News Nation Logo

फर्जी आधार कार्ड वालों के खिलाफ एक्शन में गृह मंत्री, दिये जांच के आदेश

Shubham Gupta | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 20 Oct 2022, 01:58:24 PM
fake aadhar

file photo (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • भोपाल में जहां से पकड़े गये थे 4 आतंकी ,उसी इलाक़े में बने 2100 फ़र्ज़ी आधार कार्ड
  • पकड़े गए आतंकियों से भी किये गए थे आधार कार्ड बरामद 

नई दिल्ली :  

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के ऐशबाग इलाक़े में जहां 4 आतंकी गिरफ़्तार किए थे. उसी इलाक़े से 2100 फ़र्ज़ी आधार कार्ड बनाने का मामला सामने आया है. आपको बता दें कि मध्यप्रदेश एटीएस ने फजहर अली,  मोहम्मद अकील,, जदुरुद्दीन पठान, और फजहर ज़ैनुल अबदीन को कुछ ही दिन पहले गिरफ्तार किया था. पड़ताल में सभी आतंकी बांग्ला देश निवासी पाए गए थे. साथ ही जांच में ये भी पता चला था कि ये सभी एक रिमोट-बेस (स्लीपर सेल) तैयार कर रहे थे, जिसके माध्यम से, वे भविष्य में गंभीर राष्ट्र-विरोधी घटनाएं करना चाहते थे. आरोपियों के पास से भारी मात्रा में जिहादी साहित्य, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण और आपत्तिजनक दस्तावेज मिले थे. अब ताजा जानकारी के मुताबिक उसी जगह से 1 नहीं बल्कि 2100 फर्जी आधार कार्ड मिले हैं.

यह भी पढ़ें : 1 नवंबर आपकी जेब पर डालेगा सीधा असर, जानें क्या-क्या होंगे अहम बदलाव

गृह मंत्री ने दिये जांच  के आदेश 
मामले की खबर लगते ही राज्य गृह विभाग एक्शन में आ गया है. राज्य गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने सभी फर्जी आधार कार्ड वालों की गहनता से जांच करने के आदेश दिए हैं. आपको बता दें कि भोपाल के ऐशबाग इलाक़े में आधार सेंटर से ये फ़र्ज़ी दस्तावेज के साथ ये आधार कार्ड बनाये जा रहे थे. ये वही आधार कार्ड सेंटर है जहां फ़र्ज़ी लॉर्ड बनाए गए थे.  हालाकि फ़िलहाल ये सेंटर बंद हो चुका है. जानकारी के मुताबिक ऐशबाग इलाका पहले से ही आतंकी गतिविधियों के लिए चर्चा में रहा है. गृह मंत्रालय ने पूरे इलाके में सघन चैकिंग अभियान चलाने के लिए भी कहा है.

2100 फर्जी आधार कार्ड  धारकों का काम-काज क्या है. साथ ही इनकी दिनचर्या के बारे में भी पैनी नजर रखने को कहा गया है. यही नहीं ऐशबाग से सटे अन्य इलाकों पर भी नजर बनाए रखने के आदेश पुलिस को दिये गए हैं. जानकारी में तो ये भी आया है कि इलाके में सिविल वर्दी में पुलिस के लोग मौजूद रहेंगे. इसके अलावा राजधानी में जहां भी बांग्लादेशी स्टूडेंट्स की भी खोजबीन करने की बात कही गई है.

First Published : 20 Oct 2022, 01:58:24 PM

For all the Latest States News, Madhya Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.