News Nation Logo

इमरती देवी पर फिर बोले कमनाथ, उनका नाम नहीं याद आया तो आइटम बोल दिया

कमलनाथ ने उपचुनाव प्रचार के दौरान बीजेपी उम्मीदवार इमरती देवी पर अभद्र टिप्पणी की. जिसे लेकर राष्ट्रीय महिला आयोग ने सख्ती दिखाई है.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 19 Oct 2020, 05:14:58 PM
kamal nath

कमलनाथ (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली :

कमलनाथ ने उपचुनाव प्रचार के दौरान बीजेपी उम्मीदवार इमरती देवी पर अभद्र टिप्पणी की. जिसे लेकर राष्ट्रीय महिला आयोग ने सख्ती दिखाई है. राष्ट्रीय महिला आयोग ने सोमवार को मुख्य चुनाव आयुक्त को पत्र लिखकर जरूरी कार्रवाई की मांग की. वहीं इधर अपने बयान पर कमलनाथ ने एक बार फिर से बोला है. 

उन्होंने एक निजी चैनल से बात करते हुए कहा कि जब लोकसभा में लिस्ट आती है तो उस पर लिखा होता है आइटम नंबर-1... विधानसभा में आती तो लिखा होता है आइटम नंबर-1... आइटम कोई दुर्भावना से या असम्मानित दृष्टि से मैंने नहीं कहा. आइटम कोई असम्मानित शब्द नहीं है. मुझे इस मौके पर उनका (विधायक) नाम नहीं याद रहा था. तो मैने कहा कि वो जो यहां की आइटम है. 

इसे भी पढ़ें: नवजोत सिद्धू काफी लंबे अरसे के बाद पहुंचे विधानसभा, CM से नहीं की बात

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आगे कहा कि आइटम का प्रयोग तो आम होता है. ये तो संसद का शब्द है. ये विधानसभा में आता है. आज आप कोई प्रोग्राम देखते हैं, आज मेरा आइटम नंबर वन ओमकारेश्वर है,  तो ये क्या असम्मानित हो गया. ये मैं नहीं समझता.

बीजेपी के विरोध प्रदर्शन पर उन्होंने कहा कि  उनको कहने लायक कुछ नहीं किसी ना किसी तरह बैठ जाएं कि जनता का ध्यान मोड़ें. ये उनका एक ही लक्ष्य है.आज वो जनता के सामने जाएं, हिसाब दें, अपने 15 साल का, अपने 7 महीनों का. ये मध्य प्रदेश की जनता को मुर्ख समझते हैं. इनके पास कुछ भी कहने को नहीं है.

गौरतलब है कि इमरती देवी के खिलाफ डबरा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे के लिए चुनाव प्रचार करते हुए कमलनाथ ने रविवार को कहा था, ‘डबरा से सुरेश राजे जी हमारे उम्मीदवार हैं. सरल स्वभाव के, सीधे-सादे हैं. ये तो उसके जैसे नहीं हैं, क्या है उसका नाम?’ 

और पढ़ें: अमृतसर में डेरा डाले बिहार पुलिस को चौथे दिन भी नहीं मिले नवजोत सिंह सिद्धू

इसी बीच वहां मौजूद जनता जोर-जोर से ‘इमरती देवी’, ‘इमरती देवी’ कहने लगी. इसके बाद कमलनाथ ने हंसते हुए कहा, ‘मैं क्या उसका (डबरा की भाजपा प्रत्याशी का) नाम लूं. आप तो उसको मेरे से ज्यादा पहचानते हैं. आपको तो मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था. ये क्या आइटम है?’

 गौतलब है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के विश्वस्त 21 विधायकों ने मार्च में कांग्रेस और राज्य विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था. इन विधायकों में इमरती देवी भी शामिल हैं. इस घटनाक्रम के बाद मध्य प्रदेश में कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार गिर गई थी. मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव में तीन नवंबर को मतदान होगा जबकि मतगणना 10 नवंबर को होगी.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 19 Oct 2020, 05:13:44 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.