News Nation Logo
Banner

गुरुग्राम शिफ्ट हुईं प्रियंका गांधी वाड्रा, देर रात पहुंचीं अरालियाज

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) शुक्रवार देर रात सेक्टर-43 डीएलएफ अरालियाज (Aralias) सोसाइटी स्थित फ्लैट में शिफ्ट हो गईं. उनके साथ जेड प्लस सिक्योरिटी भी थी.

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 25 Jul 2020, 11:22:45 AM
Priyanka Gandhi

प्रियंका गांधी (Photo Credit: फाइल फोटो)

गुरुग्राम:  

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) शुक्रवार देर रात सेक्टर-43 डीएलएफ अरालियाज (Aralias) सोसाइटी स्थित फ्लैट में शिफ्ट हो गईं. उनके साथ जेड प्लस सिक्योरिटी भी थी. प्रियंका के पहुंचने की सूचना के बाद स्थानीय पुलिस भी सुरक्षा के लिए तैनात हो गई. अरालियाज को एनसीआर की सुरक्षा की दृष्टि से सबसे पुख्ता सोसाइटी माना जाता है.

यह भी पढ़ेंः पीएम मोदी की दोस्ती फिर आई काम, ट्रंप प्रशासन ने ड्रोन निर्यात मानकों में दी ढील

दिल्ली स्थित आवास खाली करने के बाद प्रियंका के अपने परिवार के साथ दो-तीन दिन में सोसाइटी में शिफ्ट होने की चर्चा थी. हालांकि शुक्रवार रात वह अचानक पहुंच गईं. आनन-फानन में स्थानीय पुलिस को सोसाइटी के बाहर तैनात किया गया.शहरी विकास मंत्रालय ने प्रियंका गांधी को मिली एसपीजी सुरक्षा हटाए जाने के बाद उनको लोदी रोड स्थित बंगला खाली करने का नोटिस जारी किया था. इसके बाद उन्होंने बंगले को खाली करने का निर्णय लिया था. प्रियंका दिल्ली में ही परिवार के साथ रहेंगी, लेकिन जो आवास उन्होंने चुना है, उसमें मरम्मत कार्य चल रहा है, जो करीब 2 माह तक चलेगा. ऐसे में वह पति रॉबर्ट वाड्रा और बच्चों के साथ 2-3 माह तक गुरुग्राम की इस सोसाइटी में ही रहेंगी.

यह भी पढ़ेंः सोनिया ने नरसिम्हा राव को किया याद, पोते एनवी सुभाष बोले- कांग्रेस को क्यों लगे 16 साल

केंद्र सरकार ने हटाई एसपीजी सुरक्षा
प्रियंका को एसपीजी सुरक्षा के चलते 1997 से नई दिल्ली इलाके में लोदी एस्टेट का 35 नंबर सरकारी बंगला अलॉट किया गया था. केंद्र सरकार ने उनकी एसपीजी सुरक्षा हटाकर जेड प्लस कर दी. इसके बाद, केंद्र सरकार के आवास एवं शहरी मामलों के मंत्रालय ने 1 जुलाई को नोटिस जारी कर 31 जुलाई तक सरकारी घर खाली करने का नोटिस दिया था. प्रियंका को यह बंगला खाली करना होगा.

सूत्रों का कहना है कि प्रियंका का कुछ सामान भी शिफ्ट किया जा चुका है. सेक्टर-42 स्थित इस सोसाइटी को काफी पॉश माना जाता है. इस सोसाइटी में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम मौजूद हैं. किसी व्यक्ति के अंदर जाने से पहले रेजिडेंट एक मैसेज विजिटर के पास भेजेगा. उस मैसेज से पास कोड जेनरेट होगा. उससे ओटीपी मिलेगा. उस ओटीपी को एंटर करने के बाद अंदर जाने दिया जाता है.

First Published : 25 Jul 2020, 11:22:45 AM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.