News Nation Logo
Banner

मुंबई में गणपति के पंडालों में NO ENTRY, श्रद्धालुओं की भीड़ का देखें वीडियो

महाराष्ट्र के मुंबई में गणेश महोत्सव को लेकर 10-19 सितंबर तक धारा 144 लागू करने का फैसला किया गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 09 Sep 2021, 10:59:12 PM
GANESH CHATURTHI

गणेश चतुर्थी पर खरीदारी करते लोग (Photo Credit: TWITTER HANDLE)

highlights

  • मुंबई में गणेश महोत्सव को लेकर 10-19 सितंबर तक धारा 144 लागू करने का फैसला
  • गणेश चतुर्थी पर दादर मार्केट में खरीदारी करती भारी भीड़
  • केंद्र ने महाराष्ट्र सरकार को त्योहारों के मद्देनजर प्रतिबंध लगाने की सलाह दी थी

नई दिल्ली:

गणेश चतुर्थी  पूरे देश में मनाया जाता है. लेकिन महाराष्ट्र में गणेश चतुर्थी बड़े धूम-धाम से मनाया जाता है. गणेश चतुर्थी के एक दिन पहले  बड़ी संख्या में लोग मुंबई की दादर मार्केट में खरीदारी करने पहुंचे. कोरोना के मद्देनजर महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई में गणपति के पंडालों में श्रद्धालुओं के जाने और जुलूस निकालने की इजाजत नहीं दी है. कोरोना को देखते हुए जहां भीड़ इकट्ठा करने पर रोक है और सामाजिक दूरी बनाने पर जोर दिया जा रहा है वहीं गणेश चतुर्थी पर दादर मार्केट में खरीदारी करती भारी भीड़ को देखकर आश्चर्य  भी होता है. क्योंकि देश में कोरोना की दूसरी लहर में बहुत से लोग कोरोना की भेंट चढ़ गए और कोरोना की तासरी लहर की आशंका जतायी जा रही है.

महाराष्ट्र के मुंबई में गणेश महोत्सव को लेकर 10-19 सितंबर तक धारा 144 लागू करने का फैसला किया गया है. मुंबई की मेयर ने भी हाल ही में कहा है कि कोरोना की तीसरी लहर आ गई है. 'घर में मनाएं गणेश चतुर्थी' मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने लोगों से घर पर ही गणेश चतुर्थी मनाने की अपील की. उन्होंने कहा, ''मुंबई मेयर होते हुए मैं तो 'मेरा घर, मेरा बप्पा' को फॉलो करने जा रही हूं. मैं कहीं भी नहीं जाऊंगी और न ही किसी को अपने भगवान के पास लाऊंगी. कोरोना की तीसरी लहर को रोकने के लिए यह काफी महत्वपूर्ण है.''

यह भी पढ़ें:केरल में नहीं कम हो रहे कोरोना के मामले, स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा-नहीं खत्म हुई है दूसरी लहर

इससे पहले अगस्त के आखिरी हफ्ते में केंद्र ने महाराष्ट्र सरकार को त्योहारों के मद्देनजर प्रतिबंध लगाने की सलाह दी थी. महाराष्ट्र के मुख्य सचिव को लिखे पत्र में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा था, 'इस आदेश के जरिए सुझाव दिया जाता है कि महाराष्ट्र में आगामी त्योहारों के दौरान सार्वजनिक कार्यक्रमों तथा लोगों के इकट्ठा होने के मद्देनजर (जिनमें दही हांडी और गणपति महोत्सव शामिल है) राज्य सरकार स्थानीय तौर पर पाबंदी लगाए.

दही हांडी और गणपति महोत्सव महाराष्ट्र का बहुत लोकप्रिय त्योहार है. उक्त दोनों त्योहारों में मुंबई और महाराष्ट्र के दूसरे शहरों में अधिकांश जनता सड़कों पर होती है. महाराष्ट्र सरकार ने कुछ दिनों पहले दही हांडी पर रोक लगा दी थी अब गणेश चतुर्थी पर किसी सार्वजनिक समारोह पर रोक लगा दिया है. क्योंकि महाराष्ट्र में अभी कोरोना संकट खत्म नहीं हुआ है. राज्य में लगातार कोरोना के चार हजार से ज्यादा मामले दर्ज किए जा रहे हैं. मौतें भी कुछ खास कम होती नहीं दिखी हैं. पिछले 24 घंटे की बात करें तो महाराष्ट्र में कोरोना के 4,219 नए मामले सामने आए हैं, वहीं 15 लोगों ने इस महामारी के आगे अपना दम तोड़ा.  

First Published : 09 Sep 2021, 10:56:00 PM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो