News Nation Logo
Banner

Delhi Riots: ताहिर हुसैन को मुसलमान होने की सजा मिली- अमानतुल्लाह खान ने किया ट्वीट

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 04 Jun 2020, 07:55:23 PM
AAP MLA Amantullah

आप विधायक अमानतुल्लाह (Photo Credit: फाइल)

नई दिल्‍ली:  

दिल्ली दंगों को लेकर आज आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह ने गुरुवार को प्रमुख आरोपी ताहिर हुसैन का बचाव करते हुए ट्वीट किया है. आप विधायक अमानतुल्लाह ने ट्वीट करते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन को दिल्ली दंगों में मुसलमान होने का खामियाजा भुगतना पड़ा है. ताहिर को मुसलमान होने की सजा मिली है.दिल्ली पुलिस ने अपनी चार्ज शीट में ताहिर हुसैन को दिल्ली दंगों का मास्टर माइंड बनाया है, जबकि पूरा देश जनता हैं कि दंगे किसने कराये असल दंगाइयों से अभी तक पुलिस ने पूछ ताछ तक नही की, मुझे लगता है कि ताहिर हुसैन को सिर्फ मुसलमान होने की सज़ा मिली है. 

आपको बता दें कि इसके पहले बुधवार को दिल्ली दंगों के संबंध में दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट दायर कर दी थी. यहां एक अदालत में पुलिस द्वारा दायर आरोप पत्र में कहा गया है कि आम आदमी पार्टी के निलंबित निगम पार्षद ताहिर हुसैन की जामा मस्जिद और उतरपूर्वी दिल्ली के मूंगा नगर की कॉल लोकेशन उसके 'शैतानी इरादों' की कहानी बयां करते हैं. मूंगा नगर में 25 फरवरी को दंगाईयों ने आईबी के अधिकारी अंकित शर्मा की बर्बरतापूर्ण हत्या कर दी थी. मूंगा नगर में ही आगजनी और लूटपाट के कई मामले सामने आए और एक हिंदू लड़के की हत्या कर दी गई.

यह भी पढ़ें-सुरक्षा एजेंसियों ने खोली चीन की पोल, सरकार को बताया- पूर्वी लद्दाख में कैसे पहुंचे चीनी सैनिक

पुलिस चार्जशीट में दिल्ली दंगों का मास्टर माइंड ताहिर हुसैन
पुलिस ने अपने आरोप पत्र में कहा कि दंगाइयों ने शर्मा को कथित रूप से घसीटा, कई बार चाकू मारे और फिर नाले में फेंक दिया. आरोप पत्र में हुसैन को फरवरी में उतरपूर्वी दिल्ली में हुई सांप्रदायिक हिंसा के कथित साजिशकर्ता के रूप में नामजद किया गया है. पुलिस ने कहा कि शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में उन्हें 51 बार चाकू मारने की बात सामने आई है. आरोप पत्र में कहा गया है, ताहिर हुसैन ने 24-25 फरवरी की दरम्यानी रात में अपने परिवार को मुस्तफाबाद में अपनी पैतृक आवास पर भेज दिया और खुद वहीं रहा ताकि पूरे हालात पर नजर रख सके और अगले दिन हिंदुओं के खिलाफ मुस्लिमों के साथ खड़ा रहे. 

यह भी पढ़ें-2200 से ज्यादा विदेशी तब्लीगी जमात के लोगों पर भारत सरकार ने लगाया 10 साल का प्रतिबंध

अभियुक्त ताहिर ने 24 और 25 को किया था भीड़ का नेतृत्व
आरोप पत्र के अनुसार, अभियुक्त ताहिर हुसैन 24 और 25 फरवरी को अपने घर और चांद बाग पुलिया के पास मस्जिद से भीड़ का नेतृत्व किया और इसे सांप्रदायिक रंग दे दिया. उसने यह कहते हुए हिंदुओं के खिलाफ मुसलमानों को उकसाया कि हिंदुओं ने कई मुसलमानों को मार दिया है और शेरपुर चौक पर उनकी दुकानों में आग लगा दी है और किसी भी हिंदू को नहीं बख्शा जाए. उसके उकसावे पर, मुसलमान 24 और 25 फरवरी को हिंसक और बेकाबू हो गए और उन्होंने दुकानों को जलाना शुरू कर दिया और हिंदुओं पर पथराव किया और पेट्रोल बम बरसाए और उनके घरों को भी निशाना बनाया.

First Published : 04 Jun 2020, 07:32:18 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.