News Nation Logo
Banner

दिल्ली में कोरोना का कहर जारी, 24 घंटे में 40 मरीजों की मौत, 1849 नए मामले आए सामने 

दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1849 मामले सामने आए हैं. कुल मामले 3,11,188 हो गए हैं. पिछले 24 घंटे में 40 मरीजों की मौत हो गई है. 

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 12 Oct 2020, 10:31:27 PM
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1849 मामले सामने आए हैं. कुल मामले 3,11,188 हो गए हैं. पिछले 24 घंटे में 40 मरीजों की मौत हो गई है. अब तक कुल 5809 लोगों की मौत हुई है. पिछले 24 घंटे में 2975 लोग ठीक हुए और अब तक कुल 2,84,844 लोग ठीक हो चुके हैं. बीते 24 घंटे में (आरटीपीसीर- 10,260 एंटीजन- 25,687) कुल 35,947 कोरोना टेस्ट हुए हैं. संक्रमण दर 5.14 फीसदी है. रिकवरी रेट 91.53 फीसदी. सक्रिय मरीज़ों की दर 6.59 फीसदी. कोरोना डेथ रेट 1.87 फीसदी. सक्रिय मरीजों की संख्या 20,535 है. होम आइसोलेशन में मरीजों की संख्या 12,385 है. कंटेंमेंट जोन की संख्या 2726 है. दिल्ली में अब तक कुल 36,59,366 टेस्ट हुए हैं. 

वहीं केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि भारत सरकार कोरोना वायरस टीके को लेकर कोई झूठा ऐलान नहीं कर रही है. वह संडे संवाद कार्यक्रम में एक सवाल का जवाब दे रहे थे. जब केंद्रीय मंत्री से पूछा गया कि वैक्‍सीन को लेकर सरकार ने पहले 15 अगस्‍त की तारीख दी, फिर कहा कि 2020 के आखिर तक आएगी. क्‍या सरकार ये घोषणाएं केवल लोगों को लुभाने के लिए कर रही है?. इस पर डॉक्टर हषवर्धन ने कहा कि वैक्‍सीन डेवलपमेंट में बहुत वक्त लगता है. 

य़ह भी पढ़ें : अलवर में नाबालिग लड़की को मारी गोली, प्रियंका-राहुल अब भी चुप?

वहीं, एक और व्यक्ति ने पूछा कि क्‍या सरकार कोरोना का टीका लगवाने के लिए मजबूर कर बिल गेट्स का एजेंडा बढ़ा रही है. इस शख्‍स ने सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के बिल गेट्स फाउंडेशन से टाईअप करने पर सवाल उठाए. उसने कहा कि हमारे यहां मृत्‍यु-दर इतनी कम है तो क्‍या सरकार को वाकई वैक्‍सीन की जरूरत है या वह केवल बिल गेट्स का एजेंडा बढ़ा रही है? इसके जवाब में हर्षवर्धन ने कहा कि प्रभावी वैक्‍सीन ही किसी बीमारी को रोकने का सबसे कारगर जरिया है.  उन्‍होंने कहा कि इसी वजह से न सिर्फ भारत, बल्कि दुनियाभर में सरकारी और प्राइवेट साझेदारियां हुई हैं ताकि वैक्‍सीन जल्‍द मिल सके.

यह भी पढ़ें : PM Narendra Modi आज करेंगे संपत्ति कार्ड का वितरण

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन से पूछा गया कि जब कोई वैक्‍सीन फाइनल नहीं हुई है तो तैयारियां क्‍यों की जा रही हैं.? ऐसा केवल लोगों को झूठी उम्‍मीद देने के लिए किया गया है.? इस सवाल के जवाब में हर्षवर्धन ने कहा कि इसकी उम्मीद है कि वैक्‍सीन सीमित मात्रा में सप्‍लाई होगी. उन्‍होंने कहा कि भारत जैसे बड़े देश में प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण की तैयारी करना जरूरी है, न कि एक लाइन से सबको टीका लगाना. हर्षवर्धन ने कहा कि कोल्‍ड चैन और इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर से जुड़ी अन्‍य चीजें इसलिए सुनिश्चित की जा रही हैं ताकि जब उनकी जरूरत पड़े तो कोई दिक्‍कत न आए.

 

First Published : 12 Oct 2020, 10:28:23 PM

For all the Latest States News, Delhi & NCR News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो