News Nation Logo

कोरोना काल में शिवराज सरकार का काम बेहतरीन रहा: कैलाश विजवर्गीय

इस दौरान कैलाश विजयवर्गीय ने एमपी में कोरोना संक्रमण नियंत्रण पर कहा कि शिवराज सरकार ने इस संकट काल में बेहतरीन काम किया है. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने जिला कलेक्टर के साथ तालमेल बिठा के कोरोना पर अच्छा का काम किया है.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 31 May 2021, 11:29:23 AM
शिवराज सरकार

शिवराज सरकार (Photo Credit: फाइल फोटो)

भोपाल:

बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने मध्य प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा से मुलाकात की. दोनों नेताओं के बीच लगभग एक घंटे बातचीत हुई है. इस दौरान कैलाश विजयवर्गीय ने एमपी में कोरोना संक्रमण नियंत्रण पर कहा कि शिवराज सरकार ने इस संकट काल में बेहतरीन काम किया है. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने जिला कलेक्टर के साथ तालमेल बिठा के कोरोना पर अच्छा का काम किया है. वहीं कमलनाथ पर बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री रहते हुए भी कमलनाथ के पास पेन ड्राइव थी. कमलनाथ से पूछिए उनके पास पेनड्राइव है या नहीं.

पश्चिम बंगाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बैठक में सीएम ममता बैनर्जी की गैरहाजरी पर कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि कोई भी प्रदेश का मुख्यमंत्री हो उसे संविधान में दी व्यवस्था को मानना चाहिए.

उन्होंने टीएमसी अध्यक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि दुर्भाग्य से पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी समझती है कि वह देश के प्रधानमंत्री हैं. बंगाल के चीफ सेक्रेटरी को भी जाने नहीं दिया जा रहा है मुझे इसकी जानकारी लगी है. 

और पढ़ें: कमल नाथ झूठ के सहारे भय का माहौल बनाने की कोशिश में हैं : बीजेपी

बता दें कि एमपी में हनीट्रैप कांड के जरिए एक बार फिर सियासत गर्मा चली है. वजह पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ का वह बयान है, जिसमें उन्होंने दावा किया है कि हनीट्रैप कांड में फंसे कई नेताओं के चेहरे उनके पास मौजूद एक पेन ड्राइव में मौजूद हैं. उनका यह बयान आने के बाद से सत्ताधारी भाजपा उन पर लगातार हमले कर रही है. वहीं, हनीट्रैप मामले की जांच के लिए बनाया गया विशेष जांच दल (एसआईटी) पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ से संपर्क करने की तैयारी में है.

राज्य में लगभग दो साल पहले अफसरों को अपने जाल में फंसाकर लाखों रुपये ऐंठने वाले महिलाओं के गिरोह का खुालासा हुआ था. इन महिलाओं के जाल में फंसे नौकरशाहों से लेकर राजनेताओं तक के नाम आए. मामला एसआईटी के पास गया, मगर उन महिलाओं के संपर्क में आए एक-दो लोगों की गिरफ्तारी के बाद बात ठंडे बस्ते में चली गई. पिछले दिनों कमल नाथ का एक कथित बयान क्या आया कि उनके पास हनीट्रैप संबंधी एक पेन ड्राइव है, फिर क्या था! इस मामले ने सियासत में गर्माहट ला दी.

इस मामले को लेकर भाजपा हमलावर मूड में है. वह कमल नाथ पर मुख्यमंत्री रहते सत्ता के दुरुपयोग और संवैधानिक पद की गरिमा को आहत करने का आरोप लगा रही है. वहीं कांग्रेस की ओर से कहा जा रहा है कि कमल नाथ ने सीधे तौर पर यह कभी नहीं कहा कि उनके पास हनीट्रैप की पेन ड्राइव है.

वहीं दूसरी ओर कमल नाथ के बयान को एसआईटी ने गंभीरता से लिया है और वह इस पर सीधे उनसे ही संपर्क बनाने की तैयारी में है, साथ ही उनसे हनीट्रैप की पैन ड्राइव की मांग की जाएगी. यहां बता दें कि कमल नाथ ने यह भी कहा था कि हनीट्रैप की पैन ड्राइव कई पत्रकारों के भी पास है .

 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 31 May 2021, 11:02:46 AM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.