News Nation Logo

वैक्सीन की उपलब्धता के हिसाब से वैक्सीन खरीदेगी छत्तीसगढ़ सरकार

21 जून तक कि स्थिति पर बोले स्वास्थ्य मंत्री - अभी स्थिति अस्पष्ट है, अभी जो वैक्सीन की उपलब्धता है उसके हिसाब से राज्य सरकार को फिर वैक्सीन खरीदनी पड़ेगी, कल बैठक करके निर्णय लेंगे. 

News Nation Bureau | Edited By : Ritika Shree | Updated on: 08 Jun 2021, 05:09:19 PM
Chhattisgarh government

Chhattisgarh government (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • अभी जो वैक्सीन की उपलब्धता है उसके हिसाब से राज्य सरकार को फिर वैक्सीन खरीदनी पड़ेगी
  • टीकाकरण के बाद सीजी टीका एप बन्द हो जाएगा
  • विधायकों से विधायक निधि से लिये पैसे को वापस कर सकती है सरकार

छत्तीसगढ़:

कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर से उबरने के बाद देश में अब हालात संभलने लगे हैं. वायरस की रफ्तार पर काबू पाने के बाद देश अनलॉक के दौर में चला गया है. धीरे धीरे कोरोना पाबंदियों को हटाया जा रहा है. लोगों का कामकाज फिर से पटरी पर लौटने लगा है. दिल्ली, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश समेत कुछ राज्यों में आज से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो रही है, जिसमें कुछ और बंदिशों को हटा दिया गया है. देश में कोरोना की रोकथाम के लिए वैक्सीनेशन अभियान भी तेजी से चल रहा है. छत्तीसगढ़ में 21 जून तक कि स्थिति पर स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव बोले - अभी स्थिति अस्पष्ट है, अभी जो वैक्सीन की उपलब्धता है उसके हिसाब से राज्य सरकार को फिर वैक्सीन खरीदनी पड़ेगी, कल बैठक करके निर्णय लेंगे.  स्वास्थ्य मंत्री ने आगे कहा जब तक राज्य सरकार का टीकाकरण चलेगा तब तक सीजी टीका एप रहेगा, जैसे ही राज्य के प्रत्येक नागरिक को टीका लग जायेगा उसके बाद ही सीजी टीका एप बन्द हो जाएगा. वही विधायकों से विधायक निधि से लिये पैसे पर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा इसका निर्णय मुख्यमंत्री को लेना है, संभवत विधायकों के फंड को वापस कर सकती है सरकार, अभी तक विधायक निधि के 180 करोड़ में से 27 करोड़ के आसपस खर्चा हुआ है.

यह भी पढ़ेः कोरोना का डेल्टा वेरिएंट और खतरनाक, अब गैंगरीन बहरापन जैसे लक्षण

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने की दो बड़ी घोषणाएं :

गरीब परिवारों को जुलाई से नवम्बर तक पांच माह का मिलेगा निःशुल्क चावल, राज्य खाद्य सुरक्षा अधिनियम में जारी सभी कार्डों को पीएम गरीब कल्याण योजना के समकक्ष दिया जाएगा अतिरिक्त चावल, मई और जून माह का भी चावल निःशुल्क दिया गया है . मुख्यमंत्री के इस पहल का स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने स्वागत किया है.

यह भी पढ़ेः अब आबादी, टीकाकरण दर देख दी जाएगी वैक्सीन, केंद्र की नई गाइडलाइंस

बता दें कि पिछले दिनों छत्तीसगढ़ सरकार ने कहा है कि राज्य के 10,000 से अधिक गांव पूरी तरह से कोविड मुक्त हैं क्योंकि या तो वहां वायरस नहीं पहुंच पाया है या संक्रमित लोग पहले ही ठीक हो चुके हैं. इसमें कहा गया है कि इन गांवों में संक्रमण को रोकने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा उठाए गए त्वरित उपायों के कारण वर्तमान में इन गांवों में एक भी कोविड -19 मामला नहीं है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 08 Jun 2021, 05:09:19 PM

For all the Latest States News, Chhattisgarh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.