News Nation Logo

जंतर-मंतर पर भड़काऊ भाषण, लगे साम्प्रदायिक नारे, FIR दर्ज

भड़काऊ भाषण देने के मामले में दिल्ली पुलिस ने कनॉट प्लेस थाने में मामला दर्ज किया. जंतर मंतर पर रविवार को कुछ लोगों ने जमा होकर एक धर्म के खिलाफ नारेबाजी की थी और भड़काऊ बयान भी दिए थे. इसका वीडियो भी वायरल हुआ था.

News Nation Bureau | Edited By : Rajneesh Pandey | Updated on: 09 Aug 2021, 11:12:52 AM
ASWINI UPADHYAY ON JANTAR MANTAR

ASWINI UPADHYAY ON JANTAR MANTAR (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • जंतर-मंतर पर आयोजित कार्यक्रम में लगे साम्प्रदायिक नारे
  • मामले में कनॉट प्लेस थाने में FIR दर्ज
  • सुप्रीम कोर्ट के वकील अश्विविनी उपाध्याय ने किया था आयोजन

नई दिल्ली:  

भड़काऊ भाषण देने के मामले में दिल्ली पुलिस ने कनॉट प्लेस थाने में मामला दर्ज किया. जंतर मंतर पर रविवार को कुछ लोगों ने जमा होकर एक धर्म के खिलाफ नारेबाजी की थी और भड़काऊ बयान भी दिए थे. इसका वीडियो भी वायरल हुआ था. पुलिस का कहना है कि इसे अश्विनी उपाध्याय ने आयोजित किया था, इस संबंध में एफआईआर दर्ज कर जांच की जा रही है. दूसरी ओर अश्विनी उपाध्याय का कहना है कि उनका कार्यक्रम यूनाइटेड भारत को लेकर था, जिन लोगों ने धर्म विरोधी नारे लगाए, उनसे उनका या उनके संगठन का कोई लेना देना नहीं है. वे खुद पुलिस में उन लोगों के खिलाफ शिकायत देने जा रहे हैं. दिल्ली पुलिस के मुताबिक वीडियो के आधार पर आरोपियों की पहचान की जा रही है. रविवार को कुछ संगठनों ने क्विट इंडिया मूवमेंट और अंग्रेजों के बनाए पुराने कानून वापस लेने के लिए धरना दिया था. उसी संबंध में कुछ लोगों ने एक सम्प्रदाय विशेष के खिलाफ आपत्तिजनक नारेबाजी की थी.

यह भी पढ़ें : इन शर्तों के साथ आज से खुलेंगे दिल्ली में साप्ताहिक बाजार

क्या है पूरा मामला?

रविवार को दिल्ली के जंतर-मंतर पर कुछ संगठनों के लोग क्विट इंडिया मूवमेंट और अंग्रेजों के बनाए पुराने कानून वापस लेने के लिए धरना दिया था. इस कार्यक्रम को सुप्रीम कोर्ट के वकील अश्विन उपाध्याय ने आयोजित कराया था. अश्विन उपाध्याय पहले दिल्ली बीजेपी के प्रवक्ता रहे हैं. इस कार्यक्रम में अंग्रेजों द्वारा बनाए गए कानूनों को हटाकर नए कानूनों को बनाने की मांग की गई. मतलब जो कानून देश की आजादी से पहले बने थे, उनकी जगह फिर से नए कानून बनाए जाएं. अश्विन उपाध्याय ने इसे लेकर पिछले महीने सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका भी दायर की है.

कार्यक्रम में भड़काऊ भाषणों पर एफआईआर दर्ज

इस कार्यक्रम में जमकर नारेबाजी हुई और भड़काऊ भाषण भी दिये गये. इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गया है. आरोप ये है कि कुछ लोगों ने मुसलमानों के खिलाफ भड़काऊ नारे लगाए. वीडियो में सुना जा सकता है कि हिंदुस्तान में रहना होगा, राम-राम कहना होगा.. के नारे लग रहे थे. वीडियो में भगवा कपड़े पहने और लंबी दाढ़ी में एक शख्स लोगों से नारे लगवाते दिख रहा है.

क्या सफाई दे रहे हैं आयोजक?

कार्यक्रम के आयोजक अश्विनी उपाध्याय का कहना है कि उनका कार्यक्रम यूनाइटेड भारत को लेकर था, जिन लोगों ने धर्म विरोधी नारे लगाए, उनसे उनका या उनके संगठन का कोई लेना देना नहीं है. वे खुद पुलिस में उन लोगों के खिलाफ शिकायत देने जा रहे हैं. दिल्ली पुलिस के मुताबिक वीडियो के आधार पर आरोपियों की पहचान की जा रही है.

First Published : 09 Aug 2021, 11:06:58 AM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.