News Nation Logo

दिल्ली ही नहीं पूरे देश में लागू हो घर घर राशन योजना: अरविंद केजरीवाल

केंद्र की मोदी सरकार ने दिल्ली सरकार की 'घर-घर राशन योजना' पर रोक लगा दी है. इसके बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को मोदी सरकार पर हमला बोला. उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित किया.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 06 Jun 2021, 12:59:33 PM
CM arvind kejriwal

अरविंद केजरीवाल (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

केंद्र की मोदी सरकार ने दिल्ली सरकार की 'घर-घर राशन योजना' पर रोक लगा दी है. इसके बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को मोदी सरकार पर हमला बोला. उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी को  नमस्कार ,मैं सीधे आपसे बात करना चाहता हूं. मुझसे कोई भूल हो जाए तो मुझे माफ कर दीजिएगा. अगले हफ्ते से गरीब आदमी के घर घर राशन पहुंचाना शुरू होने वाला था. उन्होंने पीएम मोदी से सवार पूछते हुए कहा कि आपने अचानक 2 दिन पहले इस योजना को रोक दिया ,आपने ऐसा क्यों किया. आप हम सब से क्यों लड़ रहे हो. हम सब भारतवासी हैं. हम सब आपस में लड़ेंगे तो कोरोना से कैसे जीतेंगे?

और पढ़ें: दिल्ली: जीबी पंत अस्पताल ने जारी किया ऐसा आदेश, बवाल बढ़ने पर यू-टर्न

केजरीवाल ने आगे कहा कि आज से 17 साल पहले मैंने राशन माफिया के खिलाफ आवाज़ उठाई थी. तब हमने हिम्मत की तो हम पर 7 बार हमले हुए और 1 बार हमारी 1 बहन का गला काट दिया पर वो बच गई. तब हमने कसम खाई थी इसे बदलने की ,तब तो सोचा भी नहींं था की मुख्यमंत्री बनूंगा. घर घर राशन व्यवस्था लागू हो जाती तो ये राशन माफिया खत्म हो जाता. उन्होंने ये भी कहा कि पिछले 75 सालों से जनता के नाम का राशन जारी तो होता है पर मिलता नहीं है.  ये राशन माफिया बहुत ताकतवर हैं.

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आपने (पीएम मोदी) ये कह कर ये स्कीम रोकी की हमने केंद्र सरकार की मंजूरी नहीं ली लेकिन ये गलत है.  हमने 5 बार आपका अप्रूवल लिया है.  मार्च के महीने में अपने जो जो ऑब्जेक्शन लगाए. उन्हें ठीक किया. हमने स्कीम से नाम भी हटा लिया, हमें अपना नाम नहीं चमकाना हैं. सब आपत्ति खत्म होने के बाद भी आपने ये योजना खारिज कर दी.

केजरीवाल ने केंद्र से सवाल पूछते हुए कहा कि और कैसे अप्रूवल लें...? लोग पूछ रहे हैं अगर इस देश में पिज्जा, बर्गर, स्मार्ट फोन की होम डिलीवरी हो सकती है तो राशन की होम डिलीवरी क्यों नहीं हो सकती?

 उन्होंने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि हाईकोर्ट ने राशन दुकान दारों को स्टे नहीं दिया तो आप लोगों ने योजना पर स्टे क्यों लगा दिया. आप राशन माफिया से मिले हुए हो.

ये भी पढ़ें: 'घर-घर राशन योजना' पर केंद्र का स्पष्टीकरण, 'राशन देने से नहीं रोका'

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि आपने कहा राशन डीलरों ने कोर्ट में केस है इसलिए इस खत्म कर रहे हैं.  जब हाइकोर्ट स्टे नहीं दिया तो आपने क्यों इसे रोक दिया.  आप इनके साथ क्यों खड़े हैं सर. कोर्ट में केंद्र पर भी पार्टी है. कोर्ट में एक भी आपत्ति नहीं तो कोर्ट के बाहर क्यों आपत्ति है?

उन्होंने ये भी कहा कि  कोरोना में लोग राशन लेने जाने में डरते हैं. अगर उनके घर जाएगी तो क्या परेशानी है इसमें. कोरोना काल में पूरे देश में घर घर राशन पंहुचाने की योजना शुरू कर दीजिए. राशन की दुकानें सुपर स्प्रेडर हैं. बुजुर्ग, गर्भवती महिलाएं राशन लेने नहीं जाती.

दिल्ली सरकार के मुताबिक दिल्ली में राशन की डोर स्टेप डिलीवरी योजना को केंद्र सरकार ने शुरू होने से पहले ही रोक दिया है. दिल्ली के 72 लाख से अधिक लाभार्थियों को लाभान्वित करने वाली इस योजना में एक बार फिर रुकावट आ गई है. 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 06 Jun 2021, 11:08:32 AM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.