अनुपालन की रिपोर्ट देने का निर्देश दिया था. बताया जाता है कि श्रीनिवास रेड्डी की गिनती काफी ईमानदार अफसरों में होती है. 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 17 Feb 2021, 11:16:12 AM

For all the Latest States News, Other State News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो