logo-image
लोकसभा चुनाव

गुरुग्राम बिल्डिंग हादसा: एक महिला की मौत-कई घायल, राहत-बचाव अभियान जारी

कॉम्प्लेक्स के ब्लॉक-डी टॉवर की 6ठी मंजिल पर स्थित एक फ्लैट में रेनोवेशन का काम चल रहा था. उसी दौरान ड्राइंग रूम का फ्लोर भरभरा कर नीचे गिर गया. जिसके बाद छठे फ्लोर से नीचे ग्राउंड फ्लोर तक के सभी फ्लैट्स की छत और फ्लोर क्षतिग्रस्त

Updated on: 11 Feb 2022, 08:34 AM

highlights

  • रिहायशी सोसाइटी में छठी मंजिल का लेंटर गिरने पर के कारण ये बड़ा हादसा हुआ
  • काम पूरा हो जाएगा तो दोषियों के खिलाफ भी कार्यवाही भी की जाएगी - विधायक
  • मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर गुरुग्राम हादसे की व्यक्तिगत रूप से निगरानी कर रहे

New Delhi:

गुरुग्राम सेक्टर 109 स्थित चिंतल्स पैराडाइसो हाउसिंग सोसायटी की बहुमंजिला इमारत की छठे फ्लोर का लेंटर गिरने के बाद से दहशत बरकरार है. हादसे में एक महिला की मौत हो गई है और दो लोग मलबे में दबे होने की खबर सामने आई है. इसके अलावा रिहाइशी सोसायटी में कई लोग हादसे में घायल हो गए हैं. एनडीआरएफ की टीम ने मौके पर पहुंचकर राहत और बचाव अभियान शुरू कर दिया था. फायर ब्रिगेड की टीम भी मलबे में फंसे लोगों को निकालने में जुटी है. फिलहाल एक मजदूर को मलबे से निकालकर अस्पताल भेजा जा चुका है.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर गुरुग्राम हादसे की व्यक्तिगत रूप से निगरानी कर रहे हैं. उन्होंने घायलों के जल्द ठीक होने की प्रार्थना की है. सूचना पर हरियाणा सरकार के कई मंत्रियों के भी पहुंचने की सूचना है. जिला प्रशासन के आलाधिकारी भी सूचना पाते ही मौके पर पहुंच गए. उन्होंने बताया कि हादसे में एक महिला की मौत हुई है, जबकि दो लोग अभी दबे हुए हैं. हादसे के चश्मदीदों के मुताबिक इस हाउसिंग सोसायटी में एक-एक फ्लैट करोड़ों की कीमत का है. यहां तमाम हाई प्रोफाइल लोग रहते हैं. जिस तरह से 6ठी  मंजिल का लेंटर गिरा है, उससे इस सोसाइटी और आसपास की सोसाइटी में रहने वालों में खौफ का माहौल है. 

विधायक बोले - रेस्क्यू के बाद कार्यवाही

बादशाहपुर के विधायक राकेश दौलतपुरिया ने गुरूग्राम हादसे पर न्यूज नेशन से बात करते हुए कहा कि इस पूरे हादसे का ज़िम्मेदार बिल्डर है. उसने ऐसी कच्ची इमारत बनाई. इसकी वजह से ऐसा हादसा हुआ. बताया जा रहा है बिल्डिंग में घटिया निर्माण सामग्री का इस्तेमाल किया गया था. जिसकी वजह से लेंटर भरभराकर नीचे गिर गया. फ़िलहाल रेस्क्यू का काम चल रहा है. काम पूरा हो जाएगा तो दोषियों के खिलाफ भी कार्यवाही भी की जाएगी. दौलतपुरिया के मुताबिक इमारत में दो फ़्लोर पर परिवार रहते थे. बाक़ी लोग कहीं शादी समारोह में गए हुए थे.

ये भी पढ़ें - गुरुग्राम में बड़ा हादसा, सोसाइटी की छठवीं मंजिल का लेंटर गिरने से 2 की मौत

चश्मदीदों ने बताया - कैसे हुआ हादसा  

यहां रहने वाले लोगों ने बताया कि कॉम्प्लेक्स के ब्लॉक-डी टॉवर की 6ठी मंजिल पर स्थित एक फ्लैट में रेनोवेशन का काम चल रहा था. उसी दौरान ड्राइंग रूम का फ्लोर भरभरा कर नीचे गिर गया. जिसके बाद छठे फ्लोर से नीचे ग्राउंड फ्लोर तक के सभी फ्लैट्स की छत और फ्लोर क्षतिग्रस्त हुए. हालांकि, छठे फ्लोर से ग्राउंड फ्लोर तक कुछ फ्लैट बंद थे, उनमें कोई नहीं रहता था, लेकिन बाकी फ्लैट में हादसे के वक़्त मौजूद कुछ लोगों के मलबे की चपेट में आने की आशंका है. हादसे की वजह क्या रही? यह मामले की जांच के बाद ही पता चलेगा.