News Nation Logo
Banner

अमित शाह की वर्चुअल रैली के विरोध में RJD पीटेगी थाली-कटोरा, वामदलों का विश्वासघात-धिक्कार दिवस

बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल जहां अमित शाह की रैली का थाली-कटोरा पीटकर विरोध करेगी, वहीं वामदल फिजिलकल प्रोटेस्ट करेंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 07 Jun 2020, 08:31:52 AM
RJD

शाह की रैली के विरोध में RJD पीटेगी कटोरा, वामदल भी करेंगे प्रदर्शन (Photo Credit: फाइल फोटो)

पटना:

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) को लेकर भारतीय जनता पार्टी के प्रचार अभियान की आज से शुरुआत होने जा रही है. केंद्रीय गृह मंत्री और बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) आज वीडियो कांफ्रेंस और फेसबुक लाइव के माध्यम वर्चुअल रैली कर पार्टी का चुनावी बिगुल फूंकेंगे. उधर, इस रैली का विरोध करने के लिए विपक्षी दलों ने भी रणनीति बना ली है. बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (Rashtriya Janata Dal) जहां अमित शाह की रैली का थाली-कटोरा पीटकर विरोध करेगी, वहीं वामदल फिजिलकल प्रोटेस्ट करेंगे. शाह की वर्चुअल रैली के विरोध में राजद आज 'गरीब अधिकार दिवस' और वामदल 'विश्वासघात-धिक्कार दिवस' के तौर पर मनाएंगे.

यह भी पढ़ें: बिहार विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी आज फूंकेगी बिगुल, अमित शाह करेंगे वर्चुअल रैली

बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव का आरोप है कि लोग कोरोना वायरस संक्रमण और भूख से मर रहे हैं, लेकिन बीजेपी रैली कर रही है. उन्होंने ऐलान किया था कि बीजेपी की संवेदनहीनता के प्रतिकार में राजद भी अब 7 जून ही 'गरीब अधिकार दिवस' मनाएगी. तेजस्वी ने राजद कार्यकर्ताओं से कहा कि सभी कार्यकर्ता, समर्थक और बिहारवासी 7 जून को अपने-अपने घर के बाहर सुबह 11 बजे थाली-कटोरा बजाएं.

यह भी पढ़ें: बिहार में महागठबंधन टूटने के आसार, ये नेता अलग मोर्चा बनाने की तैयारी में

राजद के बाद अब वामदल भी अमित शाह की वर्चुअल रैली के विरोध में आज 'विश्वासघात-धिक्कार दिवस' मनाएंगे. वामदलों ने आरोप लगाया कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की वर्चुअल रैली जले पर नमक छिड़कने के जैसा है, इसलिए वामदल इस दिन विश्वासघात-धिक्कार दिवस मनाएंगे और वर्चुअल रैली के प्रतिवाद में फिजिलकल प्रोटेस्ट का आयोजन पूरे राज्य में किया जाएगा, इस दौरान भोजन, रोजगार और कोरोना से सुरक्षा की गारंटी करो के नारे लगाए जाएंगे.

यह भी पढ़ें: एडीजी की चिट्टी पर बिहार में बवाल, RJD ने पार्टी दफ्तर के बाहर लगाए होर्डिंग, नीतीश से पूछे यह सवाल

गौरतलब है कि राज्य में बीजेपी, जदयू और लोजपा का गठबंधन है. राजद, कांग्रेस और अन्य दलों का गठबंधन सत्ताधारी राजग को विधानसभा चुनाव में चुनौती देगा. वर्ष 2015 के विधानसभा चुनाव में राजग को राजद-जदयू-कांग्रेस के महागठबंधन से हार मिली थी, लेकिन नीतीश कुमार ने 2017 में अपनी राह अलग कर ली और चार साल के अंतराल के बाद फिर से भगवा पार्टी से हाथ मिला लिया था. 2020 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी पहले ही ऐलान कर चुकी है कि इस बार का चुनाव नीतीश कुमार की अगुआई में लड़ा जाएगा.

यह वीडियो देखें: 

First Published : 07 Jun 2020, 08:31:52 AM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.