News Nation Logo
Banner

Good News: दिल्ली के अस्पतालों में सिर्फ 5100 मरीज एडमिट, 10 हजार बेड खाली, 72 फीसदी लोग हुए ठीक

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में 72 प्रतिशत कोरोना मरीज ठीक हो चुके हैं और पॉज़िटिव रेट घटकर 11% रह गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 06 Jul 2020, 03:22:55 PM
Arvind kejriwal

Arvind kejriwal (Photo Credit: ट्विटर)

नई दिल्ली:

कोरोना (Corona) पूरे देश में कहर बरपा रहा है. वहीं इससे सबसे ज्यादा प्रभावित मुंबई है. लेकिन कुछ दिन पहले स्थिति ऐसी हो गई थी कि माना जाने लगा था कि दिल्ली अब मुंबई बन जाएगी. लेकिन सही व्यवस्था और प्रबंधन के चलते दिल्ली में कोरोना को कंट्रोल कर लिया गया है. इसको लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ताजा जानकारी दी है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में 72 प्रतिशत कोरोना मरीज ठीक हो चुके हैं और पॉज़िटिव रेट घटकर 11% रह गई है. ये दिल्ली के लिए एक शुभ संकेत है. साथ ही उन्होंने कहा कि दिल्ली के अस्पतालों में केवल 5100 मरीज एडमिट हैं. लगभग 10 हजार बेड खाली है. अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा कि तकरीबन 25,000 एक्टिव केस हैं, जिसमें से 15,000 लोग हमारे होम आइसोलेशन प्रोग्राम के तहत घर में ही इलाज करा रहे हैं.

यह भी पढ़ें- पाक के बाद अब चीन को सबक सिखाएंगे डोभाल, ऐसे देंगे चीन को जवाब

एक लाख में से 72 हजार मरीज ठीक हो चुके

साथ ही अरविंद केजरीवाल ने लोगों से कोरोना को लेकर ना घबराने की अपील की है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में कोरोना की संख्या भले ही एक लाख हो गई है. लेकिन इससे घबराने की जरूरत नहीं. एक लाख में से 72 हजार मरीज ठीक हो चुके हैं. सिर्फ 25 हजार एक्टिव केस है. उसमें से भी 15 हजार होम आइसोलेशन के तहत इलाज करवा रहा है. उन्होंने कहा कि लोग बीमार तो हो रहे हैं लेकिन इसके साथ-साथ ठीक भी हो रहे हैं. पिछले सप्ताह से दिल्ली में और सुधार हुआ है. उन्होंने कहा कि जून में जब हम टेस्ट करते थे तो 100 में से 35 लोग संक्रमित निकलते थे. लेकिन अब टेस्ट कर रहा हूं तो 100 में से 11 लोग संक्रमित निकल रहे हैं. यह दिल्ली के लिए शुभ संकेत है. 

यह भी पढ़ें- नेपाल की सत्ताधारी पार्टी गहरे संकट में: प्रचंड और ओली के बीच आज भी बैठक बेनतीजा, दोनों जिद पर अड़े

10 हजार बेड खाली

उन्होंने कहा कि दिल्ली में कोरोना के लिए कुल 15 हजार बेड हैं. जिसमें से 10 हजार बेड खाली है. मरीज ठीक होकर घर जा रहे हैं. मरीजों की संख्या घट रही है. उन्होंने कहा कि इस समय दिल्ली में ना तो लोगों को टेस्ट की कोई समस्या है और ना ही बेड की कोई समस्या है. बेड की अफरा-तफरी नहीं है. लोगों से कहा कि ऐप के ऊपर देख सकते हैं कि कितने बेड खाली है. इसके अलावा उन्होंने एक बार लोगों से अपील की है कि संकट की इस घड़ी में ज्यादा से ज्यादा लोग प्लाज्मा डोनेट करने के लिए आगे आएं. उन्होंने कहा है कि दिल्ली में प्लाज्मा की मांग तो बढ़ रही है लेकिन प्लाज्मा डोनेट करने वालों की संख्या काफी कम है. हालांकि सीएम केजीरवाल ने ये भी कहा कि, कोरोनो की स्थिति में और अधिक सुधार हुआ है. 

यह भी पढ़ें- रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) के लिए ऐतिहासिक क्षण, बाजार पूंजीकरण 11.5 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंचा

ज्यादा से ज्यादा लोग प्लाज्मा डोनेट करने के लिए आगे आये

सीएम केजरीवाल ने बताया कि 25 हज़ार दिल्ली में मरीज़ है. 15000 लोगो का घरों में इलाज चल रहा है और ये इलाज बहुत सफल हुआ है. मौत का रेश्यो भी कम हुआ है. पहले के मुकाबले आधी हो गई है और भी कम करनी है. प्लाज़मा बैंक शुरू कोय गया ,जब तक वैक्सीन नही आती तब तक प्लाज़मा थेरेपी से लोगो की तबियत में फर्क पड़ता है. पहले प्लाज़मा को लेकर अफरातफरी मची हुई थी अब वो कम हुई है. प्लाज़मा की मांग ज्यादा है,डोनेट करने वालो की संख्या कम है. ज्यादा से ज्यादा लोग डोनेट करने के लिए आगे आये. मेरी डॉक्टर्स की टीम है जो प्लाज़मा डोनेट करने के लिए फ़ोन कर रही है आपसे अपील है मना मत कीजियेगा. कोरोनो के कई पेशेंट्स से बात की ,वो सब लोग कोरोना डोनेट करने के लिए तैयार है.

 

First Published : 06 Jul 2020, 03:05:41 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो