News Nation Logo
Banner

कमलनाथ की विवादित टिप्पणी के विरोध में शिवराज चौहान रखेंगे मौन धरना

कमलनाथ ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि, 'सुरेंद्र राजेश हमारे उम्मीदवार हैं, सरल स्वभाव के सीधे साधे हैं. यह उसके जैसे नहीं है, क्या है उसका नाम? मैं क्या उसका नाम लूं आप तो उसको मुझसे ज्यादा अच्छे से जानते हैं, आपको तो मुझे पहले ही सावधान कर देना

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 18 Oct 2020, 09:52:50 PM
shivraj singh chauhan

शिवराज सिंह चौहान (Photo Credit: फाइल )

नई दिल्‍ली:

आगामी 3 नवंबर को होने वाले मध्य प्रदेश के विधानसभा उपचुनावों में नेता अपनी मर्यादा भूलते हुए नजर आ रहे हैं. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) ने डबरा में एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे जिसमें उन्होंने बीजेपी उम्मीदवार इमरती देवी पर विवादित टिप्पणी करते हुए उन्हें आइटम कह दिया था, वहीं अजय सिंह ने उन्हें जलेबी बोल दिया था. मध्य प्रदेश के उपचुनावों में इन बयानो के बाद सियासत तेज हो गई. अब सूबे के मुखिया शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने सोमवार को कमलनाथ के बयान के विरोध में दो घंटे तक मौन प्रदर्शन रखने का ऐलान कर दिया है. आपको बता दें कि शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ के बयान की निंदा करते हुए कमलनाथ को देश की सभी बेटियों से माफी मांगने की मांग कर दी है.

सूबे के मुखिया शिवराज सिंह चौहान सोमवार को बीजेपी के उम्मीदवार इमरती देवी के सम्मान में राजधानी भोपाल में  सुबह 10 बजे से 12 बजे तक दो घंटे के लिए मौन धरना देंगे. आपको बता दें कि इसके पहले मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने डबरा विधानसभा से बीजेपी उम्मीदवार इमरती देवी को आइटम कह दिया था जिसके बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने पलटवार करते हुए कहा कि यह सिर्फ इमरती देवी का अपमान नहीं बल्कि मध्य प्रदेश की बेटी का अपमान है. बहनों का अपमान है. धरती का अपमान है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस को क्या हो गया है. कमलनाथ मुख्यमंत्री रहे हैं. वर्षों तक जिस बेटी ने कांग्रेस की सेवा की उसके विरुद्ध अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल कर रहे हैं. क्या गरीब बेटी का अपमान किया जाएगा. क्या बहन-बेटियों का कोई सम्मान नहीं है. 

यह भी पढ़ें-MP Bypoll: BJP-कांग्रेस की बड़ी चुनौतियां, जानिए क्या होगा हार-जीत का समीकरण

ये था पूरा मामला
मामला मध्य प्रदेश के डबरा विधानसभा का है जहां पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ अपनी पार्टी के प्रत्याशी सुरेंद्र राज्य के लिए प्रचार करने पहुंचे. इस चुनावी जनसभा में पूर्व सीएम ने बीजेपी के कैंडिडेट को लेकर विवादित बोल बोल दिया. कमलनाथ ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि, 'सुरेंद्र राजेश हमारे उम्मीदवार हैं, सरल स्वभाव के सीधे साधे हैं. यह उसके जैसे नहीं है, क्या है उसका नाम? मैं क्या उसका नाम लूं आप तो उसको मुझसे ज्यादा अच्छे से जानते हैं, आपको तो मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था, 'यह क्या आइटम है'.

यह भी पढ़ें-कमलनाथ के विवादित बोल, BJP प्रत्याशी को कहा 'आइटम', CM शिवराज ने दिया ये जवाब

बीजेपी ने की कमलनाथ के बयान की निंदा
भारतीय जनता पार्टी ने कमलनाथ के इस बयान की निंदा की है और कहा कि ये कांग्रेस की सामंतवादी सोच का नतीजा है कि उनके वरिष्ठ नेता एक महिला उम्मीदवार को लेकर ऐसे बयान दे रहे हैं. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ के बयान की निंदा करते हुए कहा कि, कमलनाथ ने नवरात्रों में ही महिला का अपमान किया है. उन्हें इस बयान के लिए देश की हर महिला से माफी मांगनी चाहिए. उन्होंने कहा कि खुद को ‘मर्यादा पुरुषोत्तम’ बताने वाले ऐसी ‘अमर्यादित भाषा’ का प्रयोग कर रहे हैं? नवरात्रि के पावन पर्व पर देश नारी की उपासना कर रहा है, ऐसे में आपके बयान से आपकी ओछी मानसिकता झलकती है.

First Published : 18 Oct 2020, 09:45:51 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो