News Nation Logo

24 घंटे में 4 की हत्या के बाद गैर-स्थानीय मजदूरों को सुरक्षा शिविरों में भेजने का आदेश

चार मजदूरों की हत्या के बाद कश्मीर का पुलिस-प्रशासन हत्यारे आतंकियों की धर-पकड़ की बजाय राज्य के बाहर के मजदूरों को सुरक्षा शिविरों में स्थानांतरित करने का आदेश दिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 17 Oct 2021, 10:52:40 PM
jammu kashmir

चार मजदूरों की हत्या के बाद कश्मीर (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • जिला प्रमुखों से राज्य से बाहर के मजदूरों को सुरक्षा शिविरों में स्थानांतरित का आदेश
  • नब्बे के दशक में आतंकियों ने कश्मीरी पंडितों को निशाना बनाया था
  • आतंकियों की यह कार्रवाई सर्च ऑपरेशन की प्रतिक्रिया माना जा रहा है

नई दिल्ली:  

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने पिछले 24 घंटे के अंदर दूसरी बार गैर कश्मीरियों पर हमला किया है. दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में आतंकियों ने रविवार एक बार फिर तीन गैर कश्मीरी मजदूरों को गोली मार दी, जिससे दो की मौके पर मौत हो गई. जबकि एक मजदूर गंभीर रूप घायल है.  दोनों मृतक बिहार के रहने वाले हैं. सूचना के मुताबिक कश्मीर में 24 घंटे के अंदर आतंकियों ने 4 मजदूरों की हत्या कर दी है. इससे पहले शनिवार को भी यूपी और बिहार के दो नागरिकों की हत्या कर दी गई थी. स्थानीय पुलिस और सुरक्षा बल विगत एक सप्ताह से कश्मीर के विभिन्न इलाकों में सर्च ऑपरेशन चला रहे हैं. आतंकियों की यह कार्रवाई सर्च ऑपरेशन की प्रतिक्रिया माना जा रहा है.

चार मजदूरों की हत्या के बाद प्रशासन का फैसला काफी हैरतअंगेज है. कश्मीर का पुलिस-प्रशासन हत्यारे आतंकियों की धर-पकड़ की बजाय राज्य के बाहर के मजदूरों को सुरक्षा शिविरों में स्थानांतरित करने का आदेश दिया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार जम्मू-कश्मीर पुलिस ने अपने सभी जिला प्रमुखों से गैर-स्थानीय मजदूरों यानि राज्य से बाहर के मजदूरों को "तुरंत" सुरक्षा शिविरों में स्थानांतरित करने के लिए कहा है.

यह भी पढ़ें: आतंकियों ने फिर बाहरी लोगों को बनाया निशाना, कुलगाम में दो मजदूर की हत्या

घाटी एक बार फिर अशांत है. नब्बे के दशक में आतंकियों ने कश्मीरी पंडितों को निशाना बनाया था, तब प्रशासन ने कश्मीर से पंडितों को सुरक्षित निकाल कर जम्मू और देश के दूसरे भागों में 'सुरक्षित' भेजना शुरू किया था. इस प्रक्रिया से कश्मीर घाटी से कश्मीरी पंडित सदा के लिए दूर हो गये. अब धारा 370  हटने के बाद जम्मू कश्मीर की संवैधानिक स्थिति अलग है. राज्य बाहर के लोगों को भी वहां जमीन खरीदने आदि का अधिकार मिल गया है. ऐसे में आतंकियों के निशाने पर अब सिर्फ कश्मीरी पंडित नहीं दूसरे राज्यों से रोजी-रोटी कमाने आये लोग है.

सूचना के मुताबिक पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर रेंज) विजय कुमार ने सभी जिला पुलिस प्रमुखों को भेजे संदेश में कहा, आपके न्यायाधिकार क्षेत्र में रह रहे सभी गैर स्थानीय मजदूरों को तत्काल नजदीकी पुलिस थाने या केंद्रीय अर्धसैनिक बल या सेना के प्रतिष्ठानों में लाया जाना चाहिए. संदेश में कहा गया, यह मामला अति आवश्यक है.

बता दें कि महज 24 घंटे के भीतर आतंकवादियों ने जम्मू कश्मीर में 4 गैर स्थानीय नागरिकों की हत्या की वारदात को अंजाम दिया है. रविवार को कुलगाम जिले के वानपोह में आतंकवादियों द्वारा दो और गैर-स्थानीय मजदूरों- राजा रेशी देव और जोगिंदर रेशी देव की गोली मारकर हत्या कर दी गई, जबकि 1 मजदूर गंभीर रूप से घायल बताया जा रहा है. 

First Published : 17 Oct 2021, 10:48:11 PM

For all the Latest States News, Jammu & Kashmir News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.