News Nation Logo

माता-पिता ने आग में झुलसी बच्ची को घर में रखा कैद, पूरा माजरा जान कांप जाएंगे आप

मध्यप्रदेश के शाजापुर जिले के रानी बड़ौद थाना अकोदिया में बेटी पर अत्याचार कि अमानवीय तस्वीर सामने आई है. आग में बुरी तरह झुलसी बेटी को माता-पिता इलाज कराने की बजाय 22 दिन तक घर में बंद रखा.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 19 Dec 2020, 05:23:34 PM
demo photo

माता-पिता ने आग में झुलसी बच्ची को घर में रखा कैद (Photo Credit: प्रतिकात्मक फोटो)

नई दिल्ली :

मध्यप्रदेश के शाजापुर जिले के रानी बड़ौद थाना अकोदिया में बेटी पर अत्याचार कि अमानवीय तस्वीर सामने आई है. आग में बुरी तरह झुलसी बेटी को माता-पिता इलाज कराने की बजाय 22 दिन तक घर में बंद रखा. उसका इलाज घर में ही हो रहा था, जिसकी वजह से लड़की के अंग सड़ने लगे थे. जैसे ही बदबू फैलने लगी पड़ोसियों को इसकी भनक लगी. 

पड़ोसियों ने इसकी सूचना पुलिस को दी. अकोदिया टीआई ने इस दिशा में मानवता की मिसाल पेश करते हुए आर्थिक मदद की और पीड़ित लड़की को इलाज के लिए भोपाल भेजा गया. जहां उसका इलाज चल रहा है. हालांकि उसकी हालत बेहद ही नाजुक बताई जा रही है. 

इसे भी पढ़ें:कांग्रेस की बैठक में बोले नेता- राहुल गांधी को अध्यक्ष बनना चाहिए, क्योंकि... 

10 साल की लड़की 26 नवंबर को जल गई थी. उसका इलाज घर पर किया जा रहा था. जिसकी वजह से उसके अंग खराब होने शुरू हो गए थे. बच्ची के शरीर से दूर्गंध निकलने लगे थे.

और पढ़ें:जय श्रीराम के उद्घोष के साथ शाह का TMC पर हमला, जानिए 10 बड़ी बातें

इस मामले को लेकर  टीआईएचएसएस ने कहा कि बच्ची के माता-पिता पर भी कार्रवाई करने का निवेदन किया गया है. ताकि आगे से इस तरह का काम ना करें. बच्ची के माता पिता इलाज कराने में सक्षम हैं. जानकारी की मानें तो उनके पास 15 बीघा जमीन है. बावजूद इसके बच्ची को अस्पताल ले जाने के उसका इलाज घर में कर रहे थे.

 

First Published : 19 Dec 2020, 05:23:34 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Fire Madhya Pradesh Crime