News Nation Logo

महाराष्ट्र में 18-45 आयु वर्ग के टीकाकरण के लिए 12 करोड़ वैक्सीन की जरूरत

18-45 आयु वर्ग के लिए टीकाकरण के महत्वाकांक्षी चरण के 1 मई से बमुश्किल 72 घंटे पहले महाराष्ट्र सरकार ने मंगलवार को यहां कोविड-19 खुराक को लेकर पर्याप्त मात्रा वैक्सीन को लेकर सरकार को घेरना शुरू कर दिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 27 Apr 2021, 06:02:54 PM
vaccination

महाराष्ट्र में 18-45 आयु वर्ग के टीकाकरण को 12 करोड़ वैक्सीन की जरूरत (Photo Credit: IANS)

highlights

  • महाराष्ट्र सरकार ने कोविड-19 खुराक को लेकर पर्याप्त मात्रा वैक्सीन को लेकर केंद्र को घेरा
  • कोविशिल्ड (एसआईआई) और कोवैक्सीन (बीबीआईएल) की कितनी खुराकें आपूर्ति कर सकती हैं
  • एसआईआई कोविशिल्ड वैक्सीन को 400 रुपये प्रति खुराक पर और निजी अस्पतालों को 600 रुपये पर दे रहा

मुंबई:

18-45 आयु वर्ग के लिए टीकाकरण के महत्वाकांक्षी चरण के 1 मई से बमुश्किल 72 घंटे पहले महाराष्ट्र सरकार ने मंगलवार को यहां कोविड-19 खुराक को लेकर पर्याप्त मात्रा वैक्सीन को लेकर सरकार को घेरना शुरू कर दिया है. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव डॉ प्रदीप व्यास ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला और भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक डॉ कृष्णा एम एला को अलग-अलग पत्र भेजे हैं. उन्होंने कहा कि अगर महाराष्ट्र सरकार अपनी 18-45 आयु वर्ग की आबादी का टीकाकरण करने का फैसला किया है, तो इसका अनुमान लगभग 5 करोड़ है, इसके लिए लगभग 12 करोड़ वैक्सीन खुराक की आवश्यकता होगी.

व्यास ने दोनों से पूछा कि कोविशिल्ड (एसआईआई) और कोवैक्सीन (बीबीआईएल) की कितनी खुराकें हैं, दोनों कंपनियां राज्य सरकार को आपूर्ति कर सकती हैं, जो मई 2021 से अगले छह महीनों तक हर महीने करनी है.

यह भी पढे़ं : केंद्र ने SC में दाखिल किया जवाब, ऑक्सीजन को लेकर पीएम मोदी खुद सक्रिय 

सरकार ने वैक्सीन मूल्य निर्धारण और किसी भी अन्य शर्तों के बारे में जानकारी मांगी है जो कंपनियों को संबंधित अधिकारियों को मामले में प्राथमिकता निर्णय लेने में सक्षम करने के लिए हो सकती है. हाल ही में, दोनों कंपनियों ने घरेलू बाजार में वैक्सीन की आपूर्ति के लिए अपनी संशोधित कीमतों की घोषणा की थी.

एसआईआई कोविशिल्ड वैक्सीन को 400 रुपये प्रति खुराक पर और निजी अस्पतालों को 600 रुपये प्रति खुराक पर दे रहा है, जबकि बीबीआईएल इसे 600 रुपये प्रति खुराक पर राज्य सरकारों को और 1,200 रुपये प्रति निजी अस्पतालों को दे रहा है.

एसआईआई ने कहा कि निजी बाजारों में वैश्विक टीके बहुत अधिक दरों पर उपलब्ध हैं. 1500 रुपये प्रति डोज (अमेरिकी खुराक), और 750 प्रति डोज (रशियन और चाइनीज डोज), जबकि बीबीआईएल ने कहा कि कंपनी अपने टीकों को 15-20 डॉलर प्रति खुराक (लगभग औसतन रु 1200 रुपये प्रति खुराक) बीच में निर्यात कर रही है.

First Published : 27 Apr 2021, 06:02:54 PM

For all the Latest States News, Maharashtra News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.