News Nation Logo

ED ने महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया

कुछ समय पहले अनिल देशमुख पर 100 करोड़ रुपये की वसूली का आरोप लगा था, जिसके बाद उन्हें गृहमंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा था.

News Nation Bureau | Edited By : Apoorv Srivastava | Updated on: 06 Sep 2021, 05:52:59 PM
anil

anil (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • महाराष्ट्र की वर्तमान सरकार में 2019 से 2021 तक गृहमंत्री रहे हैं अनिल
  • 100 करोड़ रुपये की वसूली  मामले की बाद देना पड़ा था इस्तीफा
  • आशंका जताई जा रही थी कि वह विदेश भाग सकते हैं

नई दिल्ली :

100 करोड़ रुपये की वसूली मामले में अनिल देशमुख के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी हो चुका है. आशंका जताई जा रही थी कि वह विदेश भाग सकते हैं, ऐसे में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री और एनसीपी नेता अनिल देशमुख के खिलाफ सोमवार को लुकआउट नोटिस जारी कर दिया. गौरतलब है कि कुछ 
समय पहले अनिल देशमुख पर 100 करोड़ रुपये की वसूली का आरोप लगा था, जिसके बाद उन्हें गृहमंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा था. पिछले महीने सुप्रीम कोर्ट ने भी उन्हें अंतरिम राहत देने से इंकार कर दिया था. इस मामले की जांच सीबीआई कर रही है. साथ ही मनी लांड्रिंग के मामले में प्रवर्तन निदेशालय भी जांच कर रहा है. 

इसे भी पढ़ेंः IPL 2021: अनुष्का नहीं, इस विदेशी हसीना ने किया आरसीबी को सपोर्ट 

मीडिया रिपोर्टस में दावा किया जा रहा है कि ईडी ने अनिल देशमुख को वसूली मामले में पांच बार समन भिजवाया लेकिन वो पेश नहीं हुए. उन्होंने समन रद्द करवाने के लिए 2 सितंबर को बांबे हाईकोर्ट का रुख किया था. इस याचिका पर अभी तक सुनवाई नहीं हुई है. ईडी पांच पर समन भेज पूछताछ के लिए पेश होने को कह चुकी है लेकिन देशमुख ने हर समन यह कहते हुए लौटा दिया कि वह कानूनी कदम उठा रहे हैं. इसके बाद अब उनके विदेश भागने की आशंका जताई गई तो ईडी ने लुकआउट नोटिस जारी कर दिया. अब वह विदेश नहीं जा सकते. आपको बता दें कि मुंबई पुलिस के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने देशमुख पर 100 करोड़ रुपये की वसूली और उसके लिए पुलिस अधिकारियों के गलत इस्तेमाल का आरोप लगाया है. इस मामले में सीबीआई जांच चल रही है. वहीं, प्रवर्तन निदेशालय ने भी मनी लांड्रिंग मामले में जांच शुरू कर दी है.  शुरू में ईडी ने देशमुख के कई ठिकानों पर छापेमारी की थी. वसूली के मामले में अनिल देशमुक सहित कई अन्य लोगों पर भी आरोप है. 

बता दें कि अनिल देशमुख महाराष्ट्र में कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं. वह 9वीं, 10वीं, 11वीं, 12वीं और 14वीं  महाराष्ट्र विधानसभा में मेंबर रहे. वह महाराष्ट्र की वर्तमान सरकार में 2019 से 2021 तक गृहमंत्री रहे हैं. पहले भी वह महाराष्ट्र सरकार में तमाम पदों पर रह चुके हैं. अब सभी की नजरें अनिल देशमुख पर हैं कि लुकआउट नोटिस के बाद उनका क्या कदम होगा. 

 

First Published : 06 Sep 2021, 05:12:50 PM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.