News Nation Logo
Banner

किसान मार्च: चंडीगढ़-दिल्ली हाईवे सील, अंबाला में प्रदर्शनकारियों पर पानी की बौछार

कृषि से जुड़े तीन कानूनों को लेकर किसानों का विरोध प्रदर्शन धम नहीं रहा है. किसान संगठन लगातार इन कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 25 Nov 2020, 03:53:59 PM
Ambala farmer protest

अंबाला में हाईवे पर प्रदर्शन कर रहे किसानों पर वाटर कैनन का इस्तेमाल (Photo Credit: ANI)

अंबाला:

कृषि से जुड़े तीन कानूनों को लेकर किसानों का विरोध प्रदर्शन थम नहीं रहा है. किसान संगठन लगातार इन कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं. बुधवार को हरियाणा के अंबाला में किसानों ने प्रदर्शन किया. इस दौरान चंडीगढ़-दिल्ली हाईवे इकट्ठा हुए प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए उन पर वॉटर कैनन से पानी बरसाया गया.

यह भी पढ़ें: पंजाब के सभी गांवों-शहरों में लगा नाइट कर्फ्यू, उल्लंघन पर 1000 रुपए का जुर्माना

गुरुवार को किसानों का 'दिल्ली चलो' मार्च है. जिसके मद्देनजर हरियाणा-पंजाब बॉर्डर के साथ साथ चंडीगढ़-दिल्ली हाईवे को सील किया गया है. किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए भारी संख्या में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है. इसी के विरोध में आज कुछ किसानों ने प्रदर्शन किया. जिसके बाद किसानों पर पानी की बौछार की गई. 

यह भी पढ़ें: Coronavirus (Covid-19): 70 प्रतिशत लोग अगर मास्क पहने होते तो कोरोना महामारी नियंत्रण में होती: रिपोर्ट 

उल्लेखनीय है कि 'दिल्ली चलो' मार्च के तहत शहर को जोड़ने वाले पांच राजमार्गों के जरिए किसानों के 26 नवंबर को दिल्ली आने का कार्यकम है. कृषि कानूनों को वापस लिए जाने को लेकर दबाव बनाने के लिए अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति (एआईकेएससीसी), राष्ट्रीय किसान महासंघ और भारतीय किसान यूनियन के विभिन्न धड़ों ने हाथ मिलाया है और एक संयुक्त किसान मोर्चा का गठन किया है. प्रदर्शन को 500 से ज्यादा किसान संगठनों का समर्थन मिला है.

First Published : 25 Nov 2020, 03:48:48 PM

For all the Latest States News, Haryana News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.