News Nation Logo
Banner

हमें ऑक्सीजन मिल जाए तो हम दिल्ली में 9000 बेड तैयार कर दें: केजरीवाल

दिल्ली के सीएम ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए बताया कि राधा सोआमी केंद्र (Radha Soami Centre) में 5000 बेड तैयार किए गए लेकिन उनमें से केवल 150 बेड ही उपयोग करने की स्थिति में हैं क्योंकि वहां पर ऑक्सीजन नहीं है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 01 May 2021, 04:02:14 PM
Arvind Kejriwal

अरविंद केजरीवाल (Photo Credit: फाइल )

highlights

  • 24 घंटे में तैयार हो सकते हैं 9000 बेडः केजरीवाल
  • हमें ऑक्सीजन मिल जाए तो हम तैयार कर दें बेड
  • ऑर्मी से मदद नहीं लेने पर दिल्ली सरकार को फटकार

नयी दिल्ली:

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) ने दावा किया है कि अगर उन्हें तुरंत ऑक्सीजन (Oxygen) की व्यवस्था करवा दी जाए तो वो दिल्ली (Delhi) में 9000 ऑक्सीजन वाले बेड (Oxygen) तैयार करवा देंगे. दिल्ली के सीएम ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए बताया कि राधा सोआमी केंद्र (Radha Soami Centre) में 5000 बेड तैयार किए गए लेकिन उनमें से केवल 150 बेड ही उपयोग करने की स्थिति में हैं क्योंकि वहां पर ऑक्सीजन नहीं है. कॉमनवेल्थ गेम्स (Common Wealth Games) और यमुना स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स (Yamuna Sports Complex) में 1300 बिस्तर तैयार किए गए हैं लेकिन वहां भी ऑक्सीजन की कमी से पूरे बेड सक्रिय नहीं हैं.

वहीं उन्होंने आगे बताा कि बुराड़ी में 2500 बेड कोविड मरीजों के लिए तैयार किए गए हैं लेकिन ऑक्सीजन के नहीं होने की वजह से वो भी सक्रिय नहीं हैं इस तरह से उन्होंनें दावा किया है कि अगर उन्हें ऑक्सीजन मिल जाती है, तो 24 घंटे के भीतर दिल्ली में 9000 ऑक्सीजन वाले बेड कोविड मरीजों के लिए तैयार हो जाएंगे.  ऑक्सीजन की किल्लत पर अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ऑक्सीजन की बहुत परेशानी हो रही है. दिल्ली को ​एक दिन में 976 टन ऑक्सीजन की जरूरत है और हमें 490 टन ऑक्सीजन आवंटित की गई है, कल केवल 312 टन ऑक्सीजन आई है. हमें आज ऑक्सीजन मिल जाए तो दिल्ली में 24 घंटे में 9,000 ऑक्सीजन बेड तैयार हो जाएंगे.

यह भी पढ़ेंःCorona संकट के बीच विदेश में कोवैक्सीन उत्पादन की राह खोज रही मोदी सरकार

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमारे पास 4.5 लाख वैक्सीन आ गई हैं, सारे जिलों में वैक्सीन बांट रहे हैं. दिल्ली में परसों (सोमवार) सुबह से बड़े स्तर पर वैक्सीनेशन शुरू होगा. मेरी सब लोगों से अपील है कि बिना रजिस्ट्रेशन और अपॉइंटमेंट के नहीं आएं. ऑक्सीजन की किल्लत पर दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई जारी है. हाईकोर्ट ने दिल्ली सरकार से पूछा कि संकट के इस वक्त में आर्मी की सहायता लेने से गुरेज क्यों है? हाईकोर्ट के सवाल पर सरकार की ओर से भी जवाब दिया गया है. दिल्ली सरकार के वकील ने कहा कि हम हर उससे मदद लेंगे जो सहायता कर सकते हैं.

यह भी पढ़ेंःराजद्रोह कानून की वैधता पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से मांगा जवाब

कोरोना संकट पर दिल्ली हाईकोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि दिल्ली में इस वक्त कोरोना से हालात लगातार बिगड़ रहे हैं. ऐसे में बेहतर हो कि दिल्ली सरकार इस संकट से निपटने में आर्मी की मदद लें. दरअसल आज सुनवाई के दौरान एमिकस क्यूरी राव का कहना था कि मेरी समझ से परे है कि आखिर दिल्ली सरकार संकट की इस घड़ी में आर्मी, नेवी और एयरफोर्स का मदद लेने से क्यों हिचक रही है. निश्चित तौर पर हमारी सेना ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के दूसरे बेहतर विकल्प दे सकती है. ऐसे में बजाए ये कहने कि बिना ऑक्सीजन के बेड बेकार है , सैन्य बलों की सहायता लिए जाने पर विचार किया जाना चाहिए.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 01 May 2021, 03:41:30 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.